Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीति16 को करेंगे कमाल, राजा-महाराजाओं के दिन लद चुके: MP में कॉन्ग्रेस की रस्सी...

16 को करेंगे कमाल, राजा-महाराजाओं के दिन लद चुके: MP में कॉन्ग्रेस की रस्सी जल गई, ऐंठन बाकी

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि 15 महीनों से सत्ता से दूर शिवराज सिंह चौहान जल्द ही चौथी बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालेंगे। चिंतित कॉन्ग्रेस आलाकमान ने मुकुल वासनिक और हरीश रावत को आनन-फानन में भोपाल भेजा है।

मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत और इस्तीफे के बाद कॉन्ग्रेस की हालत पस्त है। एक तरफ कमलनाथ ने कई नेताओं को बागी विधायकों से बातचीत के काम में लगाया है, वहीं दूसरी तरफ़ भाजपा भी अब ‘विधायक बचाओ’ की नीति पर काम कर रही है। ज्योतिरादित्य सिंधिया कभी भी भाजपा का दामन थाम सकते हैं। मंगलवार (मार्च 10, 2020) को होली के दिन उनकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात भी हुई। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की इस पूरे प्रकरण में अहम भूमिका रही है। उनका ग्वालियर-चम्बल क्षेत्र में अच्छा प्रभाव है।

आज बुधवार की सुबह भोपाल में मुख्यमंत्री आवास पर कॉन्ग्रेस विधायकों का जमावड़ा लगा। वहाँ से 3 बसों में भर के उन विधायकों को रिसॉर्ट ले लाने की तैयारी की जा रही है। सभी विधायकों को जयपुर ले जाया जाएगा। 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद अब राज्य में बहुमत का आँकड़ा घट कर 104 रह गया है। कॉन्ग्रेस के विधायकों की संख्या 114 से 92 हो गई है। कमलनाथ ने अपने दो मंत्रियों सज्जन सिंह वर्मा और गोविन्द सिंह को बेंगलुरु भेजा है, ताकि वो बागी विधायकों को मना कर वापस ला सकें।

उधर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सिंधिया को विश्वासघाती करार दिया है। कॉन्ग्रेस पार्टी ने 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में सिंधिया परिवार द्वारा की गई ‘गद्दारी’ और 1967 में राजमाता विजयराजे सिंधिया द्वारा कॉन्ग्रेस विधायकों को तोड़ने वाली घटना याद करते हुए निशाना साधा। गहलोत ने कहा कि सिंधिया जैसे लोग सत्ता के बिना ज्यादा दिन तक नहीं रह सकते और इसलिए जितनी जल्दी निकल लें, सही है। वहीं लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि सिंधिया ने व्यक्तिगत महत्वाकांक्षा के कारण पार्टी छोड़ी है।

उधर मध्य प्रदेश में भाजपा के सभी विधायकों को कैलाश विजयवर्गीय और गोपाल भार्गव गुरुग्राम लेकर पहुँचे। वो सभी आईटीसी ग्रैंड भारत में रुके हुए हैं। हालाँकि, कुछ भाजपा विधायकों का कहना था कि वे होली खेलने दिल्ली आए हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि 15 महीनों से सत्ता से दूर शिवराज सिंह चौहान जल्द ही चौथी बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालेंगे। चिंतित कॉन्ग्रेस आलाकमान ने मुकुल वासनिक और हरीश रावत को आनन-फानन में भोपाल भेजा है।

मध्य प्रदेश में भाजपा के नेता नरोत्तम मिश्रा ने स्पीकर एनपी प्रजापति के आवास पर पहुँच कर उन्हें 19 कॉन्ग्रेस विधायकों का इस्तीफा सौंपा। हालाँकि, कॉन्ग्रेस अभी तक उम्मीद हारी नहीं है। पीसी शर्मा ने दावा किया कि अभी तो कमलनाथ का मास्टरस्ट्रोक बाकी है। हरियाणा में कॉन्ग्रेस के विधायक कुलदीप बिश्नोई ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी में अभी कई नेता है जो अलग-थलग महसूस कर रहे हैं।

कॉन्ग्रेस विधायक अर्जुन सिंह ने भी दावा किया है कि उनकी पार्टी विधानसभा में बहुमत साबित कर देगी। उन्होंने कहा कि 16 मार्च को सब कुछ साफ़ हो जाएगा, जब पता चलेगा कि नंबरगेम में कॉन्ग्रेस ही आगे है। उन्होंने दावा किया कि कमलनाथ सरकार अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा- “राजा -महाराजाओं के दिन लद चुके हैं।” उन्होंने कहा कि सिंधिया के पार्टी छोड़ने का कोई असर नहीं पड़ेगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe