Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीति₹5569 करोड़ की राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन, ₹10000 करोड़ के एक्सप्रेसवे का जल्द निर्माण:...

₹5569 करोड़ की राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन, ₹10000 करोड़ के एक्सप्रेसवे का जल्द निर्माण: महाराष्ट्र में नितिन गडकरी

"...एक्सप्रेसवे बनाएँगे, जिस पर कोई मोड़ नहीं होगा और वाहन 140 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चल सकेंगे। इससे दोनों शहरों के बीच यात्रा में लगने वाला समय घट कर सवा घंटा रह जाएगा।"

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने रविवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद (Aurangabad) में ₹5,569 करोड़ की कीमत के 7 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा, “नई राजमार्ग परियोजनाओं से ज़िले का विकास होगा। शहर में यातायात की स्थिति बेहतर होगी और प्रदूषण भी घटेगा। शहर से ग्रामीण इलाकों में आना भी आसान हो जाएगा।”

इसके साथ ही 24 अप्रैल 2022 को उन्होंने घोषणा की है कि औरंगाबाद और पुणे के बीच यात्रा में लगने वाले समय को कम करने के लिए इन दोनों शहरों के बीच 10,000 करोड़ रुपए की लागत से एक्सप्रेसवे का निर्माण किया जाएगा। इससे औरंगाबाद से पुणे का सफर सुखद होगा।

इस अवसर पर नितिन गडकरी के साथ, वित्त राज्य मंत्री भागवत कराड और रेल राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे भी मौजूद थे। फिलहाल औरंगाबाद और पुणे के बीच का सफर तय करने में चार से पाँच घंटे लगते हैं। गडकरी ने औरंगाबाद से पुणे एक्सप्रेस हाईवे को लेकर अहम ऐलान करते हुए कहा:

“औरंगाबाद और पुणे के बीच की दूरी करीब 225 किलोमीटर है। हम इन दोनों शहरों के बीच एक्सप्रेसवे बनाएँगे, जिस पर कोई मोड़ नहीं होगा और वाहन 140 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चल सकेंगे। इससे दोनों शहरों के बीच यात्रा में लगने वाला समय घट कर सवा घंटा रह जाएगा।”

बता दें कि गडकरी ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-52 पर 3,216 करोड़ रुपए की लागत से बनाई गई 86 किलोमीटर लंबी सड़कें देश को समर्पित की। इस दौरान उन्होंने 2,253 करोड़ रुपए की लागत वाली चार अन्य सड़क परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जातिवाद, सांप्रदायिकता, परिवारवाद… PM मोदी ने देश को INDI गठबंधन की 3 बीमारियों से किया आगाह, कहा- ये कैंसर से भी अधिक विनाशक

पीएम मोदी ने कहा कि मोदी घर-घर पानी पहुँचा रहा है, सपा-कॉन्ग्रेस वाले आपके घर की पानी की टोंटी भी खोल कर ले जाएँगे और इसमें तो इनकी महारत है।"

भारत की ज्ञानकीर्ति का मुकुटमणि है कश्मीर का शंकराचार्य मंदिर: ईसाई-इस्लाम के आगामी प्रभाव से परिचित थे आचार्य शंकर, जानिए कैसे एक सूत्र में...

वैदिक ऋषियों की वेदोक्त समदृष्टि केवल उपदेश मात्र नही; अपितु यह उनका अनुभव जन्य साक्षात्कृत् ज्ञान है। जो सभी काल, स्थान, परिस्थिति में अनुकरणीय एवं अकाट्य हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -