Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिमंत्री नसर ने अपने ही कार्यकर्ताओं पर की पत्थरबाजी, कुर्सी लाने में देरी से...

मंत्री नसर ने अपने ही कार्यकर्ताओं पर की पत्थरबाजी, कुर्सी लाने में देरी से भड़के थे DMK नेता: तमिलनाडु का वीडियो हुआ वायरल

दरअसल, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन बुधवार (25 जनवरी, 2023) को आने वाले हैं। इसी कार्यक्रम के बंदोबस्त और तैयारी का निरीक्षण करने मंत्री नसर यहाँ पहुँचे थे।

तमिलनाडु के एक मंत्री का अपने कार्यकर्ताओं पर पत्थर फेंकते हुए वीडियो मंगलवार (24 जनवरी, 2023) को वायरल हो गया है। दरअसल राज्य के दूध एवं डेयरी विकास मंत्री एसएम नसर (SM Nasar) मुख्यमंत्री एमके स्टालिन (MK Stalin) के एक कार्यक्रम का निरीक्षण करने तिरुवल्लुर (Tiruvallur) पहुँचे थे। वहाँ पहुँचने के बाद वह बैठने के लिए कुर्सी का इंतजार कर रहे थे। हालाँकि, जब कुर्सी लाने में देरी हुई तो मंत्री ने अपना आपा खो दिया और अपने ही कार्यकर्ताओं पर पत्थर चला दिया।

घटना का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि मंत्री पहले हाथ से कुर्सी लाने का इशारा करते हैं। फिर अचानक वह काफी गुस्से में आ जाते हैं और जमीन से पत्थर उठाकर जोर से कार्यकर्ताओं की तरफ मारते हैं। वहाँ मौजूद लोग मंत्री की हरकत देख हँस पड़ते हैं। इस बीच तेजी से एक कार्यकर्ता उनकी ओर कुर्सी लाता दिखता है। इस दौरान मंत्री कुछ बड़बड़ाते हुए भी दिखते हैं। इतना ही नहीं, मंत्री को इस तरह से पत्थर चलाता देख उनके सुरक्षा गार्ड्स भी हँस पड़ते हैं।

दरअसल, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन बुधवार (25 जनवरी, 2023) को आने वाले हैं। इसी कार्यक्रम के बंदोबस्त और तैयारी का निरीक्षण करने मंत्री नसर यहाँ पहुँचे थे। सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं लोग इस वीडियो को देख तरह-तरह की प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं। एक यूजर लिखते हैं, “वह अप्रत्यक्ष रूप से जनता को बता रहे हैं कि सत्ता में बैठे लोगों की सेवा में देरी होने पर लोगों को शरिया कानून के तहत दंडित किया जा सकता है।”

वहीं मंत्री पिछले साल भी झूठी खबर फैलाने के बाद सुर्खियों में आ गए थे। उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी सरकार ने दूध के लिए गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) लगाया है, जिसके कारण दूध की कीमतें बढ़ी हैं। उन्होंने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा था, “केंद्र सरकार ने दूध पर भी GST लगाया है। यह एक आश्चर्यजनक घटना है। दूध पर जीएसटी लगाने के परिणामस्वरूप दूध का बिक्री मूल्य बढ़ गया है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -