Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'जाटों की नाराजगी खत्म, पश्चिमी यूपी योगी के साथ': खुलकर समर्थन में आए लोग,...

‘जाटों की नाराजगी खत्म, पश्चिमी यूपी योगी के साथ’: खुलकर समर्थन में आए लोग, कहा- ‘योगी से अच्छा मुख्यमंत्री अभी तक नहीं मिला’

"योगी से बढ़िया सीएम तो अभी तक नहीं बने। हम किसान हैं और पूरी तरह से योगी के साथ हैं। कृषि कानून वापस लेने के बाद अब कोई भी किसान नाराज नहीं है। अब केवल ढकोसलेबाजी हो रही है।"

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। ऐसे समय में यह अफवाह फैलाया जा रहा है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों में मोदी सरकार और भाजपा के प्रति रोष है। लेकिन क्या यही सच्चाई है? इसी सवाल-जवाब की तलाश में हेडलाइंस इंडिया यूट्यूब चैनल ने लोगों की राय जानने की कोशिश की। चैनल के मुताबिक, पश्चिमी यूपी के किसान और लोगों ने खुलकर योगी सरकार का समर्थन किया।

रिपोर्ट के मुताबिक, हापुड़ के लोगों का मन तो योगी सरकार की ओर ही है। यहाँ के जाट समुदाय से आने वाले स्थानीय नागरिक धर्मवीर ततारपुर ने सीएम योगी की तारीफ करते हुए कहा:

“योगी से अच्छा मुख्यमंत्री अभी तक प्रदेश को नहीं मिला है। हम अपने हापुड़ क्षेत्र की बात करें तो यहाँ के लिए विजयपाल से अच्छा विधायक अभी तक नहीं देखा। वो चाहे रात हो या दिन, हर वक्त जनसेवा का कार्य करते रहते हैं। इसलिए जाटों का वोट तो इस बार बीजेपी को ही जाएगा। कुछ सीटों को छोड़ दें तो सारे जाट समुदाय बीजेपी की तरफ हैं।”

धर्मवीर ततारपुर के मुताबिक, “गन्ने का पेमेंट समय पर इसी सरकार ने किया है। ऐसा इससे पहले कभी नहीं हुआ।”

संदीप चौधरी नाम के व्यक्ति ने भी सीएम योगी का समर्थन करते हुए कहा, “जाट समुदाय में नाराजगी थी, लेकिन अब वो नाराजगी खत्म हो गई है। पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया और माफी माँगी, जिससे नाराजगी तो खत्म हो गई। भले ही कुछ लोगों को समझा नहीं पाए। ऐसा नहीं था कि बिल में पूरी तरह से खामियाँ ही थीं। पश्चिमी यूपी में कुछ सीटों को छोड़कर बाकी सभी बीजेपी की तरफ हैं। काम की नजर से देखें तो बीजेपी के अलावा कोई विकल्प नहीं है।”

वहीं जाट समुदाय से आने वाले यशबीर सिंह ने कहा, “योगी से बढ़िया सीएम तो अभी तक नहीं बने। हम किसान हैं और पूरी तरह से योगी के साथ हैं। कृषि कानून वापस लेने के बाद अब कोई भी किसान नाराज नहीं है। अब केवल ढकोसलेबाजी हो रही है।” लोगों का कहना है कि सरकार ने उनकी सभी शर्तों को मान लिया है और अब सरकार से कोई नाराजगी नहीं है।

आबिद नाम के मुस्लिम युवक ने भी योगी सरकार की तारीफ की और कहा सीएम योगी से मुस्लिमों में कोई डर नहीं है। इस क्षेत्र के विधायक विजयपाल अच्छा काम कर रहे हैं। वहीं आबिद ने सपा और आरएलडी के बीच गठबंधन को फेल करार दिया। उन्होंने बताया कि 20 फीसदी मुस्लिम विधायक विजयपाल से जुड़ चुके हैं। यह भी बताया कि ओवैसी को उनके क्षेत्र में वोट नहीं मिलने वाला है।

ऐसा ही एक वीडियो योगी सरकार के मीडिया एडवाइजर शलभ मणि त्रिपाठी ने भी शेयर किया है। उस वीडियो में एक व्यक्ति ने कहा कि जाट बीजेपी के साथ ही जाएगा। उस वीडियो में कहा गया है कि अगर सभी सही तरीके से टैक्स और बिल देश को देंगे, तभी तो देश आगे बढ़ेगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -