Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजआजमगढ़: मोबाइल पर धमकी, फिर मुस्लिमों ने बोला हमला, महिलाओं और बच्चों को भी...

आजमगढ़: मोबाइल पर धमकी, फिर मुस्लिमों ने बोला हमला, महिलाओं और बच्चों को भी नहीं छोड़ा

लाठी-डंडों के साथ धारदार हथियारों से लैस आरोपितों ने घर में मौजूद महिलाओं और बच्चों के साथ भी मारपीट की और फिर वहाँ से फरार हो गए। दो समुदाय के बीच हुए विवाद की सूचना मिलते ही महाराजगंज थाना सहित कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुँची।

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिला में एक मामूली बात पर कहासुनी के बाद मुस्लिमों ने एक हिंदू के घर पर हमला कर दिया। धारदार हथियारों से किए गए हमले में 12 से अधिक लोग घायल हो गए। मामले में 10 अज्ञात सहित 19 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने पाँच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक आजमगढ़ जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर आयमा गाँव में बुधवार (10 जून, 2020) की देर शाम जयभीम को मोबाइल पर मिली धमकी को लेकर दो समुदाय के बीच कहासुनी हो गई। इसके बाद मुस्लिम समुदाय के लोगों ने इकट्ठा होकर दूसरे पक्ष के घर पर हमला बोल दिया।

इस दौरान लाठी-डंडों के साथ धारदार हथियारों से लैस आरोपितों ने घर में मौजूद महिलाओं और बच्चों के साथ भी मारपीट की और फिर वहाँ से फरार हो गए। दो समुदाय के बीच हुए विवाद की सूचना मिलते ही महाराजगंज थाना सहित कई थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुँची।

एसपी ग्रामीण एनपी सिंह ने बताया कि दो पक्षों में किसी बात को लेकर मारपीट हुई है। नौ लोगों को नामजद किया गया है। पाँच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। चार अन्य को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

वहीं थानाध्यक्ष महाराजगंज के मुताबिक मामूली सी बात को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। विनोद कुमार की तहरीर पर 19 लोगों के खिलाफ में मुकदमा दर्ज किया गया है, जिनमें से पाँच को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही कुछ लोगों से मामले को लेकर पूछताछ की जा रही है। जल्द ही सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। गाँव में फिलहाल शांति है। फिर भी कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए गाँव में पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है।

अमर उजाला की खबर के मुताबिक भारी पुलिस बल की तैनाती से गाँव में सन्नाटा पसरा हुआ है। वहीं घटना के पीछे बच्चों के बीच खेलकूद में हुए विवाद को बताया जा रहा है, जबकि कुछ लोगों में प्रेम-प्रसंग की भी चर्चा है।

इससे पहले जौनपुर जिले के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के गाँव भदेठी में मंगलवार (9 जून, 2020) को गाँव के ही शहबाज नामक लड़के का दलित बस्ती के बच्चों से बकरियाँ चराने को लेकर विवाद हो गया था। इसके बाद दोनों समुदाय के लोगों में दिन में कहासुनी हो गई। देर रात में मुस्लिम पक्ष के सैकड़ों लोगों ने मिलकर लाठी-डंडों से लैस दलित बस्ती में हमला बोल दिया था और कई घरों को आग के हवाले कर दिया था। इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सीएम योगी ने आरोपितों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हलाल है या झटका… मीट की दुकान के बाहर लिखो: जयपुर नगर निगम ने जारी किया आदेश, शिव मंदिर के पास और काँवड़ियों के...

जयपुर नगर निगम ने कावंडियों के रास्ते में और शिव मंदिर के निकट खुले में मीट बिक्री पर रोक लगाने की बात कही है।

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -