Friday, July 19, 2024
Homeराजनीतिजिसने PM मोदी के लिए कहा था- बोटी-बोटी कर देंगे, उस इमरान मसूद को...

जिसने PM मोदी के लिए कहा था- बोटी-बोटी कर देंगे, उस इमरान मसूद को कॉन्ग्रेस ने बनाया AICC सचिव

साल 2019 में ही इमरान मसूद अपनी बीवी के साथ समारो में डांस करने के कारण चर्चा में आए थे। उस समय, इमरान की डांस वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मुस्लिम संगठनों और मौलानाओं ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई थी।

हिंदू और मोदी विरोधी बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले इमरान मसूद को कॉन्ग्रेस ने राष्ट्रीय सचिव बनाया है। बतौर ऑल इंडिया कॉन्ग्रेस कमेटी (AICC) के सचिव उन्हें दिल्ली की जिम्मेदारी दी गई है। गुरुवार 3 जून 2021 को कॉन्ग्रेस ने ​5 नामों की घोषणा की जिन्हें AICC सचिव के तौर पर अलग-अलग राज्यों की जिम्मेदारी दी गई है। इनमें एक नाम मसूद का भी है। 2014 के लोकसभा चुनावों से मसूद ने नरेंद्र मोदी की बोटी-बोटी करने की धमकी दी थी।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट बताती है कि कोरोना काल में इमरान मसूद के काम को देखते हुए उन्हें यह जिम्मेदारी दी गई है। खबर के अनुसार, पार्टी जानती है कि इस नियुक्ति से उनकी आलोचना होगी क्योंकि मसूद हमेशा ही नेगेटिव कारणों से मीडिया चर्चा में रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि ऑल इंडिया कॉन्ग्रेस कमेटी ने कुछ संगठनात्मक बदलाव किए हैं। इसमें कॉन्ग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन पद जिम्मेदारी इमरान प्रतापगढ़ी को दी गई है। इसके अलावा कुछ AICC सचिवों की भी नियुक्ति हुई है।

पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने इन सचिवों की नियुक्ति की है। सप्तगिरि उलका को छत्तीसगढ़, दीपिका पांडे को उत्तराखंड, संजय दत्त को हिमाचल प्रदेश और ब्रजलाल बिहारी को बिहार की जिम्मेदारी मिली है।

इमरान मसूद को लेकर हुए विवाद

बता दें कि इससे पहले 2019 के लोकसभा चुनावों में इमरान मसूद को कॉन्ग्रेस ने उत्तर प्रदेश की चुनाव समिति का हिस्सा बनाने का निर्णय लिया था। साल 2014 में उन्हें सहारनपुर से प्रत्याशी के तौर पर उतारा था। उस समय मसूद ने सार्वजनिक रैली में घोषणा की थी कि वह ‘नरेंद्र मोदी के टुकड़े-टुकड़े कर देगा’।

इसके अलावा साल 2019 में ही इमरान मसूद अपनी बीवी के साथ समारो में डांस करने के कारण चर्चा में आए थे। उस समय, इमरान की डांस वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मुस्लिम संगठनों और मौलानाओं ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई थी। साथ ही मौलानाओं ने ये भी कहा था कि ये सब इस्लाम के ख़िलाफ़ है इसलिए इमरान को माफी माँगनी चाहिए।

वीडियो में कॉन्ग्रेसी नेता को उड़े जब-जब जुल्फें तेरी पर डांस करते देखा गया था। वीडियो को देखने के बाद इत्तेहाद उलेमा-ए-हिंद के अध्‍यक्ष मौलाना कारी मुस्तफा देहलवी ने मीडिया से हुई अपनी बातचीत में कहा, “इमरान मसूद की पत्‍नी को इस तरह के गानों पर नाचना, खुलेआम बेपर्दा होकर डांस करना जायज नहीं है, यह हराम है और इस्‍लाम इसकी इजाजत नहीं देता है। इस्‍लाम में इसकी मनाही है। इन लोगों को फौरी तौर पर अल्‍लाह से तौबा करनी चाहिए और माफी माँगनी चाहिए, यह बहुत बड़ा जुर्म है।” 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -