Saturday, October 1, 2022
Homeदेश-समाज8 महीने से चल रही थी अनबन, शिखर धवन नहीं चाहते थे टूटे शादी;...

8 महीने से चल रही थी अनबन, शिखर धवन नहीं चाहते थे टूटे शादी; अभी भी आयशा मुखर्जी को मनाने का कर रहे प्रयास: रिपोर्ट

करीबी के अनुसार बीते सात-आठ महीने से दोनों के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था। हालाँकि इसकी वजह स्पष्ट नहीं है। रिपोर्ट में कहा गया है कि तलाक की पहल आयशा की ओर से की गई।

आयशा मुखर्जी ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए भारत के स्टार क्रिकेटर शिखर धवन से तलाक लेने के बारे में बताया था। करीब नौ साल बाद दोनों की राहें जुदा होने की वजह अभी तक स्पष्ट नहीं है। पूरे मामले पर धवन की प्रतिक्रिया भी अब तक सामने नहीं आई है। इस बीच एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दोनों के संबंध बीते आठ महीने से बिगड़े हुए थे। लेकिन धवन नहीं चाहते थे कि शादी टूटे।

दैनिक भास्कर ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि शिखर के एक करीबी ने उन्हें नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया है कि दोनों के बीच बीते दिसंबर तक सब कुछ ठीक चल रहा था। लॉकडाउन की शुरुआत में शिखर ने आयशा के साथ फोटो और वीडियो शेयर कर भी लोगों को घर में रहने की सलाह दी थी। करीबी के अनुसार बीते सात-आठ महीने से दोनों के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था। हालाँकि इसकी वजह स्पष्ट नहीं है। रिपोर्ट में कहा गया है कि तलाक की पहल आयशा की ओर से की गई। इससे पहले शिखर ने शादी बचाने के प्रयास किए। बाद में वे भी तलाक के लिए राजी हो गए।

यह भी दावा किया जा रहा है कि तलाक के बावजूद शिखर धवन की कोशिश सब कुछ ठीक करने की है। यही कारण है कि अब तक उन्होंने इस मामले पर चुप्पी साध रखी है। आयशा के तलाक वाले पोस्ट के बाद शिखर ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट किया था जिसमें वह आईपीएल की जर्सी पहने नजर आ रहे हैं। पर इसमें तलाक को लेकर कुछ नहीं कहा था। इस पोस्ट में उन्होंने लिखा था, “किसी भी मुकाम को पाने के लिए पूरा जान, समझ, दिल लगता है। प्यार अपने काम के प्रति होनी चाहिए तभी बरकत आती है और खुशी भी मिलती है। अपने सपनों को हकीकत बनाने के लिए कड़ी मेहनत करते ​रहिए।”

इससे पहले आयशा ने एक लंबे और भावुक पोस्ट में लिखा था, “मैं समझती थी कि तलाक एक गंदा शब्द है, जब तक कि मैं 2 बार तलाकशुदा नहीं हो गई।” साथ ही उन्होंने अपने पहले तलाक के वक्त के अनुभवों को भी साझा किया था। उन्होंने लिखा, “पहली बार जब मैं तलाक से गुज़री तो मैं बहुत डर गई थी और मुझे लगा जैसे मैं असफल हो गई थी और उस दौरान कुछ गलत कर रही थी। मुझे लगा जैसे मैंने सभी को नीचा दिखाया है और यहाँ तक ​​कि खुद को स्वार्थी भी महसूस किया है। मुझे लगा कि मैं अपने माता-पिता को निराश कर रही हूँ। मुझे यह भी लगा कि मैं अपने बच्चों को निराश कर रही हूँ। उस दौरान मुझे ऐसा लगता था कि मैंने भगवान का अपमान कर दिया है।”

गौरतलब है कि मेलबर्न में रहने वाली आयशा से शिखर की मुलाकात हरभजन सिंह ने करवाई थी। सोशल मीडिया से दोनों करीब आए और 2012 में शादी कर ली। यह आयशा की दूसरी शादी थी। पहली शादी से उनकी दो बेटी है। वहीं शिखर के साथ उनका सात साल का एक बेटा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दुर्गा पूजा कार्यक्रम में गरबा करता दिखा मुनव्वर फारूकी, सेल्फी लेने के लिए होड़: वीडियो आया सामने, लोगों ने पूछा – हिन्दू धर्म का...

कॉमेडी के नाम पर हिन्दू देवी-देवताओं को गाली देकर शो करने वाला मुनव्वर फारुकी गरबा के कार्यक्रम में देखा गया, जिसके बाद लोग आक्रोशित हैं।

धर्म ही नहीं जमीन भी गँवा रहे हिंदू: कब्जे की भूमि पर चर्च-कब्रिस्तान से लेकर मिशनरी स्कूल तक, पहाड़ों का भी हो रहा धर्मांतरण

जमीनी स्थिति भयावह है। सरकारी से लेकर जनजातीय समाज की जमीनों पर ईसाई मिशनरियों का कब्जा है। अदालती आदेशों के बाद भी जमीन खाली नहीं हो रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,570FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe