Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीतिसुप्रीम कोर्ट पहुँचे CM केजरीवाल, AAP पर भी चल सकता है मनी लॉन्ड्रिंग का...

सुप्रीम कोर्ट पहुँचे CM केजरीवाल, AAP पर भी चल सकता है मनी लॉन्ड्रिंग का केस: तिहाड़ में मुलाकात की भगवंत मान और संजय सिंह को नहीं मिली अनुमति

CM केजरीवाल ने ED गिरफ्त के निर्णय को हाई कोर्ट द्वारा वैध ठहराने के निर्णय के विरुद्ध अब सुप्रीम कोर्ट का रास्ता अख्तियार किया है। CM केजरीवाल ने इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि वह तुरंत सुनवाई करे। इस पर बुधवार (10 अप्रैल, 2024) को निर्णय होगा।

दिल्ली हाई कोर्ट ने आम आदमी पार्टी और शराब घोटाला मामले में तिहाड़ में बंद इसके संयोजक अरविन्द केजरीवाल की मुश्किलों में इजाफा कर दिया है। हाई कोर्ट ने कहा है कि राजनीतिक दल पर भी पैसे की हेराफेरी के अंतर्गत (PMLA) मुकदमा चल सकता है। CM केजरीवाल से मिलने की अनुमति भी राज्यसभा सांसद संजय सिंह और पंजाब CM भगवंत मान को नहीं दी गई है। CM केजरीवाल ने अब गिरफ्तारी को रद्द करवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार (9 अप्रैल, 2024) को ED द्वारा CM केजरीवाल की गिरफ्तारी को वैध ठहराया था। दिल्ली हाईकोर्ट ने ये भी कहा था कि वो कठोर रूप से दिल्ली में शराब नीति बनाने और घूस माँगने में व्यक्तिगत रूप से शामिल हैं, साथ ही AAP के संयोजक के रूप में भी वो इस अपराध में शामिल हैं।

इसी निर्णय में हाई कोर्ट ने कहा कि राजनीतिक दलों पर भी कम्पनियों की तरह ही मनी लॉड्रिंग कानून के तहत मुकदमा चलाया जा सकता है। ऐसे में कम्पनी या राजनीतिक दल का मुखिया दोषी होगा। आम आदमी पार्टी के मामले में केजरीवाल पार्टी के संयोजक हैं, अतः वही इस मामले में जिम्मेदार भी होंगे।

हाई कोर्ट ने इस निर्णय का आधार कम्पनी और राजनीतिक दल की परिभाषा को बनाया है। कोर्ट ने कहा कि राजनीतिक दल और कम्पनी, दोंनो ही लोगों का संगठन हैं, ऐसे में राजनीतिक दल भी PMLA के तहत लाए जा सकते हैं।

वहीं तिहाड़ प्रशासन ने राज्यसभा सांसद संजय सिंह और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को दिल्ली CM अरविन्द केजरीवाल से मिलने की अनुमति देने से मना कर दिया है। तिहाड़ प्रशासन ने कहा है कि वह सुरक्षा कारणों के चलते ऐसा नहीं कर सकता।

इससे पहले दोनों AAP नेताओं को बुधवार (10 अप्रैल, 2024) को दोपहर 1 बजे CM केजरीवाल से मिलने का समय दिया गया था। अब तिहाड़ प्रशासन उन्हें दूसरा समय उपलब्ध करवाएगा। सांसद संजय सिंह दिल्ली शराब घोटाला में हाल ही में जेल से जमानत पर बाहर आए हैं।

CM केजरीवाल ने ED गिरफ्त को दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा वैध ठहराए जाने के निर्णय के विरुद्ध अब सुप्रीम कोर्ट का रास्ता अख्तियार किया है। CM केजरीवाल ने इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट से अपील की है कि वह तुरंत सुनवाई करे। इस पर बुधवार (10 अप्रैल, 2024) को निर्णय होगा।

इससे पहले 21 मार्च, 2024 को गिरफ्तार होने के बाद भी CM केजरीवाल सुप्रीम कोर्ट पहुँचे थे लेकिन बाद उन्होंने यह याचिका वापस ले ली थी। उन्होंने इसके बाद ट्रायल कोर्ट और हाई कोर्ट का रुख किया था जिसमें उन्हें राहत नहीं मिली थी।

गौरतलब है कि दिल्ली शराब घोटाला में 21 मार्च, 2024 को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। उन्होंने कोर्ट ने वर्तमान में 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेजा हुआ है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -