Wednesday, June 19, 2024
Homeराजनीति'जयपुर राजघराने की जमीन पर बना है ताजमहल': राजकुमारी दीया कुमारी बोलीं- 'सारे दस्तावेज...

‘जयपुर राजघराने की जमीन पर बना है ताजमहल’: राजकुमारी दीया कुमारी बोलीं- ‘सारे दस्तावेज मौजूद हैं, कोर्ट ने माँगा तो सौपेंगे’

दीया कुमारी ने कहा है कि उनके डॉक्यूमेंट्स ट्रस्ट के पोथी खाने में ताजमहल को लेकर सारे डॉक्यूमेंट्स अभी भी मौजूद हैं।

ताजमहल को लंबे वक्त से मंदिर बताया जाता रहा है। वहीं इसके गेट को खोलने के लिए एक याचिका दायर की गई है। इस बीच आगरा के ताजमहल को लेकर जयपुर के राजघराने की सदस्य और बीजेपी से सांसद दीया कुमारी ने दावा किया है कि जिस जगह पर ताजमहल स्थित है वो जमीन उनकी थी। बीजेपी सांसद का कहना है कि ताजमहल वाली जगह पर उनका महल था।

दीया कुमारी ने ताजमहल के बंद दरवाजों को खोलने के लिए दायर की गई याचिका की तारीफ करते हुए कहा कि इससे सच निकलकर बाहर आएगा। इसके साथ ही उन्होंने ये भी दावा किया है कि उनके पास ऐसे डॉक्यूमेंट्स हैं, जिससे ये साबित होता है कि ताजमहल जयपुर के पुराने शाही परिवार का पैलेस था। इस पर मुगल आक्रान्ता ने कब्जा कर लिया था, लेकिन उस दौरान मुगल शासन के कारण राज परिवार इसका विरोध नहीं कर पाया।

बीजेपी सांसद कहती हैं कि वो ये तो नहीं कहेंगी कि ताजमहल को तोड़ देना चाहिए। लेकिन ताजमहल के बंद कमरों को खोलना चाहिए। इसके कुछ हिस्से लंबे वक्त से सील हैं, जिनकी जाँच होनी चाहिए। इनके कमरों को खोलना चाहिए, ताकि सच का पता चल सके कि वहाँ पर क्या था और क्या नहीं। जब इसकी सही तरीके से जाँच होगी तो सभी तथ्य इस्टैब्लिश हो सकेंगे।

पोथी खाने में मौजूद हैं डॉक्यूमेंट्स

दीया कुमारी ने कहा है कि उनके डॉक्यूमेंट्स ट्रस्ट के पोथी खाने में ताजमहल को लेकर सारे डॉक्यूमेंट्स अभी भी मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि उनके पास उपलब्ध दस्तावेजों से ये स्पष्ट होता है कि वो जमीन जयपुर राजघराने की थी। मुगल शासन के दौरान वो पैलेस शाहजहाँ को पसंद आ गया था, जिसके बाद उसने उसपर कब्जा कर लिया था। हालाँकि, वहाँ पर मंदिर था या नहीं इसको लेकर उनका कहना है कि अभी तक सारे दस्तावेजों को पढ़ा नहीं गया है। उन्होंने ये भी कहा कि अगर कोर्ट इन दस्तावेजों को माँगेगा तो वो उन्हें वो सबूत देंगी।

ऐसा ही बयान 2017 में भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दिया था। उन्होंने दावा किया था कि जयपुर के महाराजा को शाहजहाँ ने मजबूर किया था।

क्या है ये विवाद

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में डॉ रजनीश ने ताजमहल के बंद दरवाजों को खोलने को लेकर य़ाचिका दायर की थी। रजनीश अयोध्या जिले में बीजेपी के मीडिया इंचार्ज हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अच्छा! तो आपने मुझे हराया है’: विधानसभा में नवीन पटनायक को देखते ही हाथ जोड़ कर खड़े हो गए उन्हें हराने वाले BJP के...

विधानसभा में लक्ष्मण बाग ने हाथ जोड़ कर वयोवृद्ध नेता का अभिवादन भी किया। पूर्व CM नवीन पटनायक ने कहा, "अच्छा! तो आपने मुझे हराया है?"

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -