Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिआज अमित शाह का फर्जी वीडियो, कभी नुपूर शर्मा को दी थी सरेआम धमकी-गाली:...

आज अमित शाह का फर्जी वीडियो, कभी नुपूर शर्मा को दी थी सरेआम धमकी-गाली: पुराना टुच्चा है असम से गिरफ्तार कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता ऋतम सिंह

ऋतम सिंह ने अमित शाह की फर्जी वीडियो शेयर की, जिसके कारण उसकी गिरफ्तारी हुई... लेकिन इस हरकत से पहले भी ऋतम कानून को अपने हाथ में लेने का काम कई बार कर चुका है। उसने इससे पहले ऑपइंडिया की ही चीफ एडिटर को धमकी देने का काम सोशल मीडिया पर किया था।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की फर्जी वीडियो शेयर करने के मामले में असम के कॉन्ग्रेसी कार्यकर्ता ऋतम सिंह को गिरफ्तार किया गया है। इस गिरफ्तारी के बारे में खुद असम सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने अपने एक्स पर जानकारी दी है।

असम सीएम हिमंता बिस्वा सरमा कहते हैं, “असम पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है जिसका नाम ऋतम सिंह है। उसे गृह मंत्री की फेक वीडियो शेयर करने के मामले में पकड़ा गया है।”

बता दें कि ये उसी वीडियो से जुड़ा मामला है जिसे दो दिन पहले कॉन्ग्रेसी ये कहकर ट्वीट कर रहे थे कि अमित शाह ने चुनाव जीतने पर आरक्षण खत्म करने की बात कही है। इस संबंध में तेलंगाना सीएम रेवंत रेड्डी को भी समन भेजा गया था।

वहीं ऋतम सिंह की बात करें तो ये जानना जरूरी है कि ऋतम पहली बार भारतीय कानून को खिलवाड़ बनाते टाइम नहीं पकड़ा गया। इसी ऋतम सिंह ने कुछ दिन पहले अपने ट्विटर पर कहा था कि अगर मोदी और उसकी कंपनी को जेल में देखना है तो भाजपा के विरुद्ध वोट करो। इसके अलावा हर राइट विंग अकॉउंट की डिटेल रखो। सबका हिसाब होगा। सबका बदला लिया जाएगा।

इसी ऋतम ने NSUI का सदस्य रहते हुए साल 2019 में ऑपइंडिया की चीफ एडिटर नुपूर झुनझुनवाला शर्मा (नुपूर जे शर्मा) को धमकियाँ दीं थी। उनकी निजी जानकारियों की डॉक्सिंग की थी। ऐसा सिर्फ इसलिए क्योंकि ऑपइंडिया की चीफ एडिटर ने इस बात का खुलासा किया था कि ये शख्स सीएए विरोधी प्रदर्शनों को हवा देने का काम करता था। इस संबंध में 24 दिसंबर 2019 को एक शिकायत भी दर्ज हुई थी।

आप उस आर्टिकल को इस लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं। इसमें बताया गया है कि कैसे सीएए विरोधी प्रदर्शनों को बढ़ाने में एक वॉट्सएप ग्रुप की भूमिका थी जिसका एक एडमिन ऋतम भी था और इसमें रणनीति बनाई जा रही थी कि प्रदर्शन में बचाव के लिए महिलाएँ आगे रखी जाएँ।

जब नुपूर शर्मा ने इस पर रिपोर्ट की तो उसके बाद से उन्हें धमकियाँ आनी शुरू हुईं। इसके बाद कई मुद्दों पर ऋतम को नुपूर शर्मा के साथ उलझते देखा गया।

कुछ समय पहले ऋतम सिंह ने नुपूर शर्मा को कहा था कि वो उनको उसी तरह ढूँढ निकालेगा जैसे बिन लादेन को सीआईए ने ढूँढा था।

इसके अलावा ऋतम ने नुपूर शर्मा की तुलना आतंकियों तक से की हुई है। साथ ही ये भी कामना की थी कि गरुड़ पुराण के मुताबिक नुपूर को सबसे सख्त सजा मिले और वो नरक में जाएँ।

बता दें कि 5 साल पहले तक NSUI का सदस्य रहा ऋतम अब असम कॉन्ग्रेस का ‘वार रूम कॉर्डिनेटर’ है। उस पर सोशल मीडिया पर ऐसी हरकत करने के कई आरोप हैं। इस बार भी उसने ऐसा ही कुछ किया लेकिन वो पकड़ा गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -