Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअब कनाडा बॉर्डर के पास आसमान में उड़ रहा था फ्लाइंग ऑब्जेक्ट, अमेरिकी वायुसेना...

अब कनाडा बॉर्डर के पास आसमान में उड़ रहा था फ्लाइंग ऑब्जेक्ट, अमेरिकी वायुसेना ने मार गिराया: इससे पहले चीनी गुब्बारों को किया था नष्ट

बीते दिनों चीन ने भारत और जापान सहित कई देशों को निशाना बनाते हुए जासूसी गुब्बारों को हवा में छोड़ा था। अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि 4 फरवरी 2023 को अमेरिका की सेना ने अटलांटिक महासागर के ऊपर दक्षिण कैरोलिना के तट के ऊपर उड़ रहे इन गुब्बारों को मिसाइल के जरिए नष्ट कर दिया था।

अमेरिका के आसमान में फ्लाइंग ऑब्जेक्ट के दिखने का सिलसिला जारी है। अमेरिका वायुसेना ने एक ऐसे ही फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को रविवार (12 फरवरी 2023) को मार गिराया। यह कनाडा की सीमा के पास हूरोन झील के ऊपर उड़ रहा था।

यह दिखने में गुब्बारे की तरह था। एक हफ्ते में अमेरिकी मिसाइल ने उत्तरी अमेरिका के ऊपर उड़ने वाली चौथी वस्तु को नष्ट किया है। हाल ही में चीन के जासूसी गुब्बारों को नष्ट करने के बाद से उत्तरी अमेरिकी के सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका की तरह कनाडा सीमा के पास आसमान में उड़ती हुई वस्तु के दिखाई देने के बाद पीएम जस्टिन ट्रूडो ने अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन से बात की, जिसके बाद इसे अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने मार गिराया।

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल पैट राइडर ने इसकी जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति जो बाइडन के आदेश के बाद एक F-16 लड़ाकू विमान ने रविवार दोपहर 2:42 बजे (स्थानीय समय) हूरोन झील के ऊपर अमेरिकी हवाई क्षेत्र में लगभग 20,000 फीट (6,100 मीटर) की ऊँचाई पर उड़ रही वस्तु को ‘एआईएम9एक्स’ से नष्ट कर दिया।

पेंटागन के मुताबिक, इससे ​किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं था। लेकिन इससे देश की हवाई यात्रा प्रभावित हो सकती थी। यह सिर्फ 20,000 फीट ऊपर था। ऐसे में इसके जरिए हम पर निगरानी की आशंका थी। नाम न छापने की शर्त पर एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि यह वस्तु अष्टकोणीय प्रतीत होती है, जिसमें तार लटके हुए थे, लेकिन यह कोई पेलोड नहीं था।

गौरतलब है कि बीते दिनों चीन ने भारत और जापान सहित कई देशों को निशाना बनाते हुए जासूसी गुब्बारों को हवा में छोड़ा था। अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि 4 फरवरी 2023 को अमेरिका की सेना ने अटलांटिक महासागर के ऊपर दक्षिण कैरोलिना के तट के ऊपर उड़ रहे इन गुब्बारों को मिसाइल के जरिए नष्ट कर दिया था।

अमेरिका की उप-विदेश मंत्री वेंडी शर्मन ने 6 फरवरी 2023 को करीब 40 दूतावासों के अधिकारियों को इस जानकारी से अवगत कराया। इसमें भारत समेत अन्य सभी सहयोगी और मित्र देश शामिल थे। ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ ने 7 फरवरी 2023 को दावा करते हुए कहा था कि चीन ने गुब्बारे के जरिए निगरानी अभियान के तहत जापान, भारत, वियतनाम, ताइवान और फिलीपीन समेत कई देशों की सैन्य संपत्तियों संबंधी जानकारी एकत्रित की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब तक 39 मौतें, स्कूल-कॉलेज-इंटरनेट बंद, सरकारी मीडिया के मुख्यालय पर हमला: ‘आरक्षण’ की आग में जल रहा बांग्लादेश, भारत ने जारी की एडवाइजरी

भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आरक्षण को लेकर हो रहे प्रदर्शन हिंसक होता जा रहा है। इस प्रदर्शन में अब तक 39 मौतें हो चुकी हैं।

फ्लाइट में साथ बैठे थे, पूछा मूवी देखती हो, दिखाने लगे पोर्न… जिंदल स्टील के CEO पर महिला यात्री ने लगाया इल्जाम, कहा- मुझे...

अनन्या छौछरिया नाम की महिला ने जिंदल स्टील के सीईओ दिनेश सारोगी के ऊपर यौन उत्पीड़न का इल्जाम लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -