Monday, July 22, 2024
Homeराजनीतिसंसद सत्र छोड़ा, पर क्रिसमस-नए साल पर नहीं जुड़ेगा भारत: 9 दिन का ब्रेक,...

संसद सत्र छोड़ा, पर क्रिसमस-नए साल पर नहीं जुड़ेगा भारत: 9 दिन का ब्रेक, लोग बोले- विदेश जा रहे राहुल गाँधी

सुधीर सिंह नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, "दरअसल, संदेश यह है कि राहुल गाँधी अपने परिवार के साथ क्रिसमस और नया साल मनाने के लिए बाहर जा रहे हैं इसलिए यात्रा कुछ दिनों के लिए रोकी जा रही है। उनके वापस आने के बाद यह फिर से शुरू हो जाएगा।"

राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ 9 दिनों के लिए रोकी जा रही है। कॉन्ग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट कर जानकारी दी कि 24 दिसंबर, 2022 से लेकर 2 जनवरी, 2023 तक भारत जोड़ो यात्रा रोकी जा रही है। हालाँकि, उन्होंने अपने ट्वीट में क्रिसमस और नए साल का जिक्र नहीं किया, जो कि इन्हीं 9 दिनों के भीतर मनाए जाएँगे।

कॉन्ग्रेस नेता जयराम रमेश ने अपने ट्वीट में लिखा, “भारत जोड़ो यात्रा 24 दिसंबर की शाम को दिल्ली पहुँचेगी। उसके बाद नौ दिनों का ब्रेक होगा, ताकि कंटेनरों को मरम्मत करके उत्तर (उत्तरी भारत) में पड़ने वाले कठोर सर्दी के लिए तैयार किया जा सके। साथ ही इस ब्रेक में कई भारत यात्री लगभग चार महीने के बाद अपने परिवार से मिल पाएँगे और उनके साथ समय बिता पाएँगे। यात्रा 3 जनवरी, 2023 को फिर से शुरू होगी।”

दिल्ली में कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता यात्रा की स्वागत के लिए तैयारियाँ भी करने लगे हैं, जहाँ भव्य स्वागत के बाद यात्रा रोक दी जाएगी। 9 दिनों के विराम के बाद यात्रा दिल्ली से ही शुरू होगी। इन सब के बीच यह स्पष्ट नहीं है कि कि राहुल गाँधी अपनी छुट्टियाँ कहाँ बिताने वाले हैं।

‘भारत जोड़ो यात्रा’ रोके जाने की खबर फैलने के साथ ही नेटिजन्स इस बात का अंदाजा लगाने लगे कि छुट्टियों के दौरान राहुल गाँधी कहाँ रहेंगे। ट्विटर यूजर ऋषि बागरी ने कमेंट किया, ” 24 दिसंबर से 2 जनवरी तक भारत जोड़ो यात्रा बंद रहेगा क्योंकि भारत जोड़ने वाले मिस्त्री अपने परिवार के साथ रहने के लिए बाहर जा रहे हैं। इस रुकावटके लिए खेद है।”

‘लुटियंस वॉच’ नाम के यूजर ने लिखा कि राहुल गाँधी ने भारत जोड़ो यात्रा के लिए संसद के शीतकालीन सत्र को छोड़ दिया और अब उन्होंने क्रिसमस की छुट्टियों के लिए यात्रा को छोड़ दिया।

तरुणभ नाम के यूजर ने लिखा कि यात्रा रोके जाने का कारण आप भले ही कुछ और दिखा रहे हैं लेकिन यह संदेश जा चुका है कि ‘यात्रा का नायक’ अपने लिए छुट्टी चाहता है।

ट्विटर यूजर जयन ने राहुल गाँधी का एक पुराना ट्वीट शेयर किया, जिसमें उन्होंने दिसंबर 2016 में नए साल को लेकर अपनी यात्रा के बारे में जानकारी दी थी।

सुधीर सिंह नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, “दरअसल संदेश यह है कि राहुल गाँधी अपने परिवार के साथ क्रिसमस और नया साल मनाने के लिए बाहर जा रहे हैं इसलिए यात्रा कुछ दिनों के लिए रोकी जा रही है। उनके वापस आने के बाद यह फिर से शुरू हो जाएगा।”

आपको बता दें कि राहुल गाँधी ने भारत जोड़ो यात्रा के लिए संसद का शीतकालीन सत्र छोड़ दिया था। इसकी जानकारी 4 दिसंबर, 2022 को कान्ग्रेस नेता औरर सांसद केसी वेणुगोपाल ने दी थी। उन्होंने मीडिया से कहा था कि भारत जोड़ो यात्रा के बीच राहुल गाँधी का सत्र में शामिल हो पाना मुमकिन नहीं होगा।

छुट्टियों को लेकर राहुल गाँधी के पिछले रिकॉर्ड पर नज़र डालें तो कई बार उनके विदेश में छुट्टियाँ मनाने की बातें सामने आई हैं। अहम मौकों और पार्टी कार्यक्रमों के बीच भी उनके विदेश जाने की सूचना प्राप्त होती रही हैं। जनवरी 2021 में ख़बरें सामने आई थीं कि राहुल गाँधी नए साल के जश्न में शामिल होने के लिए विदेश में थे। यह तो साफ नहीं है कि वे कहाँ गए थे लेकिन माना जा रहा था कि वे इटली के मिलान में थे।

साल 2016 में तो उन्होंने खुद अपने यात्रा के बारे में जानकारी दी थी। जुलाई, 2022 में गोवा संकट के बीच भी वे पार्टी के नेताओं के साथ न होकर विदेश यात्रा पर थे। मई, 2022 में उन्हें नेपाल के एक नाइट क्लब में देखा गया था। अप्रैल, 2022 में भी राहुल गाँधी दस दिनों के लिए अचनाक गायब हो गए थे। साल 2021 में दीपावाली की छुट्टियों से पहले उनके लंदन में होने की खबरें आई थीं। सितंबर 2021 में पंजाब में सियासी ड्रामे के बीच राहुल अपने परिवार के साथ शिमला में छुट्टियाँ बिता रहे थे।

नवंबर, 2019 में कॉन्ग्रेस को भारत भर में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने का सुझाव देने के बाद वे अचानक गायब हो गए थे। मई, 2019 में भी आम चुनाव संपन्न होने के बाद वोटों की गिनती से पहले राहुल गायब हो गए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -