Monday, October 26, 2020
Home बड़ी ख़बर 'चौकीदार चोर है' कहने वाले राहुल गाँधी को 23 मई के बाद चौकीदारों से...

‘चौकीदार चोर है’ कहने वाले राहुल गाँधी को 23 मई के बाद चौकीदारों से हो जाएगी ‘दहशत’

राहुल गाँधी आपके पास प्रमाणिक रूप से यह बताने के लिए कुछ भी नहीं है कि मोदी सरकार ने क्या गलतियाँ कीं, उससे देश को क्या नुक़सान हुआ और अगर आपकी सरकार आ गई, तो आप मोदी सरकार से क्या बेहतर करोगे?

आपको लड्डू अच्छे लगते हैं। आपने एक लड्डू लिया और बड़े चाव से खा लिया। आपको लड्डू बहुत ही ज्यादा अच्छे लगते हैं तो आपने दोनों हाथों में लड्डू लिए और एक-एक करके खा लिए। लेकिन, तब आपको लगता है कि ऐसे न तो दिल भर रहा है न ही पेट और कुछ ‘मजा’ टाइप भी फील नहीं हो रहा है तो आपने अपने एक असिस्टेंट की मदद ली, अपना बड़ा मुँह खोला और असिस्टेंट के जरिये मुँह में एक दर्जन लड्डू भरवा लिए।

अब अगर आपको ऐसा करने से ‘मजा’ आ रहा हो तो अलग बात है, लेकिन इस स्थिति में लड्डू आप से न तो निगलते बनेंगे और न ही उगलते। जबकि यही लड्डू आपके फेवरेट हुआ करते थे। और ऐसा ही कुछ माजरा राहुल गाँधी के साथ घटित होने जा रहा है, जहाँ उनका फेवरेट ‘चौकीदार चोर है’ उनके लिए ‘लड्डू’ साबित होने वाला है।

ईश्वर की असीम अनुकम्पा से एक तो उनके टॉप फ्लोर में ज्यादा लोड नहीं है, दूसरा अगर वे स्पीच के नाम पर ‘पोसम पा भई पोसम पा, डाकिए ने क्या किया’ भी सुना दें तो कॉन्ग्रेसी कहने लगते हैं कि इतना बेहतर तो नेहरू जी ने ‘डिस्कवरी ऑफ़ इंडिया’ में भी नहीं लिखा था।

और यही वजह रही है कि जब राहुल गाँधी ने पीएम मोदी को उनके कार्यकाल के शुरुआत में ‘सूट-बूट’ के नारे से घेरने की कोशिश की तो कॉन्ग्रेसीयों ने उनको यकीन दिला दिया कि मोदी इसी नारे से ‘ध्वस्त’ हो जाएगा और सरकार गिरे न गिरे लेकिन सूट-बूट पहनना तो जरूर ही भूल जाएगा लेकिन ‘भक्तों’ ने इस दौरान राहुल गाँधी और उनके खानदान को उस वक्त सूट-बूट मय कर दिया, जब उनके सूट-बूट-कोट-पेंट और टाई में सजे हुए फोटोज से सोशल मीडिया को भर दिया गया।

फिर अचानक एक दिन राहुल गाँधी ने मोदी के ‘चौकीदार’ को पकड़ लिया। और, कह डाला कि “चौकीदार चोर है”, लेकिन फिर से कॉन्ग्रेसीयों ने उनको यह फील करवा दिया कि मोदी जो अपनी सभाओं में ‘भारत माता की जय’ और ‘वन्दे मातरम्’ बुलवाता है, यह उसी की काट है।

और राहुल गाँधी भी अपनी हर सभा में ‘चौकीदार चोर है’ का नारा लगवाने लगे। इससे भक्त गण भी कुछ परेशान भी हुए कि यह कैसा ढीठ इंसान हैं, जो एक ही नारे से चिपक गया है। तब इस बार कमान फिर से मोदी जी ने संभाली और उन्होंने “मैं भी चौकीदार’ अभियान शुरू कर दिया। उनके देखा-देखी, मोदी समर्थकों, सरकार के मंत्रियों ने भी इसमें सक्रियता से भाग लेना शुरू कर दिया। और कमाल तो तब हो गया जब पीएम, भाजपा अध्यक्ष, गृह मंत्री, सरकार के अन्य वरिष्ठ मंत्री, भाजपा के शीर्ष पदाधिकारियों, और सोशल मीडिया पर पार्टी के समर्थकों ने अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ जोड़ लिया।

तब हैरान परेशान राहुल गाँधी ट्वीट करते हैं कि मोदी को ‘गिल्ट’ फील होने लगा है, और मोदी सरकार के सीनियर मंत्रियों मसलन गडकरी, जेटली, सुषमा स्वराज ने आपने नाम के आगे चौकीदार लगाया ही नहीं, क्या वे मोदी के चौकीदार नहीं हैं। शाम होते होते गडकरी और जेटली भी चौकीदार हो गए।

बन्दे को फिर भी चैन नहीं, उसने रात को फिर ट्वीट किया, क्यों चौकीदार साहब…बाकी सब तो ठीक है, ये सुषमा जी अब तक चौकीदार क्यों नहीं बनीं, कहीं कुछ खतरा तो नहीं है आपको!

इसके कुछ देर बाद सुषमा जी का ट्विटर हैंडल देखा तो सुषमा जी भी चौकीदार बन चुकी थीं। इसका अर्थ यह था कि अब पीएम से लेकर एक वेल्ला भक्त तक चौकीदार हो चुके हैं। चौकीदार, जो कि रक्षा, चौकसी, ईमानदारी और वफ़ादारी का प्रतीक माना जाता है, उसे आप कितनी बार और कहाँ-कहाँ चोर कहोगे!

पिछली बार आपने ‘चायवालों’ को मोदी का समर्थक बना दिया था और इस बार सुना है कि मुंबई की सिक्यूरिटी गार्ड्स (चौकीदारों) की एसोसिएशन ने भी राहुल गाँधी पर, उनको लगातार चोर कहने के लिए मुकदमा कर दिया है।

तो इस अभियान से आपको हासिल क्या हुआ है और आगे क्या होने जा रहा है! क्योंकि, आप विरोध के नाम पर सिर्फ ‘सस्ती जुमलेबाजी’ और ‘हवाई फायर’ कर रहे हो। आपके पास प्रमाणिक रूप से यह बताने के लिए कुछ भी नहीं है कि मोदी सरकार ने क्या गलतियाँ कीं, उससे देश को क्या नुक़सान हुआ और अगर आपकी सरकार आ गई, तो आप मोदी सरकार से क्या बेहतर करोगे?

और फिर जनता क्या यह नहीं देखेगी कि ‘चौकीदार’ को ‘चोर’ कौन कह रहा है ? वही जो ‘5000 करोड़ रुपए’ के ‘नेशनल हेराल्ड केस’ में ख़ुद अपनी माताजी सहित जमानत पर चल रहा है, जिनके जीजाजी देश के सबसे बड़े ‘भू-माफिया’ हैं, जिनके पिताजी की ‘बोफोर्स घोटाले’ में संलिप्तता थी, जिनकी दादी ने 1983 में भ्रष्टाचार को लेकर कहा था कि यह उनके लिए कोई मुद्दा ही नहीं है क्योंकि यह तो पूरी दुनिया में फैला हुआ है।

अभी तो जबकि चौकीदार ने अपनी प्रस्तावित 200 रैलियों और एक लाख करोड़ रुपए के चुनावी बजट का आगाज भी नहीं किया है, तब आप सोचिए कि आगे चौकीदार आपको कहाँ तक खदेड़ेगा, कैसे खदेड़ेगा और कहाँ ले जाकर छोड़ेगा।

15 साल तक दिल्ली की सीएम रहने के बाद जब शीला दीक्षित आम आदमी पार्टी (आप) से चुनाव हार गईं, तब बताते हैं कि जब भी उनके आस-पास लोग, आपस में ‘आप’ करके बात करते थे, तो वे चौंक जाती थीं। उनके मोतीलाल नेहरू मार्ग स्थित सरकारी आवास पर कई दिनों तक, कोई सफाईकर्मी उनके सामने ‘झाड़ू’ लगाता हुआ नजर नहीं आता था। बहुत मुमकिन है कि 23 मई के बाद श्रीमान राहुल गाँधी को भी ‘चौकीदारों’ से ऐसी ही दहशत हो जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हमसे सवाल करने वालों के मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हैं: हिन्दू घृणा से भरे तंज के सहारे उद्धव ठाकरे ने साधा भाजपा पर निशाना

"जो लोग हमारी सरकार पर सवाल उठाते हैं, उनके मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हुए हैं। ये वो लोग हैं जिनके खुद के कपड़े गोमूत्र व गोबर से लिपटे हैं।"

मुस्लिम देशों में उठी फ्रांस के बहिष्कार की माँग, NDTV ने कट्टरपन्थ की जगह पैगंबर के कार्टून को ही बताया वजह

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने शिक्षक की हत्या के बाद बयान जारी करते हुए कहा था कि इस्लाम एक ऐसा धर्म है जिससे आज पूरी दुनिया संकट में है।

मदद की अपील अक्टूबर में, नाम लिख लिया था सितम्बर में: लोगों ने पूछा- सोनू सूद अंतर्यामी हैं क्या?

"मदद की गुहार लगाए जाने से 1 महीने पहले ही सोनू सूद ने मरीज के नाम की एक्सेल शीट तैयार कर ली थी, क्या वो अंतर्यामी हैं?" - जानिए क्या है माजरा।

‘फ्रांस ने मुस्लिमों को भड़काया’: इमरान खान ने फेसबुक को पत्र लिखकर की बढ़ते इस्लामोफ़ोबिया को रोकने की माँग

"यह दुखद है कि राष्ट्रपति मैक्रों ने विवादित कार्टून को बढ़ावा देते हुए जानबूझकर मुसलमानों को भड़काने की कोशिश की है।"

NSA डोभाल की चेतावनी- अपनी मिट्टी ही नहीं, विदेशी जमीन में घुसकर भी खतरे के मूल को मिटा देगा नया भारत

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने कहा कि अगर कोई विदेशी जमीन हमारे लिए सुरक्षा सम्बन्धी खतरे पैदा करता है तो भारत वहाँ भी लड़ेगा।

कश्मीरी हिन्दुओं के लिए भारत ही नहीं शेख के यार नेहरू की नाराजगी को भी चुना था महाराजा हरि सिंह ने, आज ही के...

महाराजा हरि सिंह को नेहरू का शेख अब्दुल्ला के साथ मैत्रीपूर्ण बर्ताव बिलकुल नहीं पसंद था। जबकि जिन्ना को लग रहा था कि J&K की बहुसंख्यक आबादी के कारण महाराजा उनके साथ ही शामिल होंगे।

प्रचलित ख़बरें

जब रावण ने पत्थर पर लिटा कर अपनी बहू का ही बलात्कार किया… वो श्राप जो हमेशा उसके साथ रहा

जानिए वाल्मीकि रामायण की उस कहानी के बारे में, जो 'रावण ने सीता को छुआ तक नहीं' वाले नैरेटिव को ध्वस्त करती है। रावण विद्वान था, संगीत का ज्ञानी था और शिवभक्त था। लेकिन, उसने स्त्रियों को कभी सम्मान नहीं दिया और उन्हें उपभोग की वस्तु समझा।

ससुर-नौकर से Sex करती है ब्राह्मण परिवार की बहू: ‘Mirzapur 2’ में श्रीकृष्ण की कथाएँ हैं ‘फ़िल्मी बातें’

यूपी-बिहार के युवाओं से लेकर महिलाओं तक का चित्रण ऐसा किया गया है, जैसे वो दोयम दर्जे के नागरिक हों। वेश्याएँ 'विधवाओं के गेटअप' में आती हैं और कपड़े उतार कर नाचती हैं।

एक ही रात में 3 अलग-अलग जगह लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने वाला लालू का 2 बेटा: अब मिलेगी बिहार की गद्दी?

आज से लगभग 13 साल पहले ऐसा समय भी आया था, जब राजद सुप्रीमो लालू यादव के दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी यादव पर छेड़खानी के आरोप लगे थे।

मंदिर तोड़ कर मूर्ति तोड़ी… नवरात्र की पूजा नहीं होने दी: मेवात की घटना, पुलिस ने कहा – ‘सिर्फ मूर्ति चोरी हुई है’

2016 में भी ऐसी ही घटना घटी थी। तब लोगों ने समझौता कर लिया था और मुस्लिम समुदाय ने हिंदुओं के सामने घटना का खेद प्रकट किया था

नवरात्र में ‘हिंदू देवी’ की गोद में शराब और हाथ में गाँजा, फोटोग्राफर डिया जॉन ने कहा – ‘महिला आजादी दिखाना था मकसद’

“महिलाओं को देवी माना जाता है लेकिन उनके साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता है? उनके व्यक्तित्व को निर्वस्त्र किया जाता है।"

निजाम व अंग्रेजों से लड़ने वाले योद्धा कोमाराम भीम को फिल्म में पहनाई मुस्लिम ‘स्कल कैप’, आदिवासियों ने किया विरोध

आदिवासी योद्धा कोमाराम भीम की बेटी का ही निजाम के तालुकदार अब्दुल सत्तार ने अपहरण कर लिया था और जबरन इस्लामी धर्मान्तरण करा दिया था।
- विज्ञापन -

नसीब बदलने का दावा करने वाले काले खान, हारून ने जलाया युवक का हाथ: मीडिया ने बताया ‘तांत्रिक’

काले खान और हारून नामक इन फकीरों ने अपने एक चेले को मृतक के परिजनों के घर भेजा। उसने घर में भूत-प्रेत का साया होने की बात कही, जिससे वो लोग घबरा गए।

हमसे सवाल करने वालों के मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हैं: हिन्दू घृणा से भरे तंज के सहारे उद्धव ठाकरे ने साधा भाजपा पर निशाना

"जो लोग हमारी सरकार पर सवाल उठाते हैं, उनके मुँह गोमूत्र-गोबर से भरे हुए हैं। ये वो लोग हैं जिनके खुद के कपड़े गोमूत्र व गोबर से लिपटे हैं।"

‘अपनी मर्जी से बिलाल के साथ गई, मेडिकल टेस्ट नहीं कराऊँगी’: फर्जी हिन्दू प्रेमी के बचाव में उतरी ₹8 लाख लेकर घर से भागी...

लड़की के पिता ने बताया था कि बिलाल अक्सर हिंदू लड़कों की तरह रहा करता था और उसके कुछ और दोस्त भी तिलक लगाया करते थे। वो और उसके दोस्त हाथ में रक्षासूत्र भी बाँधते थे, जिसे देखकर लगता था कि वे हिंदू हैं।

मुस्लिम देशों में उठी फ्रांस के बहिष्कार की माँग, NDTV ने कट्टरपन्थ की जगह पैगंबर के कार्टून को ही बताया वजह

फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने शिक्षक की हत्या के बाद बयान जारी करते हुए कहा था कि इस्लाम एक ऐसा धर्म है जिससे आज पूरी दुनिया संकट में है।

मदद की अपील अक्टूबर में, नाम लिख लिया था सितम्बर में: लोगों ने पूछा- सोनू सूद अंतर्यामी हैं क्या?

"मदद की गुहार लगाए जाने से 1 महीने पहले ही सोनू सूद ने मरीज के नाम की एक्सेल शीट तैयार कर ली थी, क्या वो अंतर्यामी हैं?" - जानिए क्या है माजरा।

‘फ्रांस ने मुस्लिमों को भड़काया’: इमरान खान ने फेसबुक को पत्र लिखकर की बढ़ते इस्लामोफ़ोबिया को रोकने की माँग

"यह दुखद है कि राष्ट्रपति मैक्रों ने विवादित कार्टून को बढ़ावा देते हुए जानबूझकर मुसलमानों को भड़काने की कोशिश की है।"

NSA डोभाल की चेतावनी- अपनी मिट्टी ही नहीं, विदेशी जमीन में घुसकर भी खतरे के मूल को मिटा देगा नया भारत

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल ने कहा कि अगर कोई विदेशी जमीन हमारे लिए सुरक्षा सम्बन्धी खतरे पैदा करता है तो भारत वहाँ भी लड़ेगा।

कश्मीरी हिन्दुओं के लिए भारत ही नहीं शेख के यार नेहरू की नाराजगी को भी चुना था महाराजा हरि सिंह ने, आज ही के...

महाराजा हरि सिंह को नेहरू का शेख अब्दुल्ला के साथ मैत्रीपूर्ण बर्ताव बिलकुल नहीं पसंद था। जबकि जिन्ना को लग रहा था कि J&K की बहुसंख्यक आबादी के कारण महाराजा उनके साथ ही शामिल होंगे।

बुलंदशहर की चुनावी रैली में भिड़े भीम-AIMIM: दिलशाद पर हाजी यामीन समर्थकों का जानलेवा हमला

बुलंदशहर में भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर के काफिले पर फायरिंग की खबर के साथ ही AIMIM प्रत्याशी दिलशाद अहमद पर भी जानलेवा हमले की खबर सामने आई हैं।

नवरात्र में ‘हिंदू देवी’ की गोद में शराब और हाथ में गाँजा, फोटोग्राफर डिया जॉन ने कहा – ‘महिला आजादी दिखाना था मकसद’

“महिलाओं को देवी माना जाता है लेकिन उनके साथ किस तरह का व्यवहार किया जाता है? उनके व्यक्तित्व को निर्वस्त्र किया जाता है।"

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
79,185FollowersFollow
337,000SubscribersSubscribe