Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिसोनिया से मुलाकात के बाद CM कमलनाथ के तोते उड़े, कमलव्यूह में 18 कॉन्ग्रेस...

सोनिया से मुलाकात के बाद CM कमलनाथ के तोते उड़े, कमलव्यूह में 18 कॉन्ग्रेस MLA

उधर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सचिन पायलट से मुलाक़ात की है। वो फिलहाल चुप्पी साधे हुए हैं। कॉन्ग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार कर्नाटक में ही मौजूद हैं लेकिन इस बार वो भी बेबस नज़र आ रहे ।

मध्य प्रदेश में सियासी संकट और गहरा हो गया है। वहाँ कमलनाथ सरकार कई समस्याओं से घिर गई है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री सोमवार (मार्च 9, 2020) को कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से दिल्ली में मिले और उसके तुरंत बाद भोपाल रवाना हो गए। हालाँकि, उन्होंने ये ज़रूर कहा कि किसी भी मसले पर पार्टी का सरकार में न कोई विवाद है और न ही कोई संकट है। लेकिन, मध्य प्रदेश में कॉन्ग्रेस व उसका समर्थन करने वाले विधायकों के बगावती तेवरों को देख कर ऐसा लगता नहीं। कहा जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कैम्प के 6 मंत्री बेंगलुरु में हैं, जिनके फोन स्विच ऑफ हैं। कुल 11 विधायक बगावती तेवर अपनाए हुए हैं।

ख़बरों में तो यहाँ तक कहा जा रहा है कि मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस की कमान ज्योतिरादित्य सिंधिया को दी जा सकती है। गुना सीट से चुनाव हारने के लिए सिंधिया राज्यसभा जाने की भी फ़िराक़ में हैं। फ़िलहाल कमलनाथ राज्य में सरकार और संगठन, दोनों के मुखिया हैं। राज्यसभा सीट की दावेदारी को लेकर भी कमलनाथ ने कहा कि कोई विवाद नहीं है और आलाकमान से चर्चा के बाद अंतिम निर्णय लिया जाएगा। कमलनाथ ने दावा किया कि जिन विधायकों के बारे कहा जा रहा है कि वो गायब थे, वो सब तीर्थयात्रा पर गए थे।

मध्य प्रदेश में यूथ कॉन्ग्रेस का चुनाव भी टाल दिया गया है। मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों की बैठक भी बुलाई है। उधर एक निर्दलीय विधायक ने गृह मंत्रालय की माँग कर के कॉन्ग्रेस को सकते में डाल दिया है। निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शोरा ने मोलजोल की शुरुआत करते हुए कहा कि उन्हें गृह मंत्रालय चाहिए क्योंकि वर्तमान मंत्री बाला बच्चन इस मंत्रालय को संभालने में नाकाम सिद्ध हो रहे हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि होली के बाद मंत्रिमंडल विस्तार होगा, तब उन्हें कोई मलाईदार विभाग दिया जा सकता है।

बता दें कि हरियाणा के गुरुग्राम से सटे तावडू में स्थित आइटीसी ग्रैंड भारत होटल में मंगलवार रात करीब 11 बजे मध्यप्रदेश नंबर की गाड़ियों से मध्यप्रदेश के आठ विधायकों के पहुँचने की ख़बर आई थी। कॉन्ग्रेस पार्टी ने दावा किया था कि उसका व उसके सहयोगियों के कुल 9 विधायकों को भाजपा ने होटल में बंद कर के रखा हुआ है। वहीं भाजपा का दावा है कि दिग्विजय सिंह ये सब कमलनाथ पर दबाव बनाने के लिए कर रहे हैं।

उधर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सचिन पायलट से मुलाक़ात की है। वो फिलहाल चुप्पी साधे हुए हैं। कॉन्ग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार कर्नाटक में ही मौजूद हैं लेकिन इस बार वो भी बेबस नज़र आ रहे ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बिहारियों के पास ज्यादा दिमाग नहीं होता’: तमिलनाडु के मंत्री KN नेहरू, DMK ने प्रशांत किशोर को बनाया था रणनीतिकार

तमिलनाडु के मंत्री व सत्ताधारी पार्टी DMK नेता KN नेहरू ने सरकारी नौकरियों को लेकर कहा कि बिहारियों के पास हमारी तरह ज्यादा दिमाग नहीं होता।

बसवराज बोम्मई ने ली कर्नाटक CM की शपथ, ‘जंजीर’ देख रहे थे पिता जब मिली थी मुख्यमंत्री चुने जाने की खबर

भाजपा नेता बसवराज बोम्मई (Basavaraj Bommai) ने बुधवार (28 जुलाई, 2021) को कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। जानिए उनके बारे में।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,580FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe