Saturday, May 25, 2024
Homeदेश-समाजबस जिंदा है तनिष्का शर्मा, शरीर में अब भी फँसी हैं 6 गोलियाँ-अंदरूनी अंगों...

बस जिंदा है तनिष्का शर्मा, शरीर में अब भी फँसी हैं 6 गोलियाँ-अंदरूनी अंगों को भारी क्षति: जा रही थी ससुराल, मोहम्मद साहिल ने किया था हमला

दुल्हन अपने मायके सांपला से विदा होकर ससुराल भाली जा रही थी। इसी दौरान हमलावर कार से आए घटना को अंजाम दिया था। जाते समय हमलावरों ने दूल्हे के भाई की सोने की चेन भी छीन ली थी। मुख्य आरोपित साहिल पर लूट, स्नैचिंग, बाइक चोरी समेत लगभग आधे दर्जन केस दर्ज हैं।

हरियाणा के रोहतक जिले के गाँव भाली में 1 दिसंबर 2021 को ससुराल जा रही दुल्हन तनिष्का शर्मा को मोहम्मद साहिल ने गोलियों से भून दिया गया था। गंभीर हालत में तनिष्का शर्मा को अस्पताल भर्ती करवाया गया था। लम्बे जद्दोजहद के बाद उनकी जान तो बच गई, लेकिन उनके आंतरिक अंगों पर बुरा असर पड़ा है। तनिष्का के शरीर में अभी भी 6 गोलियाँ मौजूद हैं। उन्हें निकाला नहीं जा सका है। वो ठीक से चलने में भी असमर्थ हैं।

जनसहयोग से हुआ तनिष्का का इलाज

इस घटनाक्रम को लेकर ऑपइंडिया ने तनिष्का के पिता ओम प्रकाश से बात की। ओम प्रकाश ने बताया, “तनिष्का खुद से जैसे-तैसे उठ-बैठ रही है। वो अपनी नित्य क्रिया आदि भर के लिए ही ठीक हो पाई है, लेकिन चोटों से अभी पूरी तरह से उबर नहीं पाई है। उसका इलाज गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में चल रहा है। बीच में कोरोना के चलते इलाज में देरी हुई। तब डॉक्टरों ने घर पर ही सेवा आदि करने के लिए कहा था। अब अगले हफ्ते तनिष्का को फिर से अस्पताल के डाक्टरों ने बुलाया है। इस बार जाँच होगी, तभी वे बता पाएँगे कि वो कब तक स्वस्थ होगी। इलाज में जो भी खर्च हुआ वो जन सहयोग से आया है। दीपेंद्र हुड्डा की माता आशा हुड्डा ने भी इलाज में हमें आर्थिक सहयोग दिया है।”

ओम प्रकाश ने आगे बताया, “मुख्य आरोपित अभी भी जेल में है। यह केस रोहतक के बहू थाने में दर्ज हुआ था। पुलिस ने इस केस में 5 हमलावरों को पकड़ा था, जिनमें 3 नाबालिग बताए गए थे। मैंने तो हमलावरों को आज तक देखा भी नहीं है। आरोपित तेली था, जो मुस्लिमों में भी होते हैं।” उन्होंने बताया कि उन पर किसी तरह का दबाव नहीं है।

पुलिस अधिकारी बनना चाहती हैं तनिष्का

ऑपइंडिया ने इस मामले की जानकारी के लिए तनिष्का के पति मोहन से बात की। मोहन ने बताया, “तनिष्का का सपना पुलिस अधिकारी बनने का है। तनिष्का के शरीर में अभी भी गोलियाँ मौजूद हैं। हालाँकि अभी तनिष्का खतरे से बाहर हैं, लेकिन उनकी हालत पूरी तरह से ठीक नहीं हुई है। पुलिस कार्रवाई की पूरी जानकारी मुझे नहीं है। पुलिस अपना काम कर रही है। जिसने गोली मारी थी वो अभी तक जेल में है।”

ऑपइंडिया ने इस संबंध में बहू थाने के SHO से भी बात की। SHO ने बताया, “इस केस में 5 आरोपित थे। इनमें से 3 नाबालिग थे। 3 लड़कों पर धारा 307, 389 B, 341, 506 और आर्म्स एक्ट लगाया गया है। बाकी 2 अन्य आरोपितों पर 120B के तहत केस दर्ज किया गया है। इन पाँचों आरोपितों की अभी तक जमानत नहीं हो पाई है। इस केस की विवेचना समाप्त हो गई है। चार्जशीट अगले सप्ताह तक लगा दी जाएगी।”

तनिष्का केस को कहा गया था निकिता तोमर पार्ट 2

गौरतलब है कि इस घटना को निकिता तोमर पार्ट 2 कहा जाने लगा था। दुल्हन अपने मायके सांपला से विदा होकर ससुराल भाली जा रही थी। इसी दौरान हमलावर कार से आए और भाली गाँव के शिव मंदिर के पास घटना को अंजाम दिया था। जाते समय हमलावरों ने दूल्हे के भाई की सोने की चेन भी छीन ली थी। मुख्य आरोपित साहिल पेशेवर अपराधी है। उस पर लूट, स्नैचिंग, बाइक चोरी समेत लगभग आधे दर्जन केस दर्ज हैं। एक केस में वह अदालत से भगोड़ा भी घोषित था। घटना की वजह एकतरफा प्रेम प्रसंग बताई गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

CM केजरीवाल के घर कहाँ हुआ क्या-क्या… दिल्ली पुलिस ने सब सीन री-क्रिएट करवाए, विभव कुमार ने बचने को डाली जमानत याचिका

दिल्ली पुलिस विभव कुमार को मुख्यमंत्री आवास भी लेकर पहुँची, जहाँ स्वाति मालीवाल के साथ हुई घटना का पूरा सीन रिक्रिएट किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -