Sunday, March 7, 2021
Home विचार राजनैतिक मुद्दे प्यारे मोदी-विरोधी चिलगोजों, PM ने ताली बजाने को कहा तो तुम्हारे अंतःपुर में खुजली...

प्यारे मोदी-विरोधी चिलगोजों, PM ने ताली बजाने को कहा तो तुम्हारे अंतःपुर में खुजली क्यों हो रही है?

ये ध्वनि न केवल मोदी द्वारा राष्ट्र रक्षकों के सम्मान के लिए है, बल्कि तुम हरे-पिले और 'चिलगोजों' के दिलों-दिमाग के लिए भी फायदेमंद है। लेकिन, तुम्हें तो मोदी-विरोध करना है, अब भले चाहे तुम्हारा दिमाग खराब रहे, दिल-गुर्दे फ्यूज हो जाएँ या फिर तुम्हारे अंतःपुर में खुजली होती रहे।

“देख लो साथियों, जहाँ ट्रम्प और जिनपिंग ने कोरोना से बचने को करोड़ों खर्च कर डाले, वहीं हमारा फेकू मोदी भाषण से काम चला रहा है।”
“चीन, अमेरिका और यूरोपीय देशों ने क्या-क्या न किया कोरोना भगाने को और ये फासिस्ट मोदी हमसे घंटी बजवा रहा है।”
“सभी बड़े और समझदार देश इलाज बात कर रहे हैं और मूर्ख मोदी “जनता कर्फ्यू” लगवा रहा है।”

ये सब मैं नहीं बल्कि हमारे देश का ‘कामपंथी व चमनजी’ समाज कह रहा है। ये वह समाज है जिससे मोदी कह दें कि विष्ठा मलद्वार से करनी चाहिए तो वह अपने मुख से करने लगेगा। इनका ऑक्सीजन भी मोदी-विरोध है। इनका गड़बड़ाया पाचन तंत्र भी मोदी को गाली देकर दुरुस्त होता है। इस समाज के गाँजा और सेक्स लाइफ का एक्स फैक्टर है मोदी विरोध। घंटी वाली क्या बात कही मोदी ने? उन्होंने कहा था:

“डॉक्टर, नर्स, हॉस्पिटल स्टाफ, सैनिटेशन वर्कर, एयरलाइन्स कर्मचारी, सरकारी कर्मचारी, पुलिस बल, मीडिया कर्मचारी, ट्रेन, बस/ऑटो ऑपरेटर और होम डिलिवरी से सम्बद्ध लोग- इन सबों ने हमारे लिए अपनी जान जोखिम में डाल कर और निस्वार्थ होकर हमें जो सेवाएँ दी हैं, वो साधारण कार्य नहीं है। ये सभी लोग हमारे और कोरोना के बीच राष्ट्र के रक्षक के रूप में मजबूती से खड़े हैं। राष्ट्र इन सभी का आभारी है। मेरी इच्छा है कि 22 मार्च रविवार को हम ऐसे सभी लोगों का आभार व्यक्त करें। रविवार को ठीक 5 बजे, हम सभी अपने घरों के दरवाजे, बॉलकनी खिड़कियों पर खड़े हों और 5 मिनट का स्टैंडिंग ओवेशन दें। हम अपने हाथों से तालियाँ बजा कर, बर्तन पीट कर या घंटियाँ बजा कर इन सबकी सेवा को सलाम करें।”

अब आप बताइए की ‘चमनजी’ और कामपंथियों की सभी शाखाओं को किसी की सेवा के प्रति आभार जताने से भी आपत्ति है। कोई तुम्हारी जान के लिए अपनी जान जोखिम में डाल रहा है और तुम्हें उन्हें सल्यूट करने पर आपत्ति है? देखो ‘चमनाधिपतियों’ और कॉन्ग्रेस+वामपंथ के गठबंधन से बने ‘कामपंथियों’, अपना स्टैंड क्लियर करो। ऐसे राष्ट्र-रक्षकों को सम्मान मिलने से समस्या क्या है तुम्हें या फिर घंटी, तालियों और बर्तन की आवाज से दिक्कत है? यूँ तो आपलोग बहुत पढ़ते हो (हालाँकि, ‘कामशास्त्र और सूराशास्त्र’ के अलावा क्या पढ़ते हो- मुझे नहीं पता)। लेकिन आओ, इसी बहाने कुछ ज्ञान की बातें बताता जाऊँ।

थोड़ा पल्मिस्ट्री और थोड़ा एक्यूप्रेशर पढ़ोगे तो ज्ञान पाओगे कि ताली बजाने से न केवल शरीर का ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है बल्कि, यह हार्ट, साँस सम्बन्धी समस्याओं को भी कम करता है। इससे डायबेटिक्स को भी आराम मिलता है। जिन्होंने अब तक कोरोना को पढ़ा व समझा होगा, उन्होंने इसमें होने वाली साँस सम्बन्धी समस्या और डायबेटिक्स वालों के खतरे को भी पढ़ा ही होगा। यूँ तो ताली बजने से हुए एक्यूप्रेशर से बैक, नेक और ज्वाइंट पेन भी ठीक होता है, डिप्रेशन भी कम होता और बच्चों का दिमाग दुरुस्त होता है, लेकिन तुम लोगों का क्या? तुम्हारा तो दिमाग अब न बच्चों का रहा और न बचा हुआ।

अब आओ बताता हूँ कि बर्तन पीटने और घंटियाँ बजाने का क्या असर होता है। सबसे बड़ा फायदा तो तुम ‘चिलगोजों’ को ये मिलेगा कि इस ध्वनि से तुम्हारे अंदर की नेगेटिविटी कम होगी। हाँ! बर्तन, करताल और घंटियों में इस्तेमाल होने कुछ धातुओं को पीटने से जो स्पंदन उत्पन्न होता है वो 7-10 सेकंड तक हमारे कानों में लगातार पड़ता है। यह ध्वनि न केवल रिचुअल है, बल्कि हमारे शरीर पर इसके कई सारे सकारात्मक परिणाम भी हैं। जैसे, हमारी एकाग्रता का बढ़ना, हमारे लेफ्ट और राइट ब्रेन को बैलेंस्ड करना, आँखों देखी का ब्रेन द्वारा बेहतर और जल्द समझना, श्रवण शक्ति को समझने में सुधार, हार्ट की ब्लड पम्पिंग में बैलेंस, शरीर के सातों हीलिंग सेंटर को एक्टिवट करना।

हमारी सेंसिंग को बेहतर करना और हमारे मेन्टल डिसऑर्डर को ठीक करना भी इसके सकारात्मक परिणाम हैं। कुल मिलाकर ये ध्वनि न केवल मोदी द्वारा राष्ट्र रक्षकों के सम्मान के लिए है, बल्कि तुम हरे-पिले और ‘चिलगोजों’ के दिलों-दिमाग के लिए भी फायदेमंद है। लेकिन, तुम्हें तो मोदी-विरोध करना है। अब भले चाहे तुम्हारा दिमाग खराब रहे, दिल-गुर्दे फ्यूज हो जाएँ या फिर तुम्हारे अंतःपुर में खुजली होती रहे।

मोदी ने सरकारी व्यवस्थाएँ नहीं दुरुस्त की और भाषण देने आ गया। क्या कर दे मोदी उपलब्ध व्यवस्था और उसको भी न मानने वाले हम महान लोगों के लिए फिर? अपने मुँह में सैनिटाइजर लगा कर स्प्रे करे या फिर आकर जनता के हाथों पर साबुन मले? दुनिया कह रही है की प्रिवेंशन ही इलाज है इसका। कोई सरकार और कोई स्वास्थ्य सुविधा कुछ नहीं कर सकती इसका। फिर किसका इलाज नहीं हुआ अब तक देश में? किसको कहीं मरने को छोड़ दिया मोदी ने? प्यारे ‘चिलगोजों’, इस वायरस चेन को ब्रेक कर ही रोका जा सकता है। ये तो तुम्हें पता है न? तुम्हारे पास इस चेन ब्रेक के लिए 24 घंटे के जनता कर्फ्यू से बेहतर कोई उपाय हो तो कहो। मुँह से ही कहो न क्योंकि अब तक तो शायद मोदी ने ये कहा नहीं है- “मेरे प्यारे देशवासियों, हमें मुँह से बोलना चाहिए” कि तुम लोग कहीं और से बोलने लगो। तो मेरे प्यारों, समस्या के समाधान में हाथ नहीं बँटा सकते हो, ठीक है, चलेगा। मगर कुछ हो रहा उस पर हंगामा कर समस्या तो न बढ़ाओ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsdelhi corona, kejriwal corona, delhi lock down, kejriwal lock down, कोरोना से मौत, कोरोना मरीजों की संख्या, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल, ऑल इंडिया सूफी उलेमा काउंसिल जनता कर्फ्यू, west bengal, west bengal janta curfew, mamata banerjee janta curfew, west bengal corona virus, mamata banerjee corona virus, ममता बनर्जी जनता कर्फ्यू, बंगाल जनता कर्फ्यू, ममता बनर्जी कोरोना, बंगाल कोरोना, रमाकांत यादव सपा, रमाकांत यादव एफआईआर, रमाकांत यादव कोरोना, कोरोना इटली, इटली में फंसे भारतीय, जनता कर्फ्यू, janta curfew, नवरात्रि पर मोदी के नौ आग्रह, कोरोना बांग्लादेश, कोरोना ईरान, कोरोना भारतीय, कोरोना कर्नाटक, Covid-19, Coronavirus, coronavirus india, coronavirus news, coronavirus symptoms, coronavirus update, कोरोना वायरस, कोरोना वायरस इंडिया, इंडिया ट्रैवल बैन, इंडिया वीजा, कोरोना से मौत, कोरोना से भारत में पहली मौत, corona disater,Covid 19 disater, corona update, कोरोना वायरस अपडेट, कोरोना सार्क, कोरोना मोदी, Coronavirus SAARC, Corona कांग्रेस, कोरोना कांग्रेस, Corona राहुल गांधी, Corona आनंद शर्मा, कोरोना राहुल गांधी, कोरोना आनंद शर्मा, कोरोना से मौत, कोरोना के मरीज, कोरोना दवा, कोरोना टीका, कोरोना इलाज, कोरोना ट्रंप, कोरोना अमेरिका
Praveen Kumarhttps://praveenjhaacharya.blogspot.com
बेलौन का मैथिल

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सबसे बड़ा रक्षक’ नक्सल नेता का दोस्त गौरांग क्यों बना मिथुन? 1.2 करोड़ रुपए के लिए क्यों छोड़ा TMC का साथ?

तब मिथुन नक्सली थे। उनके एकलौते भाई की करंट लगने से मौत हो गई थी। फिर परिवार के पास उन्हें वापस लौटना पड़ा था। लेकिन खतरा था...

अनुराग-तापसी को ‘किसान आंदोलन’ की सजा: शिवसेना ने लिख कर किया दावा, बॉलीवुड और गंगाजल पर कसा तंज

संपादकीय में कहा गया कि उनके खिलाफ कार्रवाई इसलिए की जा रही है, क्योंकि उन लोगों ने ‘किसानों’ के विरोध प्रदर्शन का समर्थन किया है।

‘मासूमियत और गरिमा के साथ Kiss करो’: महेश भट्ट ने अपनी बेटी को साइड ले जाकर समझाया – ‘इसे वल्गर मत समझो’

संजय दत्त के साथ किसिंग सीन को करने में पूजा भट्ट असहज थीं। तब निर्देशक महेश भट्ट ने अपनी बेटी की सारी शंकाएँ दूर कीं।

‘कॉन्ग्रेस का काला हाथ वामपंथियों के लिए गोरा कैसे हो गया?’: कोलकाता में PM मोदी ने कहा – घुसपैठ रुकेगा, निवेश बढ़ेगा

कोलकाता के ब्रिगेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में अपनी पहली चुनावी जनसभा को सम्बोधित किया। मिथुन भी मंच पर।

मिथुन चक्रवर्ती के BJP में शामिल होते ही ट्विटर पर Memes की बौछार

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले मिथुन चक्रवर्ती ने कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में भाजपा का दामन थाम लिया।

‘ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ रामायण’ का शुभारंभ: CM योगी ने कहा – ‘जय श्री राम पूरे देश में चलेगा’

“जय श्री राम उत्तर प्रदेश में भी चलेगा, बंगाल में भी चलेगा और पूरे देश में भी चलेगा।” - UP कॉन्क्लेव शो में बोलते हुए सीएम योगी ने कहा कि...

प्रचलित ख़बरें

माँ-बाप-भाई एक-एक कर मर गए, अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने दिया: 20 साल विष्णु को किस जुर्म की सजा?

20 साल जेल में बिताने के बाद बरी किए गए विष्णु तिवारी के मामले में NHRC ने स्वत: संज्ञान लिया है।

मौलाना पर सवाल तो लगाया कुरान के अपमान का आरोप: मॉब लिंचिंग पर उतारू इस्लामी भीड़ का Video

पुलिस देखती रही और 'नारा-ए-तकबीर' और 'अल्लाहु अकबर' के नारे लगा रही भीड़ पीड़ित को बाहर खींच लाई।

‘40 साल के मोहम्मद इंतजार से नाबालिग हिंदू का हो रहा था निकाह’: दिल्ली पुलिस ने हिंदू संगठनों के आरोपों को नकारा

दिल्ली के अमन विहार में 'लव जिहाद' के आरोपों के बाद धारा-144 लागू कर दी गई है। भारी पुलिस बल की तैनाती है।

‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों में आई सायानी घोष TMC कैंडिडेट, ममता बनर्जी ने आसनसोल से उतारा

बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए टीएमसी ने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इसमें हिंदूफोबिक ट्वीट के कारण विवादों में रही सायानी घोष का भी नाम है।

आज मनसुख हिरेन, 12 साल पहले भरत बोर्गे: अंबानी के खिलाफ साजिश में संदिग्ध मौतों का ये कैसा संयोग!

मनसुख हिरेन की मौत के पीछे साजिश की आशंका जताई जा रही है। 2009 में ऐसे ही भरत बोर्गे की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी।

पिछले 1000-1200 वर्षों से बंगाल में हो रही गोहत्या, कोई नहीं रोक सकता: ममता के मंत्री सिद्दीकुल्लाह का दावा

"उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने यहाँ आकर कहा था कि अगर भाजपा सत्ता में आती है, तो वह राज्य में गोहत्या को समाप्त कर देगी।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,971FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe