Friday, June 14, 2024
Homeराजनीति'कांशीराम को राजीव गाँधी ने कहा था CIA एजेंट: मायावती ने राहुल गाँधी को...

‘कांशीराम को राजीव गाँधी ने कहा था CIA एजेंट: मायावती ने राहुल गाँधी को बताया दलित विरोधी, कहा – अपना घर सँभल नहीं रहा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने आगे कहा कि कॉन्ग्रेस सत्ता में रहते हुए और सत्ता से बाहर हो जाने के लंबे समय बाद भी अभी तक बीजेपी से कहीं भी जी जान से लड़ती नजर नहीं आती है।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती ने ​रविवार (10 अप्रैल, 2022) को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा, “कॉन्ग्रेस पार्टी शुरू से घिनौने हथकंडे अपना रही है। इन लोगों से अपना घर तो संभल नहीं रहा है, हम पर कटाक्ष कर रहे हैं। कल सार्वजनिक तौर पर कॉन्ग्रेस द्वारा यह कहना कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीएसपी के साथ गठबंधन करने और मुख्यमंत्री बनाने के ऑफर पर मैंने कोई जवाब नहीं दिया – ये बात पूरी तरह गलत है, इसमें कोई सच्चाई नहीं है।”

उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस को दूसरी पार्टियों की चिंता करने की बजाए अपनी चिंता करनी चाहिए। बीएसपी (BSP) का काम करने का अलग तरीका है। चुनाव के बाद हर विपक्षी पार्टी द्वारा नतीजे पर समीक्षा होनी चाहिए, लेकिन इस तरह की बातें नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस का हाल अभी भी ‘खिसियानी बिल्ली खंभा नौचे’ जैसा हो गया है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मायावती (Mayawati) ने कहा कि कॉन्ग्रेस को बीएसपी को लेकर कुछ भी बोलने से पहले 100 बार सोचना चाहिए, लेकिन बाप (राजीव गाँधी) की राह पर चलकर बेटा भी बीएसपी पर निराधार आरोप लगा रहा है। अपने दौर में राजीव गाँधी ने भी बीएसपी को बदनाम और कमजोर करने के लिए कांशीराम को सीआईए (CIA) का एजेंट बता दिया था। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस बीजेपी की सेंट्रल एजेंसी से डरती है। कॉन्ग्रेस ने अपने लंबे शासनकाल में कभी भी दलितों की आर्थिक और सामाजिक स्थिति में सुधार लाने के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने आगे कहा कि कॉन्ग्रेस सत्ता में रहते हुए और सत्ता से बाहर हो जाने के लंबे समय बाद भी अभी तक बीजेपी से कहीं भी जी जान से लड़ती नजर नहीं आती है।

बता दें कि हाल ही में कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) ने मायावती को लेकर कहा था कि उन्होंने यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ा ही नहीं। अपने विवादित बयानों के लिए अक्सर सुर्खियों में रहने वाले कॉन्ग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता राहुल गाँधी ने शनिवार (9 अप्रैल, 2022) को भी दिल्ली के जवाहर भवन में दलितों पर लिखी पुस्तक ‘द दलित ट्रुथ’ के विमोचन के दौरान कुछ ऐसा कह दिया था, जिससे विवाद हो गया है। लोग उन पर दलितों को उकसा कर समाज में हिंसा फैलाने का आरोप लगा रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मेलोनी को किया नमस्ते, पोप से गले मिले… इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर, यूक्रेन से ‘Black Sea’ और फ्रांस से ‘ब्लू इकोनॉमी’ पर बातचीत, G7 में...

रक्षा, सुरक्षा, तकनीक, AI, ब्लू इकॉनमी और कई अन्य विषयों पर फ्रांस से चर्चा हुई। इंग्लैंड से सेमीकंडक्टर पर भी बात हुई। यूक्रेन से 'ब्लैक सी एक्सपोर्ट कॉरिडोर' पर बातचीत।

हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान पर ‘मत देखो’, इस्लामी कुरीति पर सवाल उठाना ‘आपत्तिजनक’: PK और ‘हमारे बारह’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दोहरा रवैया...

राधा व दुर्गा के साथ 'सेक्सी' शब्द जोड़ने वालों और भगवान शिव को बाथरूम में छिपते हुए दिखाने वालों पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कार्रवाई की थी? इस्लामी कुरीति दिखाने पर भड़क गया सर्वोच्च न्यायालय, हिन्दू धर्म के अपमान पर चूँ तक नहीं किया जाता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -