Thursday, July 18, 2024
Homeराजनीतिकैराना से सपा उम्मीदवार नाहिद हसन को यूपी पुलिस ने किया गिरफ्तार, कोर्ट में...

कैराना से सपा उम्मीदवार नाहिद हसन को यूपी पुलिस ने किया गिरफ्तार, कोर्ट में पेश किया गया: 2 दर्जन से अधिक मामलों में वॉन्टेड

उनके खिलाफ पुलिस में दो दर्जन से अधिक​ आपराधिक मामले दर्ज हैं। लम्बे समय तक फरार रहने वाले नाहिद हसन ने जनवरी 2020 में अदालत में सरेंडर किया था।

उत्तर प्रदेश के कैराना से शनिवार (15 जनवरी 2022) को समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नाहिद हसन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यूपी पुलिस ने नाहिद को कोर्ट में पेश किया है। कोर्ट में इस मामले पर सुनवाई चल रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पहले चरण के चुनाव के नामांकन के पहले दिन ही नाहिद हसन के प्रस्तावकों ने वकील की मौजूदगी में एसडीएम कोर्ट शामली में पर्चा दाखिल कराया।

समाजवादी पार्टी द्वारा गुरुवार (13 जनवरी 2022) को शामली जिले की कैराना सीट के लिए नाहिद हसन का नाम घोषित किया गया था। उनके खिलाफ पुलिस में दो दर्जन से अधिक​ आपराधिक मामले दर्ज हैं। लम्बे समय तक फरार रहने वाले नाहिद हसन ने जनवरी 2020 में अदालत में सरेंडर किया था। लगभग 1 माह से अधिक समय तक जेल में रहने के बाद उन्हें जमानत मिली थी। फरवरी 2021 में उत्तर प्रदेश पुलिस ने नाहिद हसन, उनकी माँ पूर्व सांसद तबस्सुम और 38 अन्य लोगों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की थी।

नाहिद को कैराना से हिन्दुओं के अतिचर्चित पलायन का मास्टरमाइंड भी कहा जाता है। भाजपा ने रालोद-सपा गठबंधन में नाहिद हसन को दोबारा टिकट दिए जाने को समाजवादी पार्टी का ‘जिन्नावाद’ बताया है। साथ ही सपा के इस फैसले पर बीजेपी नेताओं ने सवाल खड़े किए हैं, क्योंकि हसन पर जमीन खरीदने के मामले में धोखाधड़ी का भी केस दर्ज है। इसके अलावा शामली जिले की विशेष अदालत से उसे भगोड़ा भी घोषित किया जा चुका है।

बता दें कि बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने सपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए शुक्रवार को ट्वीट किया था। उन्होंने कहा था, “अखिलेश यादव ने अपनी सरकार में जिस कैराना से हिन्दुओं को पलायन करने पर मजबूर किया था आज उसी विधानसभा क्षेत्र से कुख्यात गैंगस्टर को प्रत्याशी बनाकर समाजवादी पार्टी कैराना को फिर से उसी कालखंड में ले जाना चाहती है!”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -