Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को कहा 'चमचा': भाजपा ने आपत्ति...

कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को कहा ‘चमचा’: भाजपा ने आपत्ति जताते हुए कहा- उनकी मानसिकता दलित-आदिवासी विरोधी

राष्ट्रीय महिला आयोग उदित राज को नोटिस भेजने की तैयारी कर रहा है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, "देश की सर्वोच्च शक्ति और अपनी कड़ी मेहनत से इस मुकाम तक पहुँची महिला के खिलाफ बेहद आपत्तिजनक बयान। उदित राज को अपने अपमानजनक बयान के लिए माफी माँगनी चाहिए। @NCWIndia उन्हें नोटिस भेज रहा है।"

अपने विवादित बयानों के लिए पहचाने जाने वाले कॉन्ग्रेस नेता उदित राज ने अब राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के ‘नमक’ वाले बयान पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर बवाल मचा दिया है। राजनीतिक मर्यादा को पार करने के बाद भाजपा ने उदित राज और कॉन्ग्रेस पर निधाना साधा है और कहा है कि उनकी टिप्पणी आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाता है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि यह पहली बार नहीं है, जब उदित राज ने इस तरह की शब्दों का इस्तेमाल किया हो। उदित राज ने ट्विटर पर लिखा था कि किसी भी देश को द्रौपदी मुर्मू जी जैसा राष्ट्रपति ना मिले। चमचागिरी की भी हद होती है।

संबित पात्रा ने कहा कि राष्ट्रपति के लिए कॉन्ग्रेस नेता उदित राज द्वारा इस्तेमाल किए गए शब्द चिंताजनक और दुर्भाग्यपूर्ण हैं। यह पहली बार नहीं है, जब उन्होंने ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया है। इससे पहले कॉन्ग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी ऐसा किया था। संबित पात्रा ने कहा कि कॉन्ग्रेस की मानसिकता ही दलित-आदिवासी विरोधी है।

उदित राज की इस बयान की हर तरफ आलोचना हो रही है। उनका बयान राष्ट्रपति पद की गरिमा गिराने वाला बताया जा रहा है। इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया कहा कि राष्ट्रपति के लिए उनके मन में पूरा सम्मान है और उनका बयान कॉन्ग्रेस का नहीं, बल्कि निजी है।

उदित राज के बयान पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है और कॉन्ग्रेस नेता से इसके लिए माफी माँगने की बात कही है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने ट्वीट कर कहा, “देश की सर्वोच्च शक्ति और अपनी कड़ी मेहनत से इस मुकाम तक पहुँची महिला के खिलाफ बेहद आपत्तिजनक बयान। उदित राज को अपने अपमानजनक बयान के लिए माफी माँगनी चाहिए। @NCWIndia उन्हें नोटिस भेज रहा है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पालिताना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -