Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजजज, ज्यूरी और जल्लाद… सब कुछ खुद बन जाता है ताजेमुल: जानिए बंगाल के...

जज, ज्यूरी और जल्लाद… सब कुछ खुद बन जाता है ताजेमुल: जानिए बंगाल के तालिबानी को क्यों कहते हैं JCB, पीड़ित महिला बोलीं- मेरी मर्जी के बिना वीडियो बनाया

ताजेमुल को उसके काम करने के तरीके के कारण 'जेसीबी' कहा जाता है। एक रिपोर्ट में स्थानीयो से बात करने के बताया गया कि कि चूँकि ताजेमुल का एक्शन एकदम जेसीबी की तरह ही काम करता है इसलिए उसे लोग जेसीबी कहने लगे।

पश्चिम बंगाल में महिला का सरेआम उत्पीड़न करने वाला ताजेमुल हक इस समय सुर्खियों में है। उसकी गिरफ्तारी के बाद जहाँ उसकी कुछ अन्य वीडियो सामने आ रही हैं तो वहीं ये भी सवाल हो रहा है कि आखिर उसे ‘जेसीबी’ जैसे नाम से क्यों बुलाया जाता है, ये तो मशीन का नाम है जबकि ताजेमुल एक व्यक्ति है। इसके अलावा इस बीच उस महिला का भी बयान आया है जिसे ताजेमुल ने पीटा था।

न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक ताजेमुल को उसके काम करने के तरीके के कारण ‘जेसीबी’ कहा जाता है। एक रिपोर्ट में स्थानीयो से बात करने के बताया गया कि कि चूँकि ताजेमुल का एक्शन एकदम जेसीबी की तरह ही काम करता है इसलिए उसे लोग जेसीबी कहने लगे। स्थानीय ताजेमुल के अत्याचार को लेकर कई कहानियाँ भी सुनाते हैं।

बता दें कि ताजेमुल की गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर कई तरह की वीडियो आ रही हैं। एक वीडियो में ताजेमुल को महिला और उसके साथ एक व्यक्ति को हाथ-पाँव बाँधकर परेड करवाकर पीटते हुए दिखाया गया है।

इस वीडियो को भारतीय जनता पार्टी नेता और नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी ने भी एक वीडियो एक्स पर पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा, “सड़क पर न्याय का एपिसोड 2, जिसमेंटी एमसी नेता तजमुल उर्फ JCB जज, ज्यूरी और जल्लाद है…।” वहीं सीपीआईएम नेता मोहम्मद सलीम ने भी इस वीडियो को शेयर किया है। इस वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे जेसीबी ऐसे अपराध खुलेआम करता था।

मालूम हो कि एक तरफ ताजेमुल की नई वीडियो सामने आने के बाद सवाल हो रहे हैं कि आखिर उसने ऐसे काम और कितने लोगों के साथ किए होंगे तो वहीं जिस महिला की पिटाई की वीडियो वायरल होने के बाद वो गिरफ्तार हुआ है उस महिला का बयान भी मीडिया में आया है। महिला ने अपने साथ हुई ज्यादती पर बोलने की बजाय उस शख्स पर नाराजगी जताई है जिसने उसकी वीडियो बनाई थी और जिसकी वजह से ताजेमुल गिरफ्तार हो पाया।

महिला ने कहा– “मुझे नहीं पता कि आखिर किसने मेरी वीडियो ब मैंने इस संबंध में थाने में शिकायत दर्ज करवाई है जिसने भी मेरी मर्जी के बगैर उस वीडियो को वायरल किया। मैं पुलिस से अपील करती हूँ कि उसे उचित सजा मिले। मेरा पुलिस में पूरा विश्वास है।”

बता दें कि ताजेमुल का मुद्दा सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आने के गर्माया। इस वीडियो में वो महिला और उसके प्रेमी को बाँस के डंडे से पीटते हुए ताजेमुल दिखा था। वहीं उसका बचाव करते हुए चोपरा के विधायक हमीदुल रहमान ने कहा था कि ‘मुस्लिम राष्ट्र’ के कुछ आचार-विचार होते हैं। ऐसे में सवाल पूछे जाने लगे थे कि चैतन्य महाप्रभु और रामकृष्ण परमहंस की धरती क्या अब ‘मुस्लिम राष्ट्र’ है? शरिया भारत के लिए बड़ा खतरा बनता जा रहा है, जहाँ मनमाने ढंग से भारत के संविधान और कानून की धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -