Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीतिविजयी उम्मीदवार अब मना सकेंगे जश्न, चुनाव आयोग ने हटाया कोरोना के कारण लगा...

विजयी उम्मीदवार अब मना सकेंगे जश्न, चुनाव आयोग ने हटाया कोरोना के कारण लगा प्रतिबंध: पर निर्देशों का करना होगा पालन

"चुनाव आयोग ने 8 जनवरी 2022 को उत्तर प्रदेश, पंजाब, मणिपुर, गोवा और उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों की घोषणा की थी। तब कोरोना की गंभीरता को देखते हुए विजय जुलूस के लिए गाइडलाइन जारी की गई थी। अब कोविड की स्थिति में काफी सुधार हुआ है।"

5 राज्यों में चल रहे विधासभा चुनाव की मतगणना के बीच चुनाव आयोग ने विजय जुलूस पर लगी पाबंदी हटा ली है। कोरोना की वर्तमान स्थिति को देखते हुए ये नए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। चुनाव आयोग के अनुसार ये निर्णय स्वास्थ्य मंत्रालय और राज्य सरकारों के साथ बातचीत कर के लिया गया है। नए नियम के अनुसार अब जीते प्रत्याशियों को जिला प्रशासन और राज्य आपदा प्रबंधन संस्थाओं के दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। यह निर्णय 10 मार्च, 2022 (गुरुवार) को लिया गया है।

चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए पत्र के मुताबिक, “चुनाव आयोग ने 8 जनवरी 2022 को उत्तर प्रदेश, पंजाब, मणिपुर, गोवा और उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों की घोषणा की थी। तब कोरोना की गंभीरता को देखते हुए विजय जुलूस के लिए गाइडलाइन जारी की गई थी। अब कोविड की स्थिति में काफी सुधार हुआ है।”

गौरतलब है कि 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम में भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में काफी मजबूत स्थिति में चल रही है। इन सभी राज्यों में भाजपा द्वारा सरकार बनाने का दावा किया जा रहा है। पंजाब में आम आदमी पार्टी स्पष्ट बहुमत की तरफ बढ़ती दिखाई दे रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -