Tuesday, September 21, 2021
Homeराजनीतिअमित मालवीय के खिलाफ FIR पर रोक, राजस्थान हाई कोर्ट ने कॉन्ग्रेस को जारी...

अमित मालवीय के खिलाफ FIR पर रोक, राजस्थान हाई कोर्ट ने कॉन्ग्रेस को जारी किया नोटिस

एक ट्वीट में अमित मालवीय ने लिखा था- "सोनिया गाँधी का दावा है कि राहुल की चेतावनी के कारण भीलवाड़ा में 22 लाख लोगों का परीक्षण किया? जहाँ कहीं भी राहुल (गाँधी) हैं, क्या अतिशयोक्ति और गणित में गड़बड़ी हो सकती है?" इसी ट्वीट को आधार बनाकर किए गए FIR पर राजस्थान हाई कोर्ट ने...

राजस्थान हाईकोर्ट ने भाजपा के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय पर दर्ज की गई FIR पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने हनुमानगढ़ पुलिस को निर्देश दिया कि पूरी कार्यवाही के साथ FIR के प्रभाव और संचालन पर रोक लगाई जाए। इसके साथ ही अदालत ने कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता और राज्य सरकार को एक नोटिस भी जारी किया, और छह सप्ताह में जवाब माँगा है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस FIR के मामले में उच्च न्यायालय का रुख किया था।

अमित मालवीय के ट्वीट पर की थी FIR दर्ज

मंगलवार (मई 05, 2020) को भाजपा के आईटी विभाग के प्रभारी अमित मालवीय द्वारा कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी के खिलाफ एक ट्वीट करने के मामले में राष्ट्रीय भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। हनुमानगढ़ कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता मनोज कुमार सैनी द्वारा इस ट्वीट को अपमानजनक बताते हुए शिकायत दर्ज कराई गई थी।

दरअसल इस ट्वीट में अमित मालवीय ने लिखा था- “सोनिया गाँधी का दावा है कि राहुल की चेतावनी के कारण भीलवाड़ा में 22 लाख लोगों का परीक्षण किया? जहाँ कहीं भी राहुल (गाँधी) हैं, क्या अतिशयोक्ति और गणित में गड़बड़ी हो सकती है?”

अमित मालवीय ने भीलवाड़ा मॉडल पर किया था ट्वीट

CRPC की धारा 482 के तहत भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की ओर से दायर इस याचिका में कहा गया कि FIR में भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय द्वारा भीलवाड़ा मॉडल पर सोनिया गाँधी की ओर से उस वक्तव्य को इंगित करते हुए किए गए ट्वीट को आधार बनाया गया था, जिसमें सोनिया गाँधी ने कहा था कि राहुल की चेतावनी के बाद भीलवाड़ा में कोरोना वायरस के 22 लाख का परीक्षण हुआ।

अधिवक्ताओं ने कहा कि यदि उक्त ट्वीट के आधार पर FIR दायर की गई है तो इसमें जेपी नड्डा का कोई रोल नहीं है। दूसरा, यह ट्वीट अमित मालवीय द्वारा उनके निजी ट्विटर हैंडल से किया गया। इस पर कोर्ट ने राज्य सरकार को नोटिस जारी किया तथा अप्रार्थी संख्या 2, हनुमानगढ़ टाउन पार्षद मनोज कुमार सैनी को नोटिस जारी करते हुए छह सप्ताह में जवाब तलब किया। वहीं, FIR के क्रियान्वयन व प्रभाव तथा इसके तहत समस्त प्रकार की जाँच पर अंतरिम रोक लगाने के निर्देश दिए हैं।

अमित मालवीय कॉन्ग्रेस द्वारा कोरोना वायरस के दौरान किए गए खोखले दावों का निरंतर खंडन कर रहे हैं। कॉन्ग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने हाल ही में घोषणा कर कहा कि प्रवासियों को उनके घर भेजने व ट्रेन में आने वाले खर्चों का भुगतान कॉन्ग्रेस पार्टी करेगी। इस पर भाजपा आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने सोनिया गाँधी को निशाना बनाते हुए कहा था कि हम नहीं चाहते कि हमारे गाँव इटली जैसे बन जाएँ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

आज पाकिस्तान के लिए बैटिंग, कभी क्रिकेट कैंप में मौलवी से नमाज: वसीम जाफर पर ‘हनुमान की जय’ हटाने का भी आरोप

पाकिस्तान के साथ सहानुभूति रखने के कारण नेटिजन्स के निशाने पर आए वसीम जाफर पर मुस्लिम क्रिकेटरों को तरजीह देने के भी आरोप लग चुके हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,586FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe