Sunday, May 19, 2024
Homeराजनीति'योगी शेर और मैं कबूतर': शायर मुनव्वर राना ने फिर रोना रोया, कहा- चुनाव...

‘योगी शेर और मैं कबूतर’: शायर मुनव्वर राना ने फिर रोना रोया, कहा- चुनाव बाद गर्मी निकलने वाली है, इसलिए गर्मी स्टोर कर रहा हूँ

मुनव्वर राना अपने कट्टरपंथी बयानों के लिए भी अक्सर चर्चा में रहते हैं। उन्होंने इस्लामिक आतंकी संगठन तालिबान को स्वतंत्रता सेनानी कहा था। वहीं, महर्षि वाल्मिकी को डाकू कहा था। मुनव्वर ने तालिबान के साथ वाल्मिकी की तुलना की थी। इस बयान के बाद उनके खिलाफ कई एफआईआर हुई थी।

विवादित शायर मुनव्वर राना (Munawwar Rana) ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditynath) शेर हैं और वह कबूतर हैं। उन्होंने कहा कि उन जैसी चिड़ियों की आवाज सुनाई नहीं देती है। उन्होंने कहा कि वह यूपी में जारी विधानसभा चुनावों में अपना वोट डालने से वंचित कर गए हैं।

दैनिक भास्कर से बातचीत में राना ने एक बार फिर विक्टिम कार्ड खेलते हुए खुद को निरीह दिखाने की कोशिश की। उन्होंने कहा, “इस प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शेर हैं, वह दहाड़ रहे हैं। मैं तो एक कबूतर की तरह हूँ, मेरी कौन सुनेगा? हम जैसी चिड़ियों की आवाज कहाँ सुनाई देगी? जंगल में एक चिड़िया की हैसियत क्या है?”

इतना ही नहीं, अपने भड़काऊ और कट्टरपंथी बयानों के लिए कुख्यात पलायनवादी शायर राना ने ABP न्यूज से बात करते हुए कहा कि भाजपा सरकार बनने से पहले वे आज कल गर्मी स्टोर रहे हैं। उन्होंने कहा, “योगी जी ने कहा है कि गर्मी निकाल दूँगा, इसलिए मैं गर्मी स्टोर कर रहा हूँ।”

लेकर राना का आरोप है कि मतदाता सूची में उनका नाम नहीं है, इसलिए वे घर बैठे हैं। राना का कहना है कि उन्होंने वोट के लिए स्थानयी सभासद से पर्ची माँगी तो उनका नाम वोटर लिस्ट में नहीं है। नाम नहीं होने के कारण वो वोट नहीं डाल पाए। मुनव्वर लखनऊ के कैंट विधानसभा सीट के मतदाता हैं और लालकुआँ के शशिभूषण स्कूल में उनका पोलिंग बूथ है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश में 9 जिलों की 59 सीटों पर विधानसभा चौथे चरण का मतदान जारी है। इस चरण चरण में पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, लखनऊ, बाँदा और फतेहपुर जिलों में मतदान जारी है। इस चरण में राना का विधानसभा क्षेत्र भी शामिल है।

इसके पहले मुनव्वर राना ने कहा था कि यदि प्रदेश में दोबारा योगी सरकार बनती है तो वह पलायन कर जाएँगे। उन्होंने कहा था, “मैं पहले ही कह चुका हूँ कि अगर योगी आएगा तो मैं पलायन कर दूँगा। इस बात को स्पष्ट तौर पर नोट कर लिया जाए।” उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के कारण मुस्लिमों में इतना खौफ है कि कोई बोल नहीं रहा है। उन्होंने कहा, “मुस्लिमों ने अपने घरों में छुरी रखना तक बंद कर दिया कि पता नहीं योगी उनको बंद करवा दे।”

गौरतलब है कि मुनव्वर राना की बेटी उरूशा इमरान राना उन्नाव की पुरवा विधानसभा से कॉन्ग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं। वो भी अपने पिता के समर्थन में बयान देती रहती हैं। उन्होंने अपने पिता के पलायन करने वाले बयान पर कहा था, “मेरे पापा नहीं योगी आदित्यनाथ प्रदेश से पलायन करेंगे।”

मुनव्वर राना अपने कट्टरपंथी बयानों के लिए भी अक्सर चर्चा में रहते हैं। उन्होंने इस्लामिक आतंकी संगठन तालिबान को स्वतंत्रता सेनानी कहा था। वहीं, महर्षि वाल्मिकी को डाकू कहा था। मुनव्वर ने तालिबान के साथ वाल्मिकी की तुलना की थी। इस बयान के बाद उनके खिलाफ कई एफआईआर हुई थी। ‘न्यूज नेशन’ चैनल पर दीपक चौरसिया से बात करते हुए मुनव्वर राना ने कहा कि दो बड़े दुश्मनों को, जो रूस और अमेरिका से ज़िंदगी भर लड़े हों, तो उन पर कितने जुल्म हुए होंगे इसका भी हिसाब निकाला जाना चाहिए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -