Tuesday, October 19, 2021
HomeराजनीतिMLA कृष्णा पूनिया को जेड सिक्योरिटी: खाकी को दबाने का आरोप, अब 2 SI...

MLA कृष्णा पूनिया को जेड सिक्योरिटी: खाकी को दबाने का आरोप, अब 2 SI सहित 35 पुलिसकर्मी करेंगे सुरक्षा

विष्णुदत्त विश्नोई के सुसाइड के बाद राजगढ़ थाने के पुलिसकर्मियों ने बीकानेर रेंज के आईजी को पत्र लिख सामूहिक तबादले की गुहार लगाई थी। पत्र में पूनिया पर पुलिसकर्मियों की उच्च अधिकारियों से झूठी शिकायतें करने का आरोप लगाया गया था। साथ ही थाने में तैनात कुछ लोगों को लाइन हाजिर करने के पीछे भी उन्हें वजह बताया गया था।

राजस्थान से कॉन्ग्रेस की विधायक कृष्णा पूनिया फिर चर्चा में हैं। उन्हें जेड सुरक्षा देने की प्रदेश सरकार के फैसले पर सोशल मीडिया में लोग आपत्ति जता रहे हैं।

सादुलपुर की विधायक पूनिया की भूमिका को लेकर पिछले दिनों विष्णुदत्त विश्नोई के सुसाइड के बाद सवाल उठे थे। विश्नोई राजगढ़ थाने के एसएचओ थे। सुसाइड के बाद पूनिया पर दबाव बनाने के आरोप लगे थे।

राजगढ़ थाने के पुलिसकर्मियों ने बीकानेर रेंज के आईजी को पत्र लिख सामू​हिक तबादले की गुहार लगाई थी। पत्र में पूनिया पर पुलिसकर्मियों की उच्च अधिकारियों से झूठी शिकायतें करने का आरोप लगाया गया था। साथ ही थाने में तैनात कुछ लोगों को लाइन हाजिर करने के पीछे भी उन्हें वजह बताया गया था।

बताया जा रहा ही कि सीआईडी (CID) की सूचना के आधार पर पूनिया को Z सेक्योरिटी प्रदान की गई है। गहलोत सरकार ने कॉन्ग्रेस विधायक को मिल रही धमकियों के मद्देनजर यह फैसला लिया है।

राज्य सरकार के निर्देशों पर, चुरू की एसपी तेजस्विनी गौतम ने पूनिया की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की विस्तृत जानकारी जारी की है। इस जानकारी के अनुसार 2 एसआई (सब इंस्पेक्टर) सहित 35 पुलिसकर्मी पूनिया की सुरक्षा के लिए तैनात किए जाएँगे।

राज्य सरकार के इस फैसले के बाद सादुलपुर विधायक कृष्णा पूनिया राजस्थान में दूसरी ऐसी विधायक बन गई हैं जिन्हें अभी तक जेड सुरक्षा मिली। इससे पूर्व केवल कॉन्ग्रेस विधायक सचिन पायलट को ये सुरक्षा प्रदान की गई थी। अब इस निर्देश के बाद 2 एसआई समेत सभी पुलिसकर्मी कृष्णा पूनिया के घर पर शनिवार से तैनात होंगे।

इस निर्देश के तहत 2 सुरक्षागार्ड विधायक के पति व द्रोणाचार्या कोच वीरेंद्र पूनिया के भी साथ रहेंगे। तैनात किए गए सभी सुरक्षा गार्डों का वेतन और सुरक्षा लिहाज से विधायक को प्रदान की गई कारों को सारा खर्चा मिलाकर हर माह 20 लाख रुपए का खर्चा आएगा। जबकि सुरक्षागार्डों के वेतन पर हर महीने कुल 16.5 लाख का खर्चा है।

राजस्थान सरकार के इस फैसले के बाद सादुलपुर की विधायक को लेकर दोबारा से सोशल मीडिया पर चर्चाएँ शुरू हो चुकी हैं। लोगों का गहलोत सरकार से पूछना है कि आखिर गहलोत ये सुविधा देकर क्या दिखाना चाहते है?

गौरतलब है कि पिछले दिनों विष्णुदत्त बिश्नोई की आत्महत्या के बाद ये खबर आई थी कि कॉन्ग्रेस विधायक कृष्णा पूनिया के दबाव में आकर राजगढ़ पुलिस थाने के एसएचओ ने ऐसा कदम उठाया। इस संबंध में एथलीट से विधायक बनने वाली कॉन्ग्रेस नेता पर खूब आरोप लगे थे।

अब हाल में इसी संबंध में हरियाणा के गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम पर एक फेसबुक पेज बनाकर अप्रत्यक्ष रूप से पूनिया को मारने की धमकी दी गई थी। धमकी में कहा गया था कि एसएचओ विष्णुदत्त विश्नोई की मौत के पीछे जिन लोगों को हाथ था उन्हें परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए। दिलचस्प यह है कि विष्णुदत्त विश्नोई मामले में भी लॉरेंस विश्नोई का नाम सामने आया था।

कृष्णा पूनिया का कहना है कि उन्हें धमकियाँ फोन पर नहीं मिली। लेकिन सीआईडी की सूचना पर राज्य सरकार ने जेड कैटेगरी की सुरक्षा दी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe