Thursday, June 13, 2024
Homeराजनीति'जाओ, दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़ो': भड़के कॉन्ग्रेसियों से बोले कमलनाथ,...

‘जाओ, दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़ो’: भड़के कॉन्ग्रेसियों से बोले कमलनाथ, वीडियो से सामने आया मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस में कलह का आलम

'मैंने बहुत पहले दिग्विजय को 'पॉवर ऑफ अटार्नी' दी थी कि आप कमलनाथ के लिए गालियाँ खाइए। गलती हो या न हो।"

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कॉन्ग्रेस 2 बड़े खेमों में बँटी नजर आ रही है। एक खेमे की अगुवाई पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कर रहे हैं, तो दूसरे की अगुवाई पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह। दोनों पर ही एक-दूसरे के समर्थकों के टिकट काटने के आरोप लग रहे हैं। इस बीच, एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें कमलनाथ कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं से कह रहे हैं कि लोग ‘दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़ें।’ इस मामले में कमलनाथ के घर पर वीरेंद्र रघुवंशी के समर्थकों ने घेरा डाला था और वो लोग उनके वीरेंद्र का टिकट कटने पर सवाल कर रहे थे।

कमलनाथ का वीडियो वायरल, भाजपा ने ली चुटकी

वीरेंद्र रघुवंशी के समर्थकों से कमलनाथ की बातचीत के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, जिसमें वो कार्यकर्ताओं से कहते दिख रहे हैं कि वो वीरेंद्र सचदेवा को उन लोगों से ज्यादा चाहते हैं। वो दावा करते हैं कि शिवपुरी सीट पर रघुवंशी को ही टिकट देना है। वो अलग-अलग नेताओं के नाम भी लेते हैं। जब कार्यकर्ता वीरेंद्र रघुवंशी के नाम को लेकर जोर देते हैं, तो कमलनाथ साफ तौर पर कहते हैं, “दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़ो।”

मध्य प्रदेश भाजपा के ‘X’ (पूर्व में ट्विटर) हैंडल पर वीडियो का एक हिस्सा जारी कर लिखा गया है, “कॉन्ग्रेस की हार का ठीकरा मिस्टर बँटाधार के सिर पर फूटने वाला है। टिकट बँटवारे से नाराज कार्यकर्ताओं को कमलनाथ की दो टूक – जाओ दिग्विजय सिंह और जयवर्धन के कपड़े फाड़ो।” बता दें कि जयवर्धन सिंह, दिग्विजय सिंह के बेटे हैं और साथ ही कॉन्ग्रेस के विधायक भी हैं।

विरोध प्रदर्शन और आक्रोश से डरे कमलनाथ: भाजपा प्रवक्ता

इसके दो वीडियो भाजपा के मध्य प्रदेश के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने पोस्ट किया और लिखा, “दलबदल कर कॉन्ग्रेस में आए वीरेन्द्र रघुवंशी का टिकट काटे जाने से उनके समर्थकों ने कमलनाथ का घर घेरा, भारी आक्रोश दिखाया। कमलनाथ ने कहा दिग्विजय सिंह और केपी सिंह के कारण यह सब हुआ। नाथ ने कहा- जाकर दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़ो। यह हालत है कि कमलनाथ प्रदेश अध्यक्ष है और उन्हें टिकटों का होश ही नहीं। कोई भी कन्फ़्यूजन पैदा कर टिकट फाइनल करा रहा है। इस विरोध प्रदर्शन व आक्रोश से श्री कमलनाथ डरे।”

गालियाँ खाने के लिए दिग्विजय सिंह को दी है ‘पॉवर ऑफ अटॉर्नी’

इसी मामले से जुड़ा एक और वीडियो भी वायरल हो रहा है, जो कॉन्ग्रेस से जुड़े कार्यक्रम का है। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल ने ये वीडियो शेयर किया है, जिसमें मंच से कमलनाथ बोलते हैं, ‘मैंने बहुत पहले दिग्विजय को ‘पॉवर ऑफ अटार्नी’ दी थी कि आप कमलनाथ के लिए गालियाँ खाइए। गलती हो या न हो।” वहीं, दिग्विजय सिंह कहते हैं कि फॉर्म A और फॉर्म B पर साइन प्रदेश अध्यक्ष (कमलनाथ) के होते हैं, ऐसे में कपड़े उन्हीं के फाड़ो।

इसी के जवाब में फिर से कमलनाथ कहते हैं, “गलती हो या न हो, गालियाँ दिग्विजय सिंह को ही खानी है और वो ‘पॉवर ऑफ अटॉर्नी’ अब भी वैलिड है।”

हालाँकि, इस विवाद के बाद दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट किया और इस विवाद को थामने की कोशिश की। दिग्विजय सिंह ने लिखा, “जब परिवार बड़ा होता है तो सामूहिक सुख और सामूहिक द्वंद्व दोनों होते हैं। समझदारी यही कहती है कि बड़े लोग धैर्यपूर्वक समाधान निकालें। ईश्वर भी उन्हीं का साथ देते हैं जो मन और मेहनत का मेल रखते हैं।”

बता दें कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान समेत 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है। इसके बाद सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। कॉन्ग्रेस के टिकट बँटवारे से कई नेता नाराज हैं। कई लोग टिकट कटने की शिकायत कर रहे हैं। वहीं, पार्टी भी दो फाड़ बँटी नजर आ रही है। ऐसे में दिग्विजय और कमलनाथ की कोशिश है कि वो अपने अधिकतम समर्थकों को टिकट दिला सके। वहीं, जिस वीरेंद्र रघुवंशी का टिकट काटा गया है, वो दलबदल कर कुछ समय पहले ही कॉन्ग्रेस में आए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -