केजरीवाल उनके मंत्रियों का लाखों का इलाज बाहर से और जनता जाए मोहल्ला क्लीनिक: कपिल मिश्रा

"केजरीवाल के पूरे मन्त्रिमण्डल में किसी भी मंत्री के परिवार में भी कोई बीमार पड़ा तो ईलाज दिल्ली के बाहर करवाया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन तक के घर वालो ने लाखों रुपए का ईलाज बाहर करवाया, अपने बच्चों के लिए जिस हेल्थ मॉडल पर भरोसा नहीं उसे हमारे बच्चों पर थोपा जा रहा हैं।"

दिल्ली सरकार के पाँच साल के कार्यकाल में मुख्यमंत्री केजरीवाल अक्सर मोहल्ला क्लीनिक का महिमामंडन करते नहीं थकते। ये अलग बात है कि उन्ही की पार्टी से विधायक रहे और वर्तमान में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और उनके मंत्रियों पर दिल्ली सरकार के इसी दावे को लेकर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि केजरीवाल और उनके मंत्री अपने इलाज के लिए निजी अस्पताल में लाखों खर्च कर देते हैं। एक आरटीआई के हवाले से कपिल मिश्रा ने बताया कि अब तक इस सिलसिले में जनता से वसूले गए टैक्स से करीब 50 लाख रूपए खर्च किए गए हैं।

https://platform.twitter.com/widgets.js

अपने ट्वीट से इस मामले के ज़रिए दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कपिल मिश्रा ने लिखा, “केजरीवाल के पूरे मन्त्रिमण्डल में किसी भी मंत्री के परिवार में भी कोई बीमार पड़ा तो ईलाज दिल्ली के बाहर करवाया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन तक के घर वालो ने लाखों रुपए का ईलाज बाहर करवाया, अपने बच्चों के लिए जिस हेल्थ मॉडल पर भरोसा नहीं उसे हमारे बच्चों पर थोपा जा रहा हैं।”

https://platform.twitter.com/widgets.js

बता दें कि कपिल मिश्र ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट से एक वीडियो भी ट्वीट किया जिसमें उन्होंने बताया कि मोहल्ला क्लीनिक की बजाय केजरीवाल और उनके मंत्री इलाज कराने विदेश जा रहे हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

कपिल मिश्रा ने बताया, “जब आम लोगों के इलाज की बात आती है केजरीवाल उन्हें मोहल्ला क्लीनिक या फिर सरकारी अस्पताल जाने को कहते हैं। दिल्ली सरकार अपनी स्वास्थ्य सुविधाओं का प्रचार करने में ही करोड़ों खर्च कर देती है। लेकिन अगर स्वास्थ्य सुविधाएँ असल में अच्छी हैं तो फिर ये लोग अपने खुद के बच्चों या परिवार वालों को इन जगहों पर क्यों नहीं भेजते, न ही दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में भेजते हैं। अकेले केजरीवाल और उनके परिवार ने दिल्ली के बाहर इलाज करवाने में अब तक 13 लाख रूपए खर्च कर डाले। यही हाल मनीष सिसोदिया का भी है। सतेन्द्र जैन के परिवार को दिल्ली सरकार के खर्चे पर दिल्ली से बाहर भेजा जाता है। पिछले पाँच साल में दिल्ली के मंत्रियों और उनके परिवारों पर तकरीबन 50 लाख रूपए की मोटी रकम खर्च की गई।”

कपिल मिश्रा ने बताया कि यह जानकारी उन्होंने आरटीआई के ज़रिए हासिल की, इसका मतलब है वे खुद अपनी मोहल्ला क्लीनिक और स्वास्थ्य सेवाओं का असल हाल जानते हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सोनिया गाँधी
शिवसेना हिन्दुत्व के एजेंडे से पीछे हटने को तैयार है फिर भी सोनिया दुविधा में हैं। शिवसेना को समर्थन पर कॉन्ग्रेस के भीतर भी मतभेद है। ऐसे में एनसीपी सुप्रीमो के साथ उनकी आज की बैठक निर्णायक साबित हो सकती है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,489फैंसलाइक करें
23,092फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: