Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाज'हम राम और कृष्ण के वंशज': कॉन्ग्रेस MLA सफिया जुबेर, पार्टी विधायक अमीन खान...

‘हम राम और कृष्ण के वंशज’: कॉन्ग्रेस MLA सफिया जुबेर, पार्टी विधायक अमीन खान बोले – भारत हिन्दू राष्ट्र बन जाए, फिर भी हमें कोई नहीं मारेगा

उन्होंने कहा कि राजस्थान के हर स्कूल में संप्रदाय के नाम की पूजा से कार्यक्रम शुरू करते हो, यह धर्मनिरपेक्ष देश की मजबूती के निशान नहीं हैं। लोग डर से नहीं बोलते हैं जानते सब हैं।

राजस्थान विधानसभा में बुधवार (01 मार्च, 2023) को कॉन्ग्रेस के मुस्लिम विधायकों ने बड़ी बातें बोलीं। कॉन्ग्रेस विधायक साफिया जुबेर ने खुद को राम और कृष्ण का वशंज बताया। उन्होंने कहा कि भले हमने धर्म बदल लिया हो लेकिन खून तो राम और कृष्ण का ही है। कॉन्ग्रेस विधायक अमीन खान ने भी बड़ा बयान दिया। अमीन खान ने कहा कि हमें भी हिंदू धर्म का ज्ञान है और यदि भारत हिंदू राष्ट्र हो भी गया तो हमें कोई नहीं मारेगा।

विधानसभा में शिक्षा विभाग की अनुदान माँगों पर बहस के दौरान साफिया जुबेर और अमीन खान का संबोधन चर्चा का विषय बना हुआ है। अलवर जिले की रामगढ़ सीट से कॉन्ग्रेस विधायक साफिया जुबेर अपने संबोधन के दौरान मेव समुदाय की बात की। उन्होंने कहा,”मेव लोग अलवर,भरतपुर, नूँह और थोड़ा मथुरा में बसते हैं, जहाँ कृष्ण जी का जन्म हुआ था। मैंने भी जागाओं (वंशावली की जानकारी रखने वालों) से अपना इतिहास निकलवाया है। उसमें यह निकलकर आया कि मेव तो राम और कृष्ण के वंशज हैं। चाहे धर्म का परिवर्तन हो गया हो लेकिन खून तो नहीं बदलता। खून तो हम में राम और कृष्ण का ही है।

बाड़मेर के शिव से कॉन्ग्रेस विधायक अमीन खान ने कहा कि 31 अक्टूबर, 1984 के बाद से भारत को हम सेक्युलर नहीं मानते हैं। बता दें इसी दिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या कर दी गई थी। कॉन्ग्रेस विधायक ने आगे कहा कि देश हिंदू राष्ट्र बन जाएगा तो भी हमको कोई नहीं मारेगा। उन्होनें कहा कि हम भी हिंदू धर्म का ज्ञान रखते हैं। हिंदू भी दूसरे इन्सान की रक्षा करेंगे। धर्मनिरपेक्षता सिर्फ कागजों में है। उन्होंने इसके बाद स्कूलों में होने वाली प्रार्थना पर भी सवाल उठाया।

उन्होंने कहा कि राजस्थान के हर स्कूल में संप्रदाय के नाम की पूजा से कार्यक्रम शुरू करते हो, यह धर्मनिरपेक्ष देश की मजबूती के निशान नहीं हैं। लोग डर से नहीं बोलते हैं जानते सब हैं।

बता दें कि अनुदान माँगों पर चर्चा के दौरान राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत को अपने ही विधायकों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है। विधानसभा में कॉन्ग्रेस के विधायक अपनी ही सरकार की खामियाँ गिनावा रहे थे। राजसथान सरकार में राज्य मंत्री राजेंद्र गुढ़ा और विधायक हरीश मीणा ने गहलोत सरकार को कानून व्यवस्था और पेपर लीक मामले में जमकर घेरा। यहाँ तक की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी माने जाने वाले कॉन्ग्रेस विधायक गणेश घोररा ने भी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए सरकार को घेरा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -