कोलकाता में RSS कार्यकर्ता को मारी गोली, TMC के मंत्री ने कहा था- ये मिनी पाकिस्तान है

कहा जा रहा है कि भाजपा को समर्थन करने के कारण आरएसएस कार्यकर्ता व शिक्षक वीर बहादुर सिंह पर गुंडों ने हमला किया। गोली उनके पीठ पर लगी है। उनका इलाज चल रहा।

पश्चिम बंगाल में भाजपा और संघ कार्यकर्ताओं पर हमले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। राजधानी कोलकाता स्थित मेटियाब्रुज में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता पर हमला हुआ। पीड़ित वीर बहादुर सिंह सरकारी शिक्षक हैं और आरएसएस से जुड़े हैं। सोमवार (दिसंबर 2, 2019) को जब वे स्कूल में पढ़ाने जा रहे थे, तब उन पर हमला किया गया। हमलवारों ने दिनदहाड़े उन पर गोली चलाई। ये गार्डन रीच क्षेत्र का हिस्सा है।

बता दें कि मेटियाब्रुज वही इलाक़ा है, जिसे तृणमूल कॉन्ग्रेस के एक मंत्री ने ‘मिनी पाकिस्तान’ करार दिया था। एक पाकिस्तानी पत्रकार को मेटियाब्रुज के बारे में बताते समय ममता बनर्जी के मंत्री फरहाद हाकिम ने बताया था कि गार्डन रीच वाला इलाक़ा कोलकाता का ‘मिनी पाकिस्तान’ है। उन्होंने ‘द डॉन’ के पत्रकार से कहा था- “आइए, आपको मिनी पाकिस्तान की सैर कराता हूँ।” ये वही इलाक़ा है, जहाँ अवध के आखिरी नवाब वाज़िद अली शाह ने अपनी ज़िंदगी के अंतिम 30 वर्ष गुजारे थे।

आरएसएस कार्यकर्ता व शिक्षक वीर बहादुर सिंह गोली लगने से घायल हो गए हैं। गोली उनके पीठ पर लगी है, जिसके बाद वो अस्पताल में भर्ती हैं। चुनाव के दौरान उन्होंने नरेंद्र मोदी को वोट देने की अपील की थी। उनका ‘नमो टीशर्ट’ पहले हुए एक फोटो वायरल हो रहा है। कहा जा रहा है कि भाजपा को समर्थन करने के कारण उन पर गुंडों ने हमला किया है। आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर रोष व्यक्त किया। गौरतलब है कि राजनीतिक हिंसा के लिए कुख्यात बंगाल में भाजपा समर्थकों को निशाने बनाने की कई घटनाएँ हाल में सामने आई है। ज्यादातर में आरोपित सत्ताधारी टीएमसी से जुड़े बताए जाते हैं।

बंगाल में महिला BJP नेता के घर घुसकर टीएमसी वालों की गुंडई, बीच-बचाव में आए लोग भी घायल

बंगाल उपचुनाव: तृणमूल के 50 गुंडों ने BJP प्रत्याशी को घेर कर लात-घूसों से पीटा, वीडियो वायरल

बंगाल: BJP नेता शेख आमिर खान को TMC के गुंडों ने तलवार से काटा, 2 महिलाएँ गिरफ्तार

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

उद्धव ठाकरे-शरद पवार
कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गॉंधी के सावरकर को लेकर दिए गए बयान ने भी प्रदेश की सियासत को गरमा दिया है। इस मसले पर भाजपा और शिवसेना के सुर एक जैसे हैं। इससे दोनों के जल्द साथ आने की अटकलों को बल मिला है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,575फैंसलाइक करें
26,134फॉलोवर्सफॉलो करें
127,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: