Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीतिपहले खड़गे, फिर बजरंग दल और अब सोनिया गाँधी… अपने ही जाल में उलझी...

पहले खड़गे, फिर बजरंग दल और अब सोनिया गाँधी… अपने ही जाल में उलझी काॅन्ग्रेस: ‘संप्रभु कर्नाटक’ पर चुनाव आयोग पहुँची BJP

"उन्होंने (सोनिया गाँधी) जानबूझकर संप्रभुता शब्द का इस्तेमाल किया। कॉन्ग्रेस का घोषणा पत्र टुकड़े-टुकड़े गैंग का एजेंडा है। भारत को कमजोर करने का एजेंडा है। इसलिए वे इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं।"

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार सोमवार (8 मई 2023) को समाप्त हो गया। 224 सदस्यीय विधानसभा के लिए 10 मई को वोट डलेंगे। नतीजे 13 मई को आएँगे। बीजेपी सत्ता बरकरार रखने के दावे कर रही है। काॅन्ग्रेस का कहना है कि राज्य में सत्ता विरोधी लहर चल रही है और वह भारी बहुमत से सरकार बनाने जा रही है। जो ओपिनियन पोल सामने आए हैं उनमें कुछ बीजेपी को तो कुछ काॅन्ग्रेस को बढ़त बता रहे हैं। लेकिन इस चुनाव प्रचार के दौरान जिस एक चीज में निरंतरता दिखी, वह है अपने ही नेताओं के बयान और वादों का काॅन्ग्रेस की गले की हड्डी बनना।

सबसे पहले काॅन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को अपने उस बयान के लिए सफाई देनी पड़ी जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘जहरीला साँप’ बता दिया था। फिर बजरंग दल की तुलना प्रतिबंधित इस्लामी संगठन पाॅपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से करके पार्टी फँसी। डैमेज कंट्रोल के लिए पार्टी पहले बजरंग दल पर प्रतिबंध से पीछे हटी फिर सरकार बनने पर राज्य के हर जिले में हनुमान मंदिर बनाने का वादा किया। अब पूर्व अध्यक्ष सोनिया गाँधी के एक बयान पर पार्टी फँस गई है।

सोनिया गाँधी के ‘कर्नाटक की संप्रभुता’ वाले बयान को लेकर बीजेपी ने सोमवार (8 मई 2023) को चुनाव आयोग से शिकायत की। सोनिया के खिलाफ कार्रवाई और कॉन्ग्रेस की मान्यता रद्द करने की माँग की है। केंद्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव के नेतृत्व में बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने आयोग को ज्ञापन सौंपा है। बीजेपी ने चुनाव आयोग से अपनी शिकायत में कहा है कि कॉन्ग्रेस देश को बाँटने का काम कर रही है।

भूपेंद्र यादव ने इस संबंध में मीडियाकर्मियों से कहा, “उन्होंने (सोनिया गाँधी) जानबूझकर संप्रभुता शब्द का इस्तेमाल किया। कॉन्ग्रेस का घोषणा पत्र टुकड़े-टुकड़े गैंग का एजेंडा है। भारत को कमजोर करने का एजेंडा है। इसलिए वे इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं। कॉन्ग्रेस झूठ की बुनियाद पर यह चुनाव लड़ रही है। भारत की एकता और अखंडता के लिए जिन शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए, वो उसका इस्तेमाल करके प्रचार कर रही है।” केंद्रीय मंत्री ने उम्मीद जताई है कि चुनाव आयोग कॉन्ग्रेस के ‘राष्ट्र विरोधी कृत्य’ के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेगा।

केंद्रीय मंत्री शोभा करंदजले ने भी सोनिया गाँधी को इस बयान पर घेरा है। उन्होंने ​कहा कि राहुल गाँधी ने भी भारत को टुकड़े-टुकड़े करने की कोशिश ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में की थी। अब सोनिया गाँधी भी यही काम रही हैं। वह टुकड़े-टुकड़े गैंग की मुखिया हैं। हमने माँग की है कि उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

बता दें कि यह विवाद उस बयान को लेकर है जो कॉन्ग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शनिवार (6 मई 2023) को कर्नाटक के हुबली में हुई चुनावी रैली में सोनिया गाँधी के भाषण का जिक्र करते हुए ट्वीट किया था।

इसमें कहा गया था कि कॉन्ग्रेस की पूर्व अध्यक्ष ने 6.5 करोड़ कन्नड़ के लोगों को एक कड़ा संदेश दिया। कॉन्ग्रेस किसी को भी कर्नाटक की प्रतिष्ठा, संप्रभुता या अखंडता के लिए खतरा पैदा नहीं करने देगी। इस ट्वीट के साथ पार्टी ने जनसभा को संबोधित करते सोनिया गाँधी की तस्वीर भी साझा की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -