Wednesday, December 8, 2021
Homeराजनीतिअमित शाह के 9 साल पुराने शेर को फडणवीस ने दोहराया, उद्धव ने कहा-...

अमित शाह के 9 साल पुराने शेर को फडणवीस ने दोहराया, उद्धव ने कहा- PM मोदी का आया था फोन

"फडणवीस ने वापसी की तो बात की है लेकिन लौटने के बाद वो कहाँ बैठेंगे, ये नहीं बताया। नेता प्रतिपक्ष होने के नाते वो भी मुख्यमंत्री स्तर के पद पर ही हैं।"

महाराष्ट्र विधानसभा में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र ने एक-दूसरे को लेकर टिप्पणी की। जहाँ उद्धव ने कहा कि फडणवीस हमेशा उनके दोस्त रहेंगे, देवेंद्र फडणवीस ने एक शायरी के माध्यम से अपनी बात रखी। उद्धव ठाकरे ने बताया कि जब उन्होंने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें फोन कर के बधाई दी थी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को किसानों की समस्याएँ सुलझाने में महाराष्ट्र सरकार की मदद करनी चाहिए। ठाकरे ने कहा कि विपक्ष के नेताओं को पीएम मोदी से मुलाक़ात कर राज्य के लिए वित्तीय मदद माँगनी चाहिए।

इससे पहले राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने सदन को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार स्थानीय नागरिकों को प्राइवेट सेक्टर में 80% नौकरी देने का क़ानून बनाने जा रही है। वहीं फडणवीस ने इस शेर के माध्यम से अपंनी वापसी का संकेत दिया:

मेरा पानी उतरता देख
किनारे पर घर मत बना लेना,
मैं समंदर हूँ
लौटकर जरूर आऊँगा

यह भी गौर करने लायक है कि 2010 में जब गुजरात के तत्कालीन गृह मंत्री अमित शाह को गिरफ़्तार किया गया था, तब उन्होंने यही शेर पढ़ा था। वह 3 महीने जेल में रह कर अक्टूबर 2010 में निकले थे। उस समय पी चिदंबरम देश के गृह मंत्री थे। फ़िलहाल चिदंबरम तिहाड़ जेल में बंद हैं।

वहीं महाराष्ट्र की बात करें तो सीएम उद्धव ठाकरे ने फडणवीस की शायरी पर तंज कसा। उद्धव ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि वो वापस आएँगे लेकिन फिर भी वो इस सदन में आ गए। उन्होंने कहा कि सालों तक उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी रहे लोग आज उनके साथ सरकार में हैं और दशकों तक उनके साथी रहे लोग आज विपक्ष की बेंच पर बैठे हुए हैं। एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने भी फडणवीस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्होंने वापसी की तो बात की है लेकिन लौटने के बाद वो कहाँ बैठेंगे, ये नहीं बताया। पाटिल ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष होने के नाते फडणवीस भी मुख्यमंत्री के स्तर के पद पर ही हैं।

पाटिल ने उम्मीद जताई कि फडणवीस अब ठाकरे सरकार को अपदस्थ करने का कोई प्रयास नहीं करेंगे। वहीं फडणवीस ने कहा कि सरकार को जब भी उनकी ज़रूरत पड़ेगी, वो हाज़िर रहेंगे। उन्होंने कहा कि वो उद्धव के साथ 5 वर्षों तक काम करने के लिए उन्हें धन्यवाद देते हैं। उन्होंने सरकार से माँग करते हुए कहा कि किसानों को फसल क्षति के लिए 25000 रुपए प्रति हेक्टेयर दिए जाने चाहिए।

शरद पवार की 2 डिमांड पूरी कर देते मोदी-शाह तो उद्धव ठाकरे नहीं बनते महाराष्ट्र के सीएम

लौट के CM ठाकरे ‘हिंदुत्व’ को आए: गणपति बाप्पा की शरण में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

BJP लीडर की BMW कार में सीनियर कॉन्ग्रेसी नेता और पवार की मीटिंग: महाराष्ट्र में ऐसे चला सत्ता का खेल

’41 से 153 दिन के अंदर गिर जाएगी महाराष्ट्र की नई सरकार, अधिकतर सीटें भी राज्य में खो देंगे’

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोरोना काल में ₹42 लाख का क्रिकेट मैच… खिलाड़ी झारखंड के ‘माननीय’ MLA लोग, मैन ऑफ द मैच खुद CM सोरेन

कोरोना महामारी के दौरान 42 लाख रुपए का क्रिकेट मैच खेल लिया झारखंड के विधायकों ने। मैन ऑफ द मैच खुद बने मुख्यमंत्री सोरेन।

‘वसीम रिजवी का सिर कलम करने वाले को 25 लाख रुपए का इनाम’: कॉन्ग्रेस नेता ने खुलेआम किया दोबारा ऐलान

कॉन्ग्रेस विधायक राशिद खान ने मंगलवार को कहा कि वह शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी का सिर काटने वाले को 25 लाख रुपए का इनाम देने की बात पर अभी भी कायम हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
142,284FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe