Monday, May 16, 2022
Homeराजनीति'BJP ने गरीब मुस्लिमों को पैसे दे फिंकवाए पत्थर': दिग्विजय सिंह ने गढ़ी नई...

‘BJP ने गरीब मुस्लिमों को पैसे दे फिंकवाए पत्थर’: दिग्विजय सिंह ने गढ़ी नई थ्योरी, हिंदू आतंकवाद और 26/11 RSS ने करवाया के प्रणेता भी यही

दिग्विजय सिंह के इस बयान पर भाजपा नेता विश्वास सारंग ने कहा, "दिग्विजय सिंह की अक्ल पर पत्थर पड़ गए हैं और जिस प्रकार से नेहरू परिवार की चाटुकारिता के लिए, तुष्टिकरण की राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए वो जो बयानबाजी कर रहे हैं, वो केवल राजनीतिक हैं।" 

मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी पर भड़की हिंसा की शुरुआत शोभा यात्रा पर फेंके गए पत्थरों के साथ हुई थी। इसकी कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हैं और पुलिस की कार्रवाई भी इन्हीं आधारो पर चल रही है। मगर, इन्हीं सब के बीच प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह एक नई थ्योरी लाए हैं। उनका कहना है कि ये सब कुछ भाजपा का किया हुआ है। उन्होंने ही गरीब मुस्लिमों को पैसे दिए, फिर उनसे पत्थर फिंकवाए।

दिलचस्प बात ये है कि दिग्विजय सिंह पर अपने आरोप सिद्ध करने के लिए कोई तथ्य नहीं हैं। वह कहते हैं, “मुझे कुछ शिकायतें मिली हैं जो सत्यापित नहीं हैं, लेकिन इन शिकायतों के अनुसार, भाजपा के कुछ लोग गरीब मुस्लिम लड़कों से पैसे देकर उनसे पत्थर फिंकवाते हैं।” आगे दिग्विजय सिंह ने ये भी स्पष्ट किया, “मेरे पास तथ्य नहीं हैं, इसलिए मैं सिर्फ आरोप लगा रहा हूँ, लेकिन मैं इन शिकायतों की जाँच करूँगा।”

दिग्विजय सिंह की अक्ल पर पड़ गए हैं पत्थर

दिग्विजय सिंह के इस बयान के बाद भाजपा नेता व प्रदेश मंत्री विश्वास सारंग ने कहा, “दिग्विजय सिंह की अक्ल पर पत्थर पड़ गए हैं और जिस प्रकार से नेहरू परिवार की चाटुकारिता के लिए, तुष्टिकरण की राजनीति को आगे बढ़ाने के लिए वो जो बयानबाजी कर रहे हैं, वो केवल राजनीतिक हैं।” 

सारंग ने कहा,  “एक एफआईआर के बाद वो कह रहे हैं, ‘मैं आरोप नहीं लगा रहा, मैं बस बात बोल रहा हूँ’ तो आप अपनी बात भी किस तथ्य पर बोल रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी को न दंगा कराने की जरूरत है और न वो दंगा कराती है। भाजपा दंगा रोकती है। ये नेहरू परिवार और कॉन्ग्रेस का इतिहास है कि उन्होंने दंगे कराए ताकि उनकी राजनैतिक रोटियाँ सिंके। ये आरोप लगाकर दिग्विजय सिंह ने अपनी हैसीयत बताई है। उनकी बातों का न तथ्य है न आधार है।”

‘हिंदू आतंकवाद शब्द गढ़ने वाले दिग्विजय सिंह’

गौरतलब है कि मुस्लिम तुष्टिकरण पर अपनी राजनीति करने वाले दिग्विजय सिंह पहली बार नहीं है जब मुस्लिमों के बचाव में आए हों और हिंदुओं पर हुए हमले के लिए हिंदुओं को ही जिम्मेदार बताने का काम किया हो। यूपीए सरकार के दौरान दिग्विजय सिंह द्वारा भगवा आतंकवाद जैसे शब्द की नींव रखी गई जिसका खुलासा यूपीए सरकार के दौरान गृहमंत्रालय में अवर सचिव रहे आरवीएस मणि ने भी किया और बताया कि उनकी किताब ये स्पष्ट करती है कि कैसे दिग्विजय सिंह द्वारा हिंदू आतंक शब्द की नींव रखी गई और इसे फैलाय गया।

26/11 हमले में RSS को बदनाम करने की कोशिश

इतना ही नहीं 2008 में हुआ 26/11 एक आतंकी हमला था। लेकिन कॉन्ग्रेस नेताओं ने इसे आरएसएस द्वारा किया गया हमला बताने में कोई कसर नहीं छोड़ी। बकायदा दिग्विजय सिंह द्वारा इस संबंध में एक किताब का लोकार्पण किया गया और हिंदू आतंकवाद शब्द की अवधारणा गढ़ी गई। इस काम में दिग्विजय सिंह का साथ सोनिया गाँधी, अहमद पटेल और राहुल गाँधी ने भी दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभिनेत्री के घर पहुँची महाराष्ट्र पुलिस, लैपटॉप-फोन सहित कई उपकरण जब्त किए: पवार पर फेसबुक पोस्ट, एपिलेप्सी से रही हैं पीड़ित

अभिनेत्री ने फेसबुक पर 'ब्राह्मणों से नफरत' का आरोप लगाते हुए 'नर्क तुम्हारा इंतजार कर रहा है' - ऐसा लिखा था। हो चुकी हैं गिरफ्तार। अब घर की पुलिस ने ली तलाशी।

जिसे पढ़ाया महिला सशक्तिकरण की मिसाल, उस रजिया सुल्ताना ने काशी में विश्वेश्वर मंदिर तोड़ बना दी मस्जिद: लोदी, तुगलक, खिलजी – सबने मचाई...

तुगलक ने आसपास के छोटे-बड़े मंदिरों को भी ध्वस्त कर दिया और रजिया मस्जिद का और विस्तार किया। काशी में सिकंदर लोदी और खिलजी ने भी तबाही मचाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,227FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe