Saturday, October 16, 2021
Homeराजनीति'लतखोर' और अजूबा हो गए हैं 'धरनामंत्री' केजरीवाल, योगी आदित्यनाथ की निंदनीय टिप्पणी

‘लतखोर’ और अजूबा हो गए हैं ‘धरनामंत्री’ केजरीवाल, योगी आदित्यनाथ की निंदनीय टिप्पणी

उन्होंने केजरीवाल से सवाल करते हुए कहा कि AAP प्रमुख शहर की सरकार के मुखिया हैं अथवा धरना और प्रदर्शन के नेता हैं?

“सबसे बड़ा अजूबा दिल्ली के मुख्यमंत्री स्वयं हो गए हैं, पता ही नहीं लगता कि वे मुख्यमंत्री हैं या धरना मंत्री। क्या मुख्यमंत्री को धरने पर बैठना चाहिए? जब कोई कोई सुधरता नहीं तो इसलिए ही उसे कहते हैं ‘लतखोर’। व्यक्ति फिर उसी तरीके से उसे जवाब देता है। वही यहाँ हो रहा है।” उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार (मई 07, 2019) को दिल्ली में एक चुनावी सभा में यह विवादित बयान दिया है जिससे अरविन्द केजरीवाल समर्थकों में खासा नाराजगी देखने को मिल रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विवादित बयान देते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ‘लतखोर’ और ‘धरनामंत्री’ कह डाला। उन्होंने केजरीवाल से सवाल करते हुए कहा कि AAP प्रमुख शहर की सरकार के मुखिया हैं अथवा धरना और प्रदर्शन के नेता हैं? पूर्वी दिल्ली से भाजपा के उम्मीदवार गौतम गंभीर के समर्थन में मंगलवार को दिल्ली में रैली को संबोधित करते हुए आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘हमें विश्वास है कि वह दिल्ली में हमारी जीत का खाता खोलेंगे, जैसे वह क्रिकेट में भारतीय टीम के लिए खाता खोलते थे।’’

यूपी सीएम ने कहा, “आज उत्तर प्रदेश में सभी जनपदों में बिजली है। पूरी सुरक्षा की व्यवस्था है। लेकिन पहले जो बीमारी उत्तर प्रदेश में थी, अब वह बीमारी आम आदमी पार्टी दिल्ली में लेकर आ गई है। जो आम आदमी पार्टी पानी पी-पीकर भ्रष्टाचार के लिए कॉन्ग्रेस को गाली देती थी, आज उस भ्रष्टाचार में स्वंय डूब गई है। बहन-बेटियों की सुरक्षा का खतरा AAP की गलत नीतियों की वजह से बढ़ा है। आप देख सकते हैं कि इनके मंत्री, विधायक रोज किसी न किसी घटना में शामिल होते हुए दिखाई देते हैं। सबसे बड़ा अजूबा तो दिल्ली के मंत्री ही हो गए हैं। पता ही नहीं चलता कि वे मुख्यमंत्री हैं या धरना मंत्री। विकास की कोई योजना आती है, तो वे धरने पर बैठ जाते हैं। जब कोई कोई सुधरता नहीं तो इसलिए ही उसे कहते हैं ‘लतखोर’। व्यक्ति फिर उसी तरीके से उसे जवाब देता है। वही यहाँ हो रहा है।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “अजहर मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया। उसकी उल्टी गिनती शुरू हो गई है, कुत्ते की मौत मरेगा जैसे ओसामा मरा था। यह मोदी जी की वजह से है, जब पाकिस्तान की बॉर्डर के अंदर आतंकियों के खिलाफ आपरेशन हुए तो कॉन्ग्रेस ने पूछा सबूत कहाँ है? आतंकवाद पर भी कॉन्ग्रेस पाकिस्तान की बोली बोलती नज़र आई।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

मुस्लिम बहुल किशनगंज के सरपंच से बनवाया था आईडी कार्ड, पश्चिमी यूपी के युवक करते थे मदद: Pak आतंकी अशरफ ने किए कई खुलासे

पाकिस्तानी आतंकी ने 2010 में तुर्कमागन गेट में हैंडीक्राफ्ट का काम शुरू किया। 2012 में उसने ज्वेलरी शॉप भी ओपन की थी। 2014 में जादू-टोना करना भी सीखा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe