Monday, July 15, 2024
Homeबड़ी ख़बर'भारत से किसी को आपत्ति क्यों': मोदी के मंत्री का सीधा सवाल, देश के...

‘भारत से किसी को आपत्ति क्यों’: मोदी के मंत्री का सीधा सवाल, देश के नाम से ‘INDIA’ हटाने को बताया ‘अफवाह’

"मैं भारत सरकार में मंत्री हूँ। इसमें नया कुछ भी नहीं है। G20-2023 (ब्रांडिंग, लोगो) पर भारत और इंडिया दोनों लिखा होगा। तो फिर भारत नाम पर आपत्ति क्यों? भारत से किसी को आपत्ति क्यों है? इससे उनकी मानसिकता का पता चलता है कि वे दिल से इंडिया या भारत के खिलाफ हैं।"

18 से 22 सितंबर तक संसद का विशेष सत्र होना है। इसका एजेंडा केंद्र सरकार ने अभी स्पष्ट नहीं किया है। लेकिन कयासों का दौर जारी है। इन कयासों में से एक देश का नाम बदलकर ‘भारत’ रखना भी है। लेकिन मोदी सरकार के मंत्री अनुराग ठाकुर ने इसे खारिज किया है। इसे अफवाह बताया है।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान कहा, “मुझे लगता है कि जो कुछ चल रहा है वह महज अफवाह। मैं बस इतना कहना चाहता हूँ कि जो कोई भी भारत शब्द पर आपत्ति जताता है, वह साफ तौर से उसकी मानसिकता को दर्शाता है।” जी20 डिनर पार्टी के लिए राष्ट्रपति भवन के न्योते को लेकर ठाकुर ने कहा, “वे भारत की राष्ट्रपति हैं, इसलिए निमंत्रण पत्र पर भारत के राष्ट्रपति लिखा। ऐसा लिखा तो क्या हो गया?”

उन्होंने कहा, “मैं भारत सरकार में मंत्री हूँ। इसमें नया कुछ भी नहीं है। G20-2023 (ब्रांडिंग, लोगो) पर भारत और इंडिया दोनों लिखा होगा। तो फिर भारत नाम पर आपत्ति क्यों? भारत से किसी को आपत्ति क्यों है? इससे उनकी मानसिकता का पता चलता है कि वे दिल से इंडिया या भारत के खिलाफ हैं। विलायत में जाते हैं तो भारत की निंदा करते हैं। जब वे भारत में होते हैं तो उन्हें भारत के नाम पर आपत्ति होती है।”

केंद्रीय मंत्री ने कहा, “इसे किसने गिराया है? (भारत शब्द) किसी ने इसे छोड़ा नहीं है। भले ही आप G20 ब्रांडिंग को देखें यह इंडिया 2023 और भारत है। भारत लिखे जाने पर किसी को आपत्ति क्यों होनी चाहिए? यह ब्रांडिंग पिछले एक साल से की जा रही है।”

उल्लेखनीय है कि 5 सितंबर को मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया था कि विशेष सत्र के दौरान देश का नाम ‘India’ हटा कर सिर्फ ‘भारत’ रखे जाने की योजना है। G20 के डिनर के लिए राष्ट्रपति भवन की तरफ से भेजे गए निमंत्रण पत्र में ‘प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया’ की जगह ‘प्रेसिडेंट ऑफ भारत’ लिखे जाने से इसको बल मिला था। असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने एक ट्वीट में लिखा, “भारत का का गणतंत्र: मैं खुश और गर्वित हूँ कि हमरी सभ्यता अमृत काल की तरफ बढ़ रही है।” इसके बाद सोशल मीडिया में भी ‘भारत’ ट्रेंड करने लगा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -