Friday, July 19, 2024
Homeराजनीतिराजनीति की पिच पर 10 दिन भी नहीं टिक पाए अम्बाती रायडू: छोड़ दी...

राजनीति की पिच पर 10 दिन भी नहीं टिक पाए अम्बाती रायडू: छोड़ दी जगन रेड्डी की पार्टी, कहा – समय आने पर बताऊँगा आगे का प्लान

उन्होंने मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी से मुलाकात के बाद 'युवजन श्रमिका रायथू कॉन्ग्रेस पार्टी' ज्वाइन की थी। कयास लगाए जा रहे थे कि 2024 में उन्हें पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाया जा सकता है।

भारतीय टीम की तरफ से 55 ODI और 6 अंतरराष्ट्रीय T20 मैच खेल चुके अम्बाती रायडू राजनीति की पिच पर ज़रा सा भी नहीं टिक पाए। जगन मोहन रेड्डी की YSRCP में शामिल होने के मात्र 9 दिन बाद ही उन्होंने पार्टी छोड़ दी है। साथ ही उन्होंने राजनीति से ब्रेक लेने का भी ऐलान कर दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए बताया कि उन्होंने कुछ समय के लिए राजनीति से दूर रहने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि आगे वो क्या करने वाले हैं इस संबंध में वो खुद ही बता देंगे।

साथ ही उन्होंने अपने फैंस को धन्यवाद भी दिया। IPL में 203 मैच खेल चुके अम्बाती रायडू ‘मुंबई इंडियंस (MI)’ और उसके बाद ‘चेन्नई सुपर किंग्स (CSK)’ जैसी बड़ी टीमों का अहम हिस्सा रहे हैं। भारत की तरफ से उन्होंने वनडे मैचों में 3 शतक भी लगाए हैं। IPL में उनके 22 अर्धशतक रहे हैं। हालाँकि, अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में वो सफल नहीं रहे और उन्हें अधिक मौका भी नहीं मिला। 38 वर्षीय अम्बाती रायडू ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और आईपीएल से भी 2023 में संन्यास ले लिया है।

उन्होंने मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी से मुलाकात के बाद ‘युवजन श्रमिका रायथू कॉन्ग्रेस पार्टी’ ज्वाइन की थी। कयास लगाए जा रहे थे कि 2024 में उन्हें पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाया जा सकता है। वो अपने गृह क्षेत्र में सक्रिय भी हो गए थे। आंध्र प्रदेश में लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा के चुनाव भी होने हैं। अम्बाती रायडू को जब पार्टी में शामिल किया गया, उस कार्यक्रम में आंध्र प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री K नारायण स्वामी और राजमपेटा से लोकसभा सांसद P मिथुन रेड्डी भी मौजूद थे

अम्बाती रायडू आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में सक्रिय थे। जून 2023 में वत्तिचेरुकुरु मंडल के मुटलूरु गाँव में उन्होंने कहा था कि वो आमजनों की नसों को पढ़ने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि वो लोगों की ज़रूरतों को समझ रहे हैं, ताकि उन्हें पूरा कर सकें। उन्होंने अमीनाबाद के मुलंकारेश्वरी मंदिर और फिरंगीपुरम के साईं बाबा मंदिर व येशु चर्च का दौरा किया था और लोगों से मिले थे। उन्होंने स्कूली बच्चों के साथ भोजन भी किया था। CSK ने 2023 में आईपीएल जीता था, जिसके बाद वो टीम मैनेजमेंट के साथ भी जगन रेड्डी से मिले थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

5 साल में 123% तक बढ़ गए मुस्लिम वोटर, फैक्ट फाइडिंग रिपोर्ट से सामने आई झारखंड की 10 सीटों की जमीनी हकीकत: बाबूलाल का...

झारखंड की 10 विधानसभा सीटों के कई मुस्लिम बहुल बूथ पर 100% से अधिक वोटर बढ़ गए हैं। यह खुलासा भाजपा की एक रिपोर्ट में हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -