Monday, June 24, 2024
Homeराजनीति'सोनिया गाँधी की डिग्री दिखाओ, घर पर नौकर बन करूँगा काम': सूरत के कारोबारी...

‘सोनिया गाँधी की डिग्री दिखाओ, घर पर नौकर बन करूँगा काम’: सूरत के कारोबारी ने कॉन्ग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत को दी चुनौती

बता दें कि ट्विटर पर Mr. Sinha के नाम से मशहूर रौशन सूरत के कारोबारी हैं। मिस्टर सिन्हा सूरत में एक प्लास्टिक कंपनी, एक कूरियर सर्विस और एक जिम के मालिक हैं। इसके अलावा मिस्टर सिन्हा सोशल मीडिया कंसल्टेंसी कंपनी भी चलाते हैं।

कॉन्ग्रेस के नेता देश के प्रधानमंत्री की शिक्षा को लेकर अक्सर विवाद खड़ा करने की कोशिश करते रहते हैं। अक्सर उनकी शैक्षिक डिग्री माँगी जाती है। ऐसे में ट्वीटर यूजर ऋषि बागरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्रियाँ सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दीं और कॉन्ग्रेस पार्टी से राहुल गाँधी व सोनिया गाँधी की डिग्रियाँ दिखानी की माँग करने लगे।

ऋषि बागरी की पोस्ट के बाद कई अन्य यूजर्स ने उनका समर्थन किया और कॉन्ग्रेस नेताओं से राहुल गाँधी व सोनिया गाँधी की शैक्षिक डिग्री दिखाने की माँग करने लगे। ऋषि बागरी ने ट्वीटर पर लिखा, “मैं पीएम मोदी की बीए और एमए की डिग्री पोस्ट कर रहा हूँ। अब मैं कॉन्ग्रेस पार्टी को राहुल गाँधी और सोनिया गाँधी की शैक्षिक डिग्री पोस्ट करने की चुनौती दे रहा हूँ।

ऋषि बागरी की इस ट्वीट को रौशन सिन्हा उर्फ मिस्टर सिन्हा (Mr. Sinha) ने शेयर करते हुए कॉन्ग्रेस नेत्री सुप्रिया श्रीनेत को टैग किया। उन्होंने लिखा, “हेलो सुप्रिया श्रीनेत… यदि आप सोनिया गाँधी की डिग्री पोस्ट करती हैं तो मैं ट्विटर छोड़ दूँगा और आपके घर पर घर का काम करना शुरू कर दूँगा जैसे आप 10JP में करती हैं।”

बता दें कि ट्विटर पर Mr. Sinha के नाम से मशहूर रौशन सूरत के कारोबारी हैं। मिस्टर सिन्हा सूरत में एक प्लास्टिक कंपनी, एक कूरियर सर्विस और एक जिम के मालिक हैं। इसके अलावा मिस्टर सिन्हा सोशल मीडिया कंसल्टेंसी कंपनी भी चलाते हैं।

बता दें कि राहुल गाँधी ने 2004 के आम चुनावों और 2009 व 2014 के चुनावों में अलग-अलग शैक्षिक योग्याताओं का उल्लेख किया था। 2009 और 2014 के अनुसार राहुल गाँधी ने 1989 में माध्यमिक परीक्षा पास की। उसके बाद 1994 में स्नातक हुए और 1995 में ट्रिनिटी कॉलेज कैम्ब्रिज से एम.फिल किया।

लेकिन वर्ष 2004 के लोकसभा चुनाव के लिए दिए गए उनके हलफनामे में माध्यमिक और ट्रिनिटी कॉलेज की शिक्षा का तो उल्लेख है लेकिन किसी स्नातक डिग्री की जानकारी नहीं दी गई है। 2004 के हलफनामे के अनुसार सेकेंडरी स्कूल पास करने के बाद राहुल गाँधी ने एम.फिल किया।

इसी तरह सोनिया गाँधी की शैक्षिक डिग्री को लेकर भी 2 चुनावों में अलग-अलग जानकारी दी गई। वर्ष 2004 के आम चुनावों के लिए दिए गए हलफनामे के अनुसार उन्हें कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के लोमेक्स कूक स्कूल से अंग्रेजी का सर्टिफिकेट मिला हुआ था। बाद में पता चला कि कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के तहत ऐसा कोई स्कूल है ही नहीं। सोनिया गाँधी ने 2009 के आम चुनावों में दिए हलफनामे में इसे लोमेक्स कूक स्कूल, कैम्ब्रिज बताया। जिसका अर्थ यह हुआ कि यह कैंब्रिज यूनिवर्सिटी का नहीं बल्कि कैंब्रिज शहर स्थित एक स्कूल है।

नोट- हमारे इस पोस्ट को मूल रूप से अंग्रेजी में लिखा गया है जिसे आम इस लिंक पर जा कर पढ़ सकते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार में EOU ने राख से खोजे NEET के सवाल, परीक्षा से पहले ही मोबाइल पर आ गया था उत्तर: पटना के एक स्कूल...

पटना के रामकृष्ण नगर थाना क्षेत्र स्थित नंदलाल छपरा स्थित लर्न बॉयज हॉस्टल एन्ड प्ले स्कूल में आंशिक रूप से जले हुए कागज़ात भी मिले हैं।

14 साल की लड़की से 9 घुसपैठियों ने रेप किया, लेकिन सजा 20 साल की उस लड़की को मिली जिसने बलात्कारियों को ‘सुअर’ बताया:...

जर्मनी में 14 साल की लड़की का रेप करने वाले बलात्कारी सजा से बच गए जबकि उनकी आलोचना करने वाले एक लड़की को जेल भेज दिया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -