Wednesday, June 19, 2024
Homeराजनीतिबंगाल में BJP की रैली में TMC समर्थकों का हमला, सैकड़ों गाड़ियों में लगाई...

बंगाल में BJP की रैली में TMC समर्थकों का हमला, सैकड़ों गाड़ियों में लगाई आग: सुवेंदु अधिकारी बोले- हमले में कई महिलाएँ घायल, 1 लापता

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा, "आपके प्रशासन ने पहले रैली की अनुमति नहीं दी। माननीय उच्च न्यायालय ने अनुमति दी। आपने सड़कों को अवरुद्ध कर दिया, समर्थकों को कार्यक्रम स्थल तक पहुँचने से रोक दिया, व्यवस्थाओं को बाधित कर दिया और हर कदम पर अड़ंगा लगाया।”

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की सरकार में राजनीतिक हिंसा रूकने का नाम नहीं ले रहा है। सत्ताधारी तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के कार्यकर्ताओं पर विपक्षी दल भाजपा (BJP) के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के खिलाफ फिर हिंसा करने का मामला सामने आया है।

विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी की शनिवार (3 नवंबर 2022) को दक्षिण 24 परगना जिले में रैली थी। रैली में आए भाजपा कार्यकर्ताओं पर टीएमसी समर्थकों ने हमला कर दिया। उन्होंने भीड़ पर पथराव किया और कई दोपहिया वाहनों में आग लगा दी।

शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि इस दौरान TMC के कार्यकर्ताओं ने 100 से अधिक कारों को तोड़ दिया, 150 महिला श्रमिकों पर हमला किया गया। इनमें से 50 से अधिक महिलाएँ गंभीर रूप से घायल हो गईं। एक महिला अभी भी लापता है। कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया गया है।

शुभेंदु ने कहा कि भाजपा विधायक उमिका राय सहित लगभग 20,000 कार्यकर्ताओं को रैली में जाने से ममता बनर्जी की पुलिस द्वारा रोका गया था। यह कुछ ऐसा है, जो किसी भी लोकतांत्रिक देश में स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि झूठे मामले पश्चिम बंगाल की संस्कृति है।

उधर पुलिस ने कहा कि शुभेंदु अधिकारी की रैली में भाजपा समर्थकों को ले जा रही बस को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कोलकाता से करीब 40 किलोमीटर दूर हाटुगंज इलाके में कथित तौर पर रोक लिया था। इसके बाद दोनों दलों के समर्थक आपस में भीड़ गए। दो पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव कर दिया।

रैली में समर्थकों के साथ जा रहे भाजपा विधायक अग्निमित्र पॉल ने कहा कि आगजनी के पीछे TMC कार्यकर्ता थे। पॉल ने कहा, “टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हमारे आदमियों पर हमला किया। उन्हें पीटा गया। वे शुभेंदु अधिकारी की लोकप्रियता से डरते हैं। इसलिए रैली को बाधित करना चाहते थे।”

पुलिस का कहना है कि हिंसा में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। बता दें कि जिस डायमंड हार्बर क्षेत्र में शुभेंदु अधिकारी रैली का आयोजन कर रहे थे, वह मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी का लोकसभा क्षेत्र है। हालाँकि, घटना के बाद भी शुभेंदु अधिकारी ने सभा को संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा, “आपके प्रशासन ने पहले रैली की अनुमति नहीं दी। माननीय उच्च न्यायालय ने अनुमति दी। आपने सड़कों को अवरुद्ध कर दिया, समर्थकों को कार्यक्रम स्थल तक पहुँचने से रोक दिया, व्यवस्थाओं को बाधित कर दिया और हर कदम पर अड़ंगा लगा दिया। आपका हमला @BJP4Bengal कार्यकर्ताओं के दृढ़ संकल्प में सेंध नहीं लगा सका।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

लाइसेंस राज में कुछ घरानों का ही चलता था सिक्का, 2014 के बाद देश ने भरी उड़ान: गौतम अडानी ने PM मोदी को दिया...

गौतम अडानी ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था ने 10 वर्षों में टेकऑफ किया है और इसका सबसे बड़ा कारण सही तरीके से मोदी सरकार का चलना रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -