Monday, January 17, 2022
Homeराजनीतिबिहारियों को बोला गरीब और लालची: मिलिए उस कॉन्ग्रेसी नेता से, जिसे राहुल गाँधी...

बिहारियों को बोला गरीब और लालची: मिलिए उस कॉन्ग्रेसी नेता से, जिसे राहुल गाँधी खुद करते हैं फॉलो

इतना ही नहीं, इससे पहले भी उन्होंने बिहारियों को निशाने पर लिया। उन्होंने लिखा, “बिहारियों तुम फिर झूमलों के चक्कर में आ गए। अगर 15 लाख नहीं तो कोविड वैक्सीन मुफ्त तो माँगो और मिल जाए तो हम भी बिहार आकर लगवा लेंगे!!”

बिहार विधानसभा चुनाव की 243 सीटों पर मतगणना जारी है। अब तक सभी सीटों पर शुरुआती रुझान आ चुके हैं, जिनमें भाजपा-जदयू का एनडीए गठबंधन 132 सीटों पर आगे चल रहा है और उसे पूर्ण बहुमत मिलता नजर आ रहा है। वहीं राजद के नेतृत्व में महागठबंधन 98 सीटों पर आगे है।

इस बीच कॉन्ग्रेस शिकायत सेल की चेयरपर्सन अर्चना डालमिया ने बिहारियों को गरीब और लालची करार दिया है। चुनावी मतगणना में रुझान एनडीए की तरफ जाते देख अर्चना डालमिया ने ट्वीट करते हुए लिखा, “लगता है गरीब बिहारी मुफ्त वैक्सीन के लालच के चक्कर में आ गए है।”

इतना ही नहीं, इससे पहले भी उन्होंने बिहारियों को निशाने पर लिया। उन्होंने लिखा, “बिहारियों तुम फिर झूमलों के चक्कर में आ गए। अगर 15 लाख नहीं तो कोविड वैक्सीन मुफ्त तो माँगो और मिल जाए तो हम भी बिहार आकर लगवा लेंगे!!”

उन्होंने अपने ट्विटर पर एक पोस्ट को पिन किया हुआ है। इसमें लिखा गया है, “थोड़ा और इंतज़ार कीजिए। शाम ढलते ही लालटेन जलेगा।”

उन्होंने आज सुबह-सुबह एक ट्वीट करते हुए लिखा था, “नया सवेरा, नया बिहार, महागठबंधन की सरकार।”

अर्चना डालमिया को राहुल गाँधी फॉलो करते हैं

अर्चना कॉन्ग्रेस शिकायत सेल की चेयरपर्सन हैं, जिन्हें पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी भी फॉलो करते हैं। बता दें कि इससे पहले कॉन्ग्रेस पार्टी के बीच नेतृत्व को लेकर हो रही कश्मकश के बीच अर्चना डालमिया ने पार्टी के बुजुर्ग नेताओं को झटका देते हुए कहा था कि गाँधी परिवार के अलावा कोई कॉन्ग्रेस अध्यक्ष देश स्वीकार नहीं करेगा।

डालमिया ने ट्वीट करते हुए लिखा था, “गाँधी परिवार के अलावा और ‘कोई विकल्प है ही नहीं’… मैं फिर दोहराती हूँ कि जो गाँधी परिवार देश भर में स्वीकार किया जाता है, उसका कोई अल्टरनेटिव नहीं है!” 

वहीं कॉन्ग्रेस के उदित राज ने मंगलवार को ईवीएम पर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया, “जब मंगल ग्रह और चाँद की ओर जाते उपग्रह की दिशा को धरती से नियंत्रित किया जा सकता है तो ईवीएम हैक क्यों नहीं की जा सकती? अमेरिका में अगर ईवीएम से चुनाव होता तो क्या ट्रंप हार सकते थे?”

फिलहाल ऐसा है रुझान

गौरतलब है कि बिहार में अब तक सभी 243 सीटों पर रुझान आ चुका है। इसमें एनडीए 132 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, जबकि महागठबंधन 98 सीटों पर आगे है। वहीं, चिराग पासवान की लोजपा 1 और अन्य दल 9 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं। अगर राजनीतिक दलों की बात करें तो भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। वह 73 सीटों पर आगे चल रही है। दूसरे नंबर पर राजद है, जिसने 60 सीटों पर बढ़त बना रखी है। जदयू 49 सीटों पर आगे चल रही है तो कॉन्ग्रेस की झोली में 21 सीटें जाती नजर आ रही हैं। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘रेप कैपिटल बन गया है राजस्थान’: अलवर मूक-बधिर बच्ची से गैंगरेप मामले में पुलिस का यू-टर्न, गहलोत सरकार ने की CBI जाँच की सिफारिश

अलवर में रेप की शिकार मूक-बधिर बच्ची के मामली की जाँच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीबीआई को सौंप दी है। सरकार का काफी विरोध हो रहा है।

CM योगी का UP: 2000 Cr का अवैध साम्राज्य ध्वस्त, ढेर हुए 140 अपराधी, धर्मांतरण और गोकशी पर शिकंजा, महिलाएँ सुरक्षित हुईं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाया। गोकशी-धर्मांतरण पर प्रहार किया। उत्तर प्रदेश में माफिया राज खत्म हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,693FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe