Friday, June 21, 2024
Homeराजनीतिपब्लिक पूछ रही कौन बनेंगे CM, इधर BJP ने चुनाव जीतने वाले 9 MP...

पब्लिक पूछ रही कौन बनेंगे CM, इधर BJP ने चुनाव जीतने वाले 9 MP और मोदी के 2 मंत्रियों का इस्तीफा लेकर बढ़ा दिया सस्पेंस

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष JP नड्डा ने इन सभी सांसदों के साथ बैठक की, फिर उनके साथ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलने पहुँचे। उनकी मौजूदगी में सभी सांसदों ने स्पीकर को इस्तीफा सौंपा।

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा ने अपने 21 सांसदों को चुनाव लड़ाया था, जिनमें से 12 जीत कर आए हैं। अब इन सभी से इस्तीफा ले लिया गया है। बुधवार (6 दिसंबर, 2023) को पार्टी ने ये फैसला लिया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष JP नड्डा ने इन सभी सांसदों के साथ बैठक की, फिर उनके साथ लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलने पहुँचे। उनकी मौजूदगी में सभी सांसदों ने स्पीकर को इस्तीफा सौंपा। इसके साथ ही केंद्रीय कैबिनेट से 3 मंत्री भी कम हो गए हैं।

राजस्थान से जिन सांसदों ने इस्तीफा दिया है, वो हैं – जयपुर (ग्रामीण) के राज्यवर्धन सिंह राठौड़, राजसमंद से दीया कुमारी, अलवर से बाबा बालकनाथ और राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा। मध्य प्रदेश से जिन सांसदों ने इस्तीफा दिया है, वो हैं – मोरेना से नरेंद्र सिंह तोमर, दमोह से प्रह्लाद पटेल, जबलपुर से राकेश सिंह, सीधी से रीति पाठक और नर्मदापुरम से उदय प्रताप सिंह। छत्तीसगढ़ से इन सांसदों ने इस्तीफा दिया – रायगढ़ से गोमती साईं, बिलासपुर से अरुण साव और सुरगुजा से रेणुका सिंह।

इस तरह राजस्थान से 4, मध्य प्रदेश से 5 और छत्तीसगढ़ से 3 सांसदों ने इस्तीफा दिया। राठौड़ ने झोटवाड़ा, दीया ने विद्याधर नगर, बालकनाथ ने तिजारा, मीणा ने सवाई माधोपुर, तोमर ने दिमनी, पटेल ने नरसिंहपुर, राकेश ने जबलपुर पश्चिम, पाठक ने सीधी, उदय प्रताप ने गाडरवारा, साईं ने पथलगाँव, साव ने लोरमी और रेणुका ने भरतपुर-सोनहत से जीत दर्ज की है। मध्य प्रदेश में भाजपा ने 163, राजस्थान में 115 और छत्तीसगढ़ में 54 सीटें अपने नाम की हैं। महंत बालकनाथ योगी ने अभी इस्तीफा नहीं दिया है, लेकिन चर्चा है कि वो भी इस्तीफा दे देंगे।

भाजपा के कई सांसद चुनाव हार भी गए। राजस्थान में भगीरथ चौधरी (सांसद अजमेर से, चुनाव हारे किशनगढ़ से), नरेंद्र खीचड़ (लोकसभा सांसद झुंझनूँ से, हारे मंडावा विधानसभा क्षेत्र से) और देवजी पटेल (सांसद जालौर से, चुनाव हारे सांचौर से) चुनाव है गए। मध्य प्रदेश में मंडला से सांसद सिंह कुलस्ते जिन्हें निवास से लड़ाया गया था और सतना के गणेश सिंह चुनाव हार गए। इसी तरह छत्तीसगढ़ में विजय बघेल हार गए। उन्हें दुर्ग से लड़ाया गया था, जबकि वो पाटन से सांसद थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -