Wednesday, September 22, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय24 घंटे में 572 तालिबानी आतंकी ढेर, 300 से ज्यादा घायल: अफगानिस्तान में अमेरिका...

24 घंटे में 572 तालिबानी आतंकी ढेर, 300 से ज्यादा घायल: अफगानिस्तान में अमेरिका की मदद से बड़ा हवाई हमला

''नंगरहार, लगमन, गजनी, पक्तिका, कंधार, उरुजगन, हेरात, फराह, जोजजान, सर-ए पोल, फरयाब, हेलमंद, निमरुज, तखर, कुंदुज, बदख्शां और कपिसा प्रांत में पिछले 24 घंटों के दौरान में अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा एवं सुरक्षा बल एएनडीएसएफ के अभियानों में 572 आतंकवादी मारे गए और 309 अन्य घायल हो गए।"

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिक वापस लौट गए हैं। इसके बावजूद अमेरिका लगातार अफगान सेना की मदद कर रहा है। इसी बीच अफगानी सेना के जवानों को बड़ी कामयाबी मिली है। उन्होंने पिछले 24 घंटों के दौरान 572 आतंकवादियों को मार गिराया और 309 अन्य को घायल कर दिया है। अफगानिस्तानी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता फवाद अमान ने रविवार (8 अगस्त) को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। अमान ने ट्वीट किया, ”नंगरहार, लगमन, गजनी, पक्तिया, पक्तिका, कंधार, उरुजगन, हेरात, फराह, जोजजान, सर-ए पोल, फरयाब, हेलमंद, निमरुज, तखर, कुंदुज, बदख्शां और कपिसा प्रांत में पिछले 24 घंटों के दौरान में अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा एवं सुरक्षा बल एएनडीएसएफ के अभियानों में 572 आतंकवादी मारे गए और 309 अन्य घायल हो गए।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका के बी-52 बमवर्षक विमानों ने शनिवार (7 अगस्त) को अफगानिस्तान के जवज्जान प्रांत की राजधानी शेबरगन में आतंकवादी संगठन तालिबान के ठिकानों पर हवाई हमले किए थे। बताया जा रहा है कि इस हमले में 200 से अधिक तालिबानी आतंकी ढेर हो गए थे।

फवाद अमान ने शनिवार देर रात ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी। उन्होंने ट्वीट किया, ”अमेरिकी बमवर्षक विमानों ने आज शाम जवज्जान प्रांत की राजधानी शेबरगन में तालिबानी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की, जिसमें 200 से अधिक आतंकी मारे गए।” उन्होंने बताया कि हवाई हमले में बड़ी मात्रा में आतंकवादियों के हथियार, गोला-बारूद और 100 से अधिक वाहन नष्ट हो गए हैं।

अमान ने अफगानिस्तानी जवानों के आज कई वीडियो शेयर किए हैं। अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद से एएनडीएसएफ और तालिबानी आतंकवादियों के बीच संघर्ष बढ़ गया है।

गौरतलब है कि तालिबान ने शनिवार को घोषणा की थी कि उसने दक्षिण-पश्चिमी प्रांत निमरूज और उत्तरी प्रांत जवज्जान पर कब्जा कर लिया है। निमरूज की राजधानी जरंज वर्ष 2016 के बाद पहला ऐसा प्रांतीय केंद्र बन गई है, जिस पर तालिबान ने कब्जा किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

60 साल में भारत में 5 गुना हुए मुस्लिम, आज भी बच्चे पैदा करने की रफ्तार सबसे तेज: अमेरिकी थिंक टैंक ने भी किया...

अध्ययन के अनुसार 1951 से 2011 के बीच भारत की आबादी तिगुनी हुई। लेकिन इसी दौरान मुस्लिमों की आबादी 5 गुना हो गई।

मुर्गा काटने वाले औजार से हमला, ब्रजेंद्र दुबे की मेमरी लॉस, भाई विवेक का चल रहा इलाज: फिरोज, अफरोज समेत 5 आरोपित

मध्य प्रदेश में रीवा में मुस्लिम भीड़ के हमले में घायल ब्रजेंद्र का दिमागी संतुलन बिगड़ गया है। वो कभी-कभी लोगों को पहचान नहीं पाते हैं। उनके भाई विवेक को...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,707FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe