Tuesday, April 16, 2024
Homeराजनीतितमिलनाडु में बंगाल की 86 साल की शोभा मजूमदार को PM मोदी ने किया...

तमिलनाडु में बंगाल की 86 साल की शोभा मजूमदार को PM मोदी ने किया याद, TMC कार्यकर्ताओं की पिटाई से हो गई थी मौत

"कल पश्चिम बंगाल में एक बुजुर्ग महिला शोभा मजूमदार की जान चली गई। कुछ हफ़्ते पहले हम सबने देखा कि TMC के गुंडों ने क्रूरता से उन पर हमला किया क्योंकि उनकी विचारधारा अलग थी। ये लंबे समय तक समाचारों में रहा लेकिन क्या कॉन्ग्रेस ने सहानुभूति जताई? क्या DMK और लेफ्ट ने निंदा की।"

तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर धारापुरम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार (मार्च 30, 2021) को जनसभा को संबोधित करते हुए राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता को याद करके कॉन्ग्रेस और डीएमके पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 25 मार्च, 1989 को कभी नहीं भूला जा सकता। तमिलनाडु विधानसभा में, डीएमके नेताओं ने अम्मा जयललिता के साथ कैसा व्यवहार किया? उन्होंने पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ता की माँ शोभा मजूमदार की मौत को लेकर भी विपक्ष पर निशाना साधा।

पीएम ने कहा, “कल पश्चिम बंगाल में एक बुजुर्ग महिला शोभा मजूमदार की जान चली गई। कुछ हफ़्ते पहले हम सबने देखा कि TMC के गुंडों ने क्रूरता से उन पर हमला किया क्योंकि उनकी विचारधारा अलग थी। ये लंबे समय तक समाचारों में रहा लेकिन क्या कॉन्ग्रेस ने सहानुभूति जताई? क्या DMK और लेफ्ट ने निंदा की।”

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी के गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ता की बुजुर्ग माँ की बेरहमी से पिटाई करने के एक महीने बाद उनकी मौत हो गई। बताया गया कि गंभीर चोटें लगने की वजह से बुजुर्ग महिला ने दम तोड़ दिया

पीएम मोदी बोले कि कुछ दिन पहले ही यहाँ के एक नेता ने महिलाओं को लेकर अभद्र टिप्पणी की, लेकिन डीएमके ने कुछ नहीं किया।

पीएम मोदी ने धारापुरम में कहा, “मैं आज यहाँ से कॉन्ग्रेस और डीएमके को कहना चाहता हूँ कि कृपया अपनी पार्टी के नेताओं को काबू में रखें। मैं कॉन्ग्रेस और डीएमके को बताना चाहता हूँ कि तमिलनाडु के लोग हर चीज पर गौर कर रहे हैं, वो राज्य की म​हिला का अपमान कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि 25 मार्च 1989 की तारीख को कभी मत भूलिएगा। तमिलनाडु विधानसभा में डीएमके नेताओं ने किस तरह अम्मा जयललिता के साथ व्यवहार किया था? डीएमके और कॉन्ग्रेस पार्टी दोनों ही महिला सशक्तिकरण की गारंटी नहीं दे सकती हैं। उनके शासन में महिलाओं के खिलाफ अपराध का ग्राफ बढ़ जाता है। जबकि, हमारा मानना है कि किसी भी समाज की उन्नति बिना महिलाओं के विकास के संभव नहीं है। इसीलिए हमारी सभी योजनाएँ नारी शक्ति को ताकत और मजबूती देने के लक्ष्य से बनाई गई हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि एक तरफ एनडीए के पास विकास का एजेंडा है, तो दूसरी तरफ कॉन्ग्रेस और डीएमके के पास वंशवाद का एजेंडा है। उनके नेताओं के भाषण में कुछ भी सकारात्मक नहीं दिखता है, वे शायद ही अपने विजन या काम के बारे में बात करते हैं। वे केवल दूसरों को अपमानित करते हैं और झूठ फैलाते हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि अब से कुछ दिनों में, तमिलनाडु नई विधानसभा के लिए मतदान करेगा। एनडीए परिवार राज्य के लोगों की सेवा करने के लिए आपका आशीर्वाद चाहता है। हम एमजीआर और अम्मा जयललिता जी के आदर्शों से प्रेरित, सर्वांगीण विकास के ठोस एजेंडे के आधार पर आपके वोट चाहते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि भारत को तमिलनाडु की संस्कृति पर बहुत गर्व है। मेरी ज़िंदगी का सबसे खुशी का पल तब था, जब मुझे दुनिया की सबसे पुरानी भाषा तमिल में संयुक्त राष्ट्र में कुछ शब्द कहने का मौका मिला। बता दें कि मंच पर उनके साथ मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी भी मौजूद रहे। इससे पहले उन्होंने केरल में जनसभा को संबोधित किया और शाम को पुडुचेरी में रैली संबोधित करेंगे। तीनों राज्यों में एक साथ 6 अप्रैल को चुनाव होने हैं। नतीजे दो मई को आएँगे। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe