Sunday, April 18, 2021
Home राजनीति CAA पर हिंसा करने वाले ख़ुद से पूछें कि क्या उन्होंने सही किया, PM...

CAA पर हिंसा करने वाले ख़ुद से पूछें कि क्या उन्होंने सही किया, PM मोदी ने उपद्रवियों को चेताया

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के पितृपुरुष अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित 'अटल मेडिकल यूनिवर्सिटी' का भी शिलान्यास किया। बता दें कि लखनऊ लम्बे समय तक वाजपेयी का संसदीय क्षेत्र भी रहा है। 1991 से लेकर 2004 तक उन्होंने लगातार 5 बार यहाँ से जीत कर संसद में क़दम रखा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार (दिसंबर 25, 2019) को लखनऊ में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 25 फ़ीट ऊँची प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान उन्होंने योगी आदित्यनाथ सरकार की भी तारीफ़ की। पीएम मोदी ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि ये भी संयोग है कि सुशासन दिवस के दिन, यूपी का शासन जिस भवन से चलता है, वहाँ अटल जी की प्रतिमा का अनावरण किया गया है। उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम वाजपेयी की ये भव्य प्रतिमा, लोकभवन में कार्य करने वाले लोगों को सुशासन की, लोकसेवा की प्रेरणा देगी

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के पितृपुरुष अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित ‘अटल मेडिकल यूनिवर्सिटी’ का भी शिलान्यास किया। बता दें कि लखनऊ लम्बे समय तक वाजपेयी का संसदीय क्षेत्र भी रहा है। 1991 से लेकर 2004 तक उन्होंने लगातार 5 बार यहाँ से जीत कर संसद में क़दम रखा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा:

“अटल जी कहते थे, कि जीवन को टुकड़ों में नहीं देखा जा सकता। उसको समग्रता में देखना होगा। यही बात सरकार के लिए भी सत्य है, सुशासन के लिए भी सत्य है। सुशासन भी तब तक संभव नहीं है, जब तक हम समस्याओं को संपूर्णता में, समग्रता में नहीं सोचेंगे। हेल्थ सेक्टर के लिए सरकार का रोड मैप है। पहला Preventive healthcare पर काम करना, दूसरा Affordable healthcare का विस्तार करना, तीसरा Supply Side Interventions, यानी इस सेक्टर की हर डिमांड को देखते हुए सप्लाई को सुनिश्चित करना और चौथा- Mission Mode intervention को अमल में लाना।”

अपनी महत्वाकांक्षी योजनाओं की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि स्वच्छ भारत से लेकर योग तक, उज्ज्वला से लेकर फिट इंडिया मूवमेंट तक और इन सबके साथ आयुर्वेद को बढ़ावा देने तक- इस तरह की हर पहल बीमारियों की रोकथाम में अपना अहम योगदान दे रही है। पीएम ने आँकड़े गिनाते हुए बताया कि आयुष्मान भारत के कारण देश के करीब 70 लाख गरीब मरीजों का मुफ्त इलाज हो चुका है, जिसमें करीब 11 लाख यहीं यूपी के हैं।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने सीएए को लेकर हिंसा करने वालों को भी समझाया। उन्होंने कहा कि नागरिकों को अधिकार के साथ-साथ अपने दायित्व को भी निभाना चाहिए और संपत्ति को नुकसान पहुँचाने से बचना चाहिए। उन्होंने ऐसे लोगों को खुद से पूछने की सलाह दी कि क्या उनका रास्ता सही था, जो जलाया गया वो उनके बच्चों को काम आने वाला भी तो था। पीएम मोदी ने समझाया कि सार्वजनिक संपत्ति की सुरक्षा जनता का भी दायित्व है।उन्होंने कहा कि ऐसे क़दम उठाने से पहले मारे गए लोगों के परिजनों व घायलों के बारे में सोचना चाहिए।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने वाले फ़ैसले का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि ये एक दशकों पुरानी बीमारी थी, जो भाजपा सरकार को विरासत में मिली थी, लेकिन इसे सुलझा दिया गया। सीएए पर उन्होंने कहा कि इससे पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान और बांग्लादेश से आए लाखों दलितों व पीड़ितों को न्याय मिलेगा। उन्होंने राम जन्मभूमि मामले का शांतिपूर्वक हल निकलने की भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि दशकों पुराना अयोध्या विवाद ख़त्म हो गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदू धर्म-अध्यात्म की खोज में स्विट्जरलैंड से भारत पैदल: 18 देश, 6000 km… नंगे पाँव, जहाँ थके वहीं सोए

बेन बाबा का कोई ठिकाना नहीं। जहाँ भी थक जाते हैं, वहीं अपना डेरा जमा लेते हैं। जंगल, फुटपाथ और निर्जन स्थानों पर भी रात बिता चुके।

जिसने उड़ाया साधु-संतों का मजाक, उस बॉलीवुड डायरेक्टर को पाकिस्तान का FREE टिकट: मिलने के बाद ट्विटर से ‘भागा’

फिल्म निर्माता हंसल मेहता सोशल मीडिया पर विवादित पोस्ट को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं। इस बार विवादों में घिरने के बाद उन्होंने...

फिर केंद्र की शरण में केजरीवाल, PM मोदी से माँगी मदद: 7000 बेड और ऑक्सीजन की लगाई गुहार

केजरीवाल ने पीएम मोदी से केंद्र सरकार के अस्पतालों में 10,000 में से कम से कम 7,000 बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व करने और तुरंत ऑक्सीजन मुहैया कराने की अपील की है।

SC के जज रोहिंटन नरीमन ने वेदों पर की अपमानजनक टिप्पणी: वर्ल्ड हिंदू फाउंडेशन की माफी की माँग, दी बहस की चुनौती

स्वामी विज्ञानानंद ने SC के न्यायाधीश रोहिंटन नरीमन द्वारा ऋग्वेद को लेकर की गई टिप्पणियों को तथ्यात्मक रूप से गलत एवं अपमानजनक बताते हुए कहा है कि उनकी टिप्पणियों से विश्व के 1.2 अरब हिंदुओं की भावनाएँ आहत हुईं हैं जिसके लिए उन्हें बिना शर्त क्षमा माँगनी चाहिए।

राहुल गाँधी अब नहीं करेंगे चुनावी रैली: 4 राज्य में जम कर की जनसभा, बंगाल में हार देख कोरोना का बहाना?

पश्चिम बंगाल में कॉन्ग्रेस, लेफ्ट पार्टियों के साथ गठबंधन में है लेकिन उनके सरकार बनाने की संभावनाएँ न के बराबर हैं। शायद यही कारण है कि...

रामनवमी के अवसर पर अयोध्या न आएँ, घरों में पूजा-अर्चना करें: रामनगरी के साधु-संतों का फैसला, नहीं लगेगा मेला

CM योगी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अयोध्या के संतों से विकास भवन में वार्ता की। वार्ता के बाद संत समाज ने राम भक्तों से अपील की है कि...

प्रचलित ख़बरें

‘वाइन की बोतल, पाजामा और मेरा शौहर सैफ’: करीना कपूर खान ने बताया बिस्तर पर उन्हें क्या-क्या चाहिए

करीना कपूर ने कहा है कि वे जब भी बिस्तर पर जाती हैं तो उन्हें 3 चीजें चाहिए होती हैं- पाजामा, वाइन की एक बोतल और शौहर सैफ अली खान।

सोशल मीडिया पर नागा साधुओं का मजाक उड़ाने पर फँसी सिमी ग्रेवाल, यूजर्स ने उनकी बिकनी फोटो शेयर कर दिया जवाब

सिमी ग्रेवाल नागा साधुओं की फोटो शेयर करने के बाद से यूजर्स के निशाने पर आ गई हैं। उन्होंने कुंभ मेले में स्नान करने गए नागा साधुओं का...

’47 लड़कियाँ लव जिहाद का शिकार सिर्फ मेरे क्षेत्र में’- पूर्व कॉन्ग्रेसी नेता और वर्तमान MLA ने कबूली केरल की दुर्दशा

केरल के पुंजर से विधायक पीसी जॉर्ज ने कहा कि अकेले उनके निर्वाचन क्षेत्र में 47 लड़कियाँ लव जिहाद का शिकार हुईं हैं।

ऑडियो- ‘लाशों पर राजनीति, CRPF को धमकी, डिटेंशन कैंप का डर’: ममता बनर्जी का एक और ‘खौफनाक’ चेहरा

कथित ऑडियो क्लिप में ममता बनर्जी को यह कहते सुना जा सकता है कि वो (भाजपा) एनपीआर लागू करने और डिटेन्शन कैंप बनाने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

रोजा-सहरी के नाम पर ‘पुलिसवाली’ ने ही आतंकियों को नहीं खोजने दिया, सुरक्षाबलों को धमकाया: लगा UAPA, गई नौकरी

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले की एक विशेष पुलिस अधिकारी को ‘आतंकवाद का महिमामंडन करने’ और सरकारी अधिकारियों को...

ईसाई युवक ने मम्मी-डैडी को कब्रिस्तान में दफनाने से किया इनकार, करवाया हिंदू रिवाज से दाह संस्कार: जानें क्या है वजह

दंपत्ति के बेटे ने सुरक्षा की दृष्टि से हिंदू रीति से अंतिम संस्कार करने का फैसला किया था। उनके पार्थिव देह ताबूत में रखकर दफनाने के बजाए अग्नि में जला देना उसे कोरोना सुरक्षा की दृष्टि से ज्यादा ठीक लगा।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,232FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe