Sunday, July 25, 2021
HomeराजनीतिPM मोदी के टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी देने वाला इमरान मसूद कॉन्ग्रेस की चुनाव...

PM मोदी के टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी देने वाला इमरान मसूद कॉन्ग्रेस की चुनाव समिति में शामिल

एक तरफ तो कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ‘प्रेम की राजनीति’ के फ़र्ज़ी क़िस्से बुनने में व्यस्त हैं, और दूसरी तरफ वो भारत के प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ बेहद अपमानजनक टिप्पणी करने वालों पर अपनी कृपा बरसा रहे हैं।

2014 के लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी के टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी देने वाला इमरान मसूद अब आगामी लोकसभा चुनाव-2019 में कॉन्ग्रेस पार्टी (उत्तर प्रदेश) की चुनाव समिति का हिस्सा होगा। बता दें कि इमरान मसूद यूपी का पूर्व कॉन्ग्रेसी विधायक है।

कॉन्ग्रेस पार्टी ने शनिवार (फ़रवरी 23, 2019) को लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश के लिए कई समितियों की घोषणा की थी। इसमें चुनाव समिति, अभियान समिति, चुनाव रणनीति और योजना समिति, समन्वय समिति, घोषणापत्र समिति, मीडिया और प्रचार समिति जैसी विभिन्न समितियाँ शामिल हैं। इमरान मसूद को कॉन्ग्रेस पार्टी की चुनाव समिति में शामिल किया गया है।

उत्तर प्रदेश में कॉन्ग्रेस पार्टी की चुनाव समिति, इमेज साभार: ANI


कॉन्ग्रेस फ़िलहाल ऐसे लोगों को अपनी पार्टी में शामिल करने से लेकर मुख्यमंत्री बनाने में बिज़ी है जो हिंसा को भड़काने और नरसंहार में शामिल होने का इतिहास रच चुके हैं। इमरान मसूद भी उन्हीं में से एक है। हाल ही में, मसूद प्रियंका गाँधी, राहुल गाँधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ लखनऊ में प्रियंका गाँधी के पहले रोड शो के दौरान एक लक्ज़री बस में दिखा था

बता दें कि साल 2014 में जब मसूद सहारनपुर से कॉन्ग्रेस का उम्मीदवार था तब उसने एक सार्वजनिक रैली में घोषणा की थी कि वह ‘नरेंद्र मोदी के टुकड़े-टुकड़े कर देगा’।

दिलचस्ब बात एक और है कि उत्तर प्रदेश में कॉन्ग्रेस पार्टी की चुनाव समिति का नेतृत्व उत्तर प्रदेश कॉन्ग्रेस प्रमुख राज बब्बर करेंगे, जिन्होंने प्रधानमंत्री को टारगेट करके उनकी विनम्र छवि और उनके परिवार को लेकर अभद्र टिप्पणियाँ की थी। कॉन्ग्रेसी नेता राज बब्बर ने प्रधानमंत्री मोदी की माँ की उम्र का मजाक उड़ाते हुए उनकी उम्र की तुलना रुपए के गिरते स्तर से की थी।

एक तरफ तो कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ‘प्रेम की राजनीति’ के फ़र्ज़ी क़िस्से बुनने में व्यस्त हैं, और दूसरी तरफ वो भारत के प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ बेहद अपमानजनक टिप्पणी करने वालों पर अपनी कृपा बरसा रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है।

दैनिक भास्कर के ₹2,200 करोड़ के फर्जी लेनदेन की जाँच कर रहा है IT विभाग: 700 करोड़ की आय पर टैक्स चोरी का खुलासा

मीडिया समूह की तलाशी में छह वर्षों में ₹700 करोड़ की आय पर अवैतनिक कर, शेयर बाजार के नियमों का उल्लंघन और लिस्टेड कंपनियों से लाभ की हेराफेरी के आयकर विभाग को सबूत मिले हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,066FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe