Saturday, June 22, 2024
Homeराजनीति'पहले होते थे दंगे, अब लाखों करोड़ के निवेश': यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का...

‘पहले होते थे दंगे, अब लाखों करोड़ के निवेश’: यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का PM मोदी ने किया उद्घाटन, बोले – चौधरी चरण सिंह को संसद में बोलने भी नहीं देती थी कॉन्ग्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ के समारोह में उद्योगपतियों की मौजूदगी में कहा कि हमने यूपी में Ease Of Living और Ease Of Doing Business पर समान बल दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (19 फरवरी, 2024) को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट को संबोधित किया, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। समारोह का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि आज हम यहाँ विकसित भारत के लिए, विकसित उत्तर प्रदेश के निर्माण के संकल्प के साथ एकजुट हुए हैं, जिसमें तकनीक के माध्यम से यूपी की 400 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर लाखों लोग इस कार्यक्रम से जुड़े हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में डबल इंजन की सरकार बने 7 वर्ष हो रहे हैं, बीते 7 वर्षों में प्रदेश में रेड टेप कल्चर, रेड कार्पेट कल्चर बन गया है। उन्होंने कहा कि बीते 7 वर्षों में यूपी में क्राइम कम हुआ तो बिजनेस कल्चर का विस्तार हुआ है। साथ ही बताया कि बीते 7 वर्षों में यूपी में व्यापार, विकास और विश्वास का माहौल बना है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 7-8 वर्ष पहले हम सोच भी नहीं सकते थे कि उत्तर प्रदेश में भी निवेश और नौकरियों को लेकर ऐसा माहौल बनेगा।

उन्होंने उस दौर को याद करते हुए बताया कि कैसे तब यूपी में चारों तरफ अपराध, दंगे, छीना-झपटी जैसी खबरें आती रहती थीं और उस दौरान अगर कोई कहता कि यूपी को विकसित बनाएँगे तो कोई सुनने को भी तैयार नहीं होता, लेकिन आज देखिए लाखों-करोड़ का निवेश उत्तर प्रदेश की धरती पर उतर रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि आज यूपी वो राज्य है, जहाँ देश के सबसे ज्यादा एक्सप्रेस-वे हैं। आज यूपी वो राज्य है, जहां देश में सबसे ज्यादा इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स हैं। आज यूपी वो राज्य है, जहां देश की पहली रैपिड रेल चल रही है।

पीएम मोदी ने कहा, “आज आप दुनिया में कहीं भी जाएँ, भारत को लेकर अभूतपूर्व सकारात्मकता दिख रही है। हर देश, भारत की ग्रोथ स्टोरी को लेकर आश्वस्त है, भरोसे से भरा हुआ है। आज देश में मोदी की गारंटी की बहुत चर्चा है, लेकिन आज पूरी दुनिया, भारत को बेहतर रिटर्न की गारंटी मान रही है। अक्सर हमने देखा है कि चुनाव के नजदीक नए निवेश से लोग बचते हैं, लेकिन आज भारत ने ये धारणा भी तोड़ दी है। आज दुनियाभर के इन्वेस्टर्स को भारत में सरकार की पॉलिसी की स्टेबिलिटी पर पूरा भरोसा है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ के समारोह में उद्योगपतियों की मौजूदगी में कहा कि हमने यूपी में Ease Of Living और Ease Of Doing Business पर समान बल दिया है। डबल इंजन सरकार का मकसद है कि कोई भी लाभार्थी, किसी भी सरकारी योजना से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में लोगों को अपने ही लाभ पाने के लिए लंबी-लंबी लाइनें लगानी पड़ती थी और एक खिड़की से दूसरी खिड़की तक भागदौड़ करनी पड़ती थी, लेकिन अब हमारी सरकार खुद गरीब के दरवाजे पर आ रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब तक हर लाभार्थी को उसका हक नहीं मिल जाता, हमारी सरकार शांत नहीं बैठेगी। उन्होंने कहा कि मोदी, आज उनको भी पूछ रहा है, जिनको पहले किसी ने नहीं पूछा। बकौल पीएम मोदी, शहरों में जो हमारे रेहड़ी-पटरी वाले भाई बहन होते हैं, उनके बारे में पहले किसी ने नहीं सोचा। उन्होंने ध्यान दिलाया कि कैसे उनकी सरकार इन लोगों के लिए पीएम स्वनिधि योजना लेकर आई, अब तक देश भर के रेहड़ी-पटरी वालों को 10 हजार करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यूपी में भारत का सबसे बड़ा टूरिज्म हब बनने का सामर्थ्य है, आज देश का हर व्यक्ति वाराणसी और अयोध्या आना चाहता है। उन्होंने बताया कि हर दिन लाखों लोग इन स्थानों पर दर्शन के लिए आ रहे हैं। इस कारण यूपी में छोटे उद्यमियों, एयरलाइन्स कंपनियों, होटल, रेस्टॉरेंट वालों के लिए अभूतपूर्व अवसर बन रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पर्यटकों से आग्रह किया कि आप जब टूर पर जाने के लिए बजट बनाएँ, तो उसमें से 10% बजट जिस जगह पर जा रहे हैं, वहाँ से कुछ न कुछ खरीदने के लिए रखें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2025 में कुंभ मेले का आयोजन भी होने वाला है, ये भी यूपी की अर्थव्यवस्था के लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में टूरिज्म और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में यहाँ बहुत बड़ी संख्या में रोजगार बनने वाले हैं। उन्होंने याद किया कि अभी कुछ दिन पहले किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह जी को ‘भारत रत्न’ देने का सौभाग्य मिला। प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश की धरती के बेटे चौधरी साहब का सम्मान करना, देश के करोड़ों मजदूरों व करोड़ों किसानों का सम्मान है।

लेकिन दुर्भाग्य से ये बात कॉंग्रेस और उसके सहयोगियों को समझ नहीं आती। इन्होंने चौधरी चरण सिंह के बारे में संसद में बोलना तक मुश्किल कर दिया था। उन्होंने फूड प्रोसेसिंग से जुड़े उद्यमियों से भी विशेष आग्रह किया कि उन्हें जीरो इफेक्ट, जीरो डिफेक्ट के मंत्र पर ही काम करना चाहिए। उन्होंने कहा, “आपको एक ही ध्येय के साथ काम करना चाहिए कि दुनिया भर के देशों के डायनिंग टेबल पर कोई न कोई ‘मेड इन इंडिया’ फूड पैकेट ज़रूर हो।”

उन्होंने कॉन्ग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी ‘भारत रत्न’ पर एक ही परिवार का हक समझती थी, इसलिए दशकों तक बाबा साहब अंबेडकर को भी ‘भारत रत्न’ नहीं दिया। उन्होंने कहा कि ये लोग अपने ही परिवार को ‘भारत रत्न’ देते रहे। प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉन्ग्रेस किसान, मजदूर, गरीब, दलित, पिछड़े का सम्मान करना ही नहीं चाहती। बता दें कि यूपी दुनिया भर के निवेशकों के लिए एक नया अवसर लेकर आ रहा है, उद्योग का हब बन कर उभर रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET पेपरलीक का मास्टरमाइंड निकाल बिहार का लूटन मुखिया, डॉक्टर बेटा भी जेल में: पत्नी लड़ चुकी है विधानसभा चुनाव, नौकरी छोड़ खुद बना...

नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड में से एक संजीव उर्फ लूटन मुखिया। वह BPSC शिक्षक बहाली पेपर लीक कांड में जेल जा चुका है। बेटा भी जेल में है।

व्यभिचारी वैष्णव आचार्य, पत्रकार ने खोली पोल, अंग्रेजों के कोर्ट में मुकदमा… आमिर खान के बेटे को लेकर YRF-Netflix की बनाई फिल्म बहस का...

माँ भवानी का अपमान करने वाले को जवाब देने कारण हकीकत राय नामक बच्चे का खुलेआम सिर कलम कर दिया गया था। इस पर फिल्म बनाएगा बॉलीवुड? या सिर्फ वही 'वास्तविक कहानियाँ' चुनी जाती हैं जिनमें गुंडा कोई साधु-संत हो?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -