Saturday, July 20, 2024
Homeरिपोर्टमीडियाराजदीप को याद आया मुख्तार अंसारी का तंदूरी चिकन, अतीक ने राजदीप की बीवी...

राजदीप को याद आया मुख्तार अंसारी का तंदूरी चिकन, अतीक ने राजदीप की बीवी से की थी तहजीब के साथ बात: माफियाओं की शान में यूँ पढ़े कसीदे

राजदीप आगे कहते हैं कि जो ये डॉन होते हैं, जब आप इनके बारे में पढ़ते हैं तो आपको लगता होगा कि डॉन बहुत भयानक होंगे, डराएँगे लेकिन दोनों ने बड़े सभ्य तरीके से व्यवहार किया।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार का माफियाओं के खिलाफ एक्शन जारी है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधानसभा में माफियाओं को मिट्टी में मिलाने की बात कही थी। प्रयागराज में दिन दहाड़े हुए शूटआउट और योगी सरकार के एक्शन के बाद देश भर में माफियाओं के लेकर बहस तेज हो गई है। एक ऐसे ही बहस के दौरान पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने माफिया मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की जमकर तारीफ की। शो के दौरान उन्होंने उनकी मेहमाननवाजी को याद किया और गुणगान करते रहे।

वेबसाइट और यूट्यूब चैनल द लल्लन टॉप के नेतानगरी कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने माफियाओं के साथ अपनी मुलाकात को याद किया। उन्होंने कहा कि वर्ष 1996 में यूपी विधानसभा चुनाव के वक्त मैं दो महाशय से मिला। एक थे मुख्तार अंसारी और दूसरे अतीक अहमद। एक बात दोनों की हमेशा याद रहेगी। इस दौरान स्क्रीन पर मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की तस्वीर दिखाई जा रही होती है। मुख्तार अंसारी की मूँछों पर फिदा राजदीप कहते हैं कि जो तस्वीरें आप दिखा रहे हैं उनमें मुख्तार अंसारी की मूछों से लगता होगा कि डिस्टिंक्टिव कैरेक्टर (विशेष चरित्र) है इनका। लेकिन दोनों ने मुझे बहुत अच्छा डिनर खिलाया।

राजदीप आगे कहते हैं कि जो ये डॉन होते हैं, जब आप इनके बारे में पढ़ते हैं तो आपको लगता होगा कि डॉन बहुत भयानक होंगे, डराएँगे लेकिन दोनों ने बड़े सभ्य तरीके से व्यवहार किया। राजदीप कहते हैं कि मेरी पत्नी सागरिका भी अतीक अहमद से मिली। अतीक ने मेरी पत्नी सागरिका के साथ डिसेंट मैनर में मुलाकात की और तहजीब के साथ बात की। राजदीप ने कहा कि उन्होंने अतीक अहमद को याद दिलाया कि आप जिस लोकसभा (फुलपुर) से जीते हैं वह देश के पहले प्रधानमंत्री का पहला संसदीय क्षेत्र रहा था। इस पर अतीक हँसते हैं। राजदीप सुनाते हैं कि किस तरह अतीक संसद भवन के पास नेहरू की प्रतिमा के सामने पोज देकर फोटो खिंचाते हैं।

इस दौरान राजदीप दिलचस्पी के साथ माफियाओं के फोटो कनेक्शन और फोटो फ्रेंडली होने की जानकारी देते हैं। उनकी यह पूरी बातचीत वीडियो के 48 वें मिनट के बाद से सुनी जा सकती है। वीडियो के 52वें मिनट में राजदीप मुख्तार अंसारी के डिनर की रात खाए गए तंदूरी चिकन को याद करते हैं। राजदीप कहते हैं, “वेरी गुड तंदूरी चिकन। मैंने मुख्तार अंसारी से कहा मुख्तार अंसारी अच्छा खाना पकाते हैं।”

इतने पर शो के होस्ट सौरभ द्विवेदी उन्हें टोकते हैं कि आप अपनी निजी स्मृतियों को शो पर बोल रहे हैं, यह वीडियो वायरल होगी। इस पर राजदीप कहते हैं … कोई दिक्कत नहीं है इसमें गलत क्या है? माफियाओं की शान में कसीदे पढ़ रहे राजदीप सरदेसाई को इसमें कुछ गलत नजर नहीं आ रहा हो लेकिन क्या इस बात को नकारा जा सकता है कि इन दोनों पर हत्या और अपराध के लगभग सैकड़ों मुकदमे दर्ज है। अकेले मुख्तार अंसारी पर बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय समेत कई हत्याओं समेत 52 मुकदमे दर्ज हैं। अतीक अहमद पर भी कई हत्याओं समेत 100 से अधिक मामले दर्ज हैं।

ऐसे में राजदीप किस एजेंडे के तहत दोनों अपराधियों की सकारात्मक छवि समाज पर थोपने की कोशिश कर रहे हैं यह तो वही जानें।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -