Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिमंदिरों के खुलने से बढ़ रहा महाराष्ट्र में कोरोना: शिवसेना ने भाजपा पर लगाया...

मंदिरों के खुलने से बढ़ रहा महाराष्ट्र में कोरोना: शिवसेना ने भाजपा पर लगाया आरोप

महाराष्ट्र सरकार ने बृहस्पतिवार को कोरोनो वायरस मामलों में एक बार फिर उछाल आने के बाद राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में लॉकडाउन सहित नए कोरोना दिशानिर्देशों की घोषणा की है।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और अब वहाँ की सत्ताधारी पार्टी शिवसेना ने इसके लिए राज्य में विपक्ष में बैठी भाजपा (BJP) को ही जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के जरिए भाजपा को राज्य में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के लिए जिम्मेदार ठहराया। पार्टी ने कहा है कि मंदिरों के खुलने और BJP की ‘मंदिर राजनीति’ की वजह से ऐसे हालात पैदा हुए हैं।

शिवसेना ने कहा कि विपक्षी दल भाजपा के दबाव के कारण मंदिरों को खोलने का निर्णय लिया गया। महाराष्ट्र में स्थिति दिन पर दिन बदतर होती जा रही है और प्रतिदिन कोरोना के 6000 से भी अधिक मामले सामने आ रहे हैं। राज्य में कोरोना के कुल 44,765 सक्रिय मामले है। केरल 59,817 मामलों के साथ अब भी देश भर में नंबर-1 पर बना हुआ है और वहाँ भी हालात सुधरते नहीं दिख रहे हैं।

महाराष्ट्र में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 20,87,632 मामले सामने आए हैं, जो पूरे देश में सर्वाधिक है। इसके बाद 10,25,938 मामलों वाले केरल का नंबर आता है। आप देख सकते हैं कि पहले और दूसरे स्थान पर काबिज इन राज्यों के बीच दोगुने का फासला है। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना ने 51,713 लोगों की जान ली है। जानने वाली बात ये है कि दूसरे किसी भी राज्य में इस संक्रमण से इसके एक चौथाई लोग भी नहीं मरे हैं।

ऐसा नहीं है कि महाराष्ट्र टेस्टिंग के मामले में सबसे आगे है, क्योंकि उत्तर प्रदेश 3 करोड़ टेस्टिंग के साथ नंबर-1 पर काबिज है और इस मामले में महाराष्ट्र पाँचवें नंबर पर आता है जहाँ 1.6 करोड़ टेस्टिंग हुई है। सीएम उद्धव ठाकरे कह रहे हैं कि मास्क पहनना ही कोरोना के खिलाफ एकमात्र ढाल है। भाजपा विधायक आशीष सेलार ने पूछा है कि आखिर ऐसी स्थिति कैसे आई कि राज्य में दोबारा लॉकडाउन लगाने की बातें हो रही हैं?

महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री बच्चू कडु दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। इससे पहले सितम्बर 2020 में भी उन्हें कोरोना हुआ था। अमरावती जिले के आँचलपुर के विधायक ने उनसे सभी से टेस्ट कराने की अपील की है, जो उनके संपर्क में आए। राज्य के दो अन्य मंत्री राजेश टोपे और जयंत पाटिल को भी कोरोना हो गया है। मार्च के पहले हफ्ते के आसपास राज्य में बजट भी आना है, ऐसे में समस्या गंभीर हो गई है।

ज्ञात हो कि महाराष्ट्र सरकार ने बृहस्पतिवार (फरवरी 18, 2021) को कोरोनो वायरस मामलों में एक बार फिर उछाल आने के बाद राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में लॉकडाउन सहित नए कोरोना दिशानिर्देशों की घोषणा की। तीन दिन पहले ही अकेले मुंबई में कोरोना संक्रमण के 700 नए मरीज सामने आए थे। इसके बाद महाराष्ट्र में सख्ती बढ़ा दी गई है। बीएमसी ने सार्वजनिक रूप से मास्क के बिना पाए जाने पर लोगों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कराहते केरल में बकरीद के बाद बिकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

साँवरें के रंग में रंगी हरियाणा की तेजतर्रार महिला IPS भारती अरोड़ा, श्रीकृष्‍ण भक्ति के लिए माँगी 10 साल पहले स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने इस खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया है कि अंबाला रेंज की आइजी भारती अरोड़ा ने वीआरएस के लिए आवेदन किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,696FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe