Thursday, May 30, 2024
Homeदेश-समाजबंगाल: भाजपा बूथ अध्यक्ष को मारी गोली, पार्टी ने कहा- TMC के गुंडों ने...

बंगाल: भाजपा बूथ अध्यक्ष को मारी गोली, पार्टी ने कहा- TMC के गुंडों ने दिया अंजाम

भाजपा बूथ अध्यक्ष संजय दास को गोली लगने के बाद एक चाय की दुकान के पास जमीन पर गिरे हुए पाया गया।

पश्चिम बंगाल के नदिया जिला स्थित हरिन्घता में एक भाजपा नेता को गोली मार दी गई। इस वारदात में भाजपा नेता की जान तो किसी तरह बच गई, लेकिन वो बुरी तरह घायल हो गए। बंगाल पुलिस ने रविवार (मार्च 7, 2021) को इस घटना की जानकारी दी। भाजपा नेता संजय दास को कपिलेश्वर संतोषपुर में एक चाय की दुकान के पास जमीन पर गिरे हुए पाया गया, जिसके बाद लोग उन्हें आनन-फानन में अस्पताल लेकर गए।

संजय दास हरिन्घता के वार्ड संख्या 10 में भाजपा के बूथ अध्यक्ष हैं। पुलिस ने बताया है कि अब उनकी स्थिति खतरे से बाहर है। भाजपा ने तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) को इस घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया है। पार्टी की स्थानीय यूनिट ने कहा कि TMC द्वारा पाले गए गुंडों ने इस वारदात को अंजाम दिया। वहीं तृणमूल ने इस आरोप को नकारते हुए कहा कि दो समूहों के बीच हुए झगड़े के कारण ऐसा हुआ।

पुलिस ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग 12 पर पेट्रोलिंग के दौरान जब वो रविवार को दोपहर 2:30 बजे एक चाय की दुकान के पास से गुजर रहे थे तो उन्होंने देखा कि कुछ लोग थोड़ी दूरी पर समूह बना कर जमीन पर बैठे हुए थे। पुलिसकर्मियों को देखते हुए वहाँ एक को छोड़ कर बाकी सारे भाग खड़े हुए। राणाघाट पुलिस जिले के एसपी VSR अनंतनाग ने ये जानकारी दी। पुलिस ने दावा किया है कि भाजपा नेता नशे में धुत थे।

उनका पूरा पाजामा खून से लथपथ हो गया था। पुलिस ने बताया कि उसी समूह में से एक व्यक्ति ने उन पर गोली चलाई जो सीधे जाकर उनके कमर में लगी। संजय दास के पिता ने शाम को इस मामले में नामजद आरोपितों के खिलाफ FIR दर्ज कराई। उन्होंने अपने बेटे के हवाले से बताया कि राजनीतिक बहस के बाद गोली चलाई गई है।

ये घटना ऐसे वक़्त में सामने आई है जब रविवार को ही बंगाल की अपनी पहली चुनावी रैली में कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में एक विशाल भीड़ के समक्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तृणमूल कॉन्ग्रेस पर राजनीतिक हिंसा का आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं के बलिदान को याद किया। उन्होंने 80 वर्ष की एक बूढ़ी महिला के घर में घुस कर किए गए हमले की जिक्र किया। उन्होंने कहा कि शायद ही बंगाल में कोई माँ है, जो इनकी करतूतों के कारण रोई न हो।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -