Monday, July 15, 2024
Homeराजनीतिजब नवाज़ शरीफ ने मनमोहन सिंह को कहा था 'देहाती औरत', नरेंद्र मोदी ने...

जब नवाज़ शरीफ ने मनमोहन सिंह को कहा था ‘देहाती औरत’, नरेंद्र मोदी ने लगाई थी फटकार: सवालों में बिलावल पर राहुल गाँधी की चुप्पी

"साल 2013 में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को देहाती औरत कहा था। तब भाजपा ने पूरे देश में इसका विरोध किया था और आज वह दो टके का बिलावल भुट्टो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपशब्द कह रहा है और कॉन्ग्रेस सेलिब्रेट कर रही है।"

, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने विवादित टिप्पणी की है। उसकी इस टिप्पणी को लेकर विदेश मंत्रालय से लेकर सत्ताधारी भाजपा ने करारा जवाब दिया है। यही नहीं, भाजपा देश भर में भुट्टो के खिलाफ प्रदर्शन करती नजर आ रही है। हालाँकि, मुख्य विपक्षी दल कॉन्ग्रेस समेत अन्य पार्टियाँ चुप्पी साधे हुए हैं। हाँ, काफी विरोध के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ‘डैमेज कंट्रोल’ बयान ज़रूर आया।

ऐसे में, भाजपा नेताओं समेत अन्य लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान को याद दिला रहे हैं जिसमें उन्होंने तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा मनमोहन सिंह को ‘देहाती औरत’ कहने पर जमकर लताड़ लगाई थी। नरेंद्र मोदी के बयान वाला यह वीडियो तब का है जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे। सितंबर 2013 में एक इंटरव्यू के दौरान, तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने तब के भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को ‘देहाती औरत’ कह दिया था।

नवाज शरीफ का यह इंटरव्यू सामने आने के बाद, नरेंद्र मोदी ने नवाज शरीफ को जमकर तलाड़ा था। यही नहीं, उन्होंने शरीफ के सामने बैठे भारतीय पत्रकारों को भी खरी-खोटी सुनाई थी।

दरअसल, 29 सितंबर 2013 को दिल्ली के जापानी पार्क में एक रैली का आयोजन किया गया था। इस रैली में मोदी ने नवाज शरीफ के इंटरव्यू के जिक्र करते हुए कहा था, “कल पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री ने हिंदुस्‍तान और पाकिस्‍तान के कुछ पत्रकारों को नाश्‍ते पर बुलाया था। नवाज शरीफ ने कहा, हिंदुस्‍तान के प्रधानमंत्री ‘देहाती औरत’ जैसे हैं। भाइयों और बहनों, हिंदुस्‍तान में मेरे प्रधानमंत्री से हम लड़ेंगे। नीतियों के लिए झगड़ा करेंगे, लेकिन वो 125 करोड़ के देश के प्रधानमंत्री हैं। नवाज शरीफ, ये आपकी कौन सी औकात है? आप मेरे देश के प्रधानमंत्री को देहाती औरत कह कर संबोधित करते हो।”

मोदी ने भारतीय पत्रकारों को फटकार लगाते हुए कहा था, “मुझे नहीं पता वो कौन से पत्रकार थे। मैं उन पत्रकारों से पूछना चाहता हूँ मेरे देश के जो पत्रकार नवाज शरीफ के साथ बैठकर मिठाई खा रहे थे। मुझे और देश को उन भारतीय पत्रकारों से उम्मीद थी कि जब शरीफ हमारे प्रधानमंत्री को भला-बुरा कह रहे थे, गालियाँ दे रहे थे, देहाती औरत कहकर उनका अपमान कर रहे थे तब पत्रकार मिठाई ठुकरा देते और वहाँ से बाहर आ जाते।” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पूरा बयान (40वें मिनट से) यहाँ देखा जा सकता है।

भाजपा नेता और सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उक्त बयान के वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, “बिलावल भुट्टो ने प्रधानमंत्री मोदी जी पर टिप्पणी की तो कॉन्ग्रेस खामोश हो गयी। लेकिन एक दौर वो भी था जब पाकिस्तान के पूर्व PM नवाज शरीफ ने हमारे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी को अपशब्द कहे थे। तब, प्रधानमंत्री मोदी जी ने UPA सरकार के साथ पूरी एकजुटता दिखाई थी और पाकिस्तान की आलोचना की थी। अंतर स्पष्ट है।”

भाजपा विधायक मेघना साकोरे बोर्डिकर ने बिलावल भुट्टो ल साथ सोनिया गाँधी की तस्वीर ट्वीट करते हुए कहा है, “एक दौर ऐसा भी था जब पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को ‘देहाती औरत’ कहा था। वो नरेंद्र मोदी जी ही थे, जिन्होंने सबसे पहले सामने आ कर पाकिस्तानी पीएम को करारा जवाब दिया था। भुट्टो के साथ सोनिया गाँधी की यह तस्वीर काफी कुछ कहती है।”

आम लोगों ने भी दी प्रतिक्रिया:

‘अक्खड़’ बनारसी’ नामक ट्विटर यूजर ने कहा, “साल 2013 में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को देहाती औरत कहा था। तब भाजपा ने पूरे देश में इसका विरोध किया था और आज वह दो टके का बिलावल भुट्टो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपशब्द कह रहा है और कॉन्ग्रेस सेलिब्रेट कर रही है।”

हिंदू स्पीकर मैडम नामक यूजर ने लिखा, “आज चाइना से संघर्ष के बीच राहुल गाँधी जब सेना का मनोबल गिरा रहे हैं और देश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। तब, कॉन्ग्रेस को याद दिला दें कि जब पाकिस्तानी पीएम ने भारत के तत्कालीन पीएम को ‘देहाती औरत’ कहा था तब मोदीजी मनमोहन सिंह और देश के लिए क्या बोले थे ये देखिए। इसे कहते है असली देशभक्त।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -