Tuesday, April 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय24 घंटे में 572 तालिबानी आतंकी ढेर, 300 से ज्यादा घायल: अफगानिस्तान में अमेरिका...

24 घंटे में 572 तालिबानी आतंकी ढेर, 300 से ज्यादा घायल: अफगानिस्तान में अमेरिका की मदद से बड़ा हवाई हमला

''नंगरहार, लगमन, गजनी, पक्तिका, कंधार, उरुजगन, हेरात, फराह, जोजजान, सर-ए पोल, फरयाब, हेलमंद, निमरुज, तखर, कुंदुज, बदख्शां और कपिसा प्रांत में पिछले 24 घंटों के दौरान में अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा एवं सुरक्षा बल एएनडीएसएफ के अभियानों में 572 आतंकवादी मारे गए और 309 अन्य घायल हो गए।"

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिक वापस लौट गए हैं। इसके बावजूद अमेरिका लगातार अफगान सेना की मदद कर रहा है। इसी बीच अफगानी सेना के जवानों को बड़ी कामयाबी मिली है। उन्होंने पिछले 24 घंटों के दौरान 572 आतंकवादियों को मार गिराया और 309 अन्य को घायल कर दिया है। अफगानिस्तानी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता फवाद अमान ने रविवार (8 अगस्त) को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। अमान ने ट्वीट किया, ”नंगरहार, लगमन, गजनी, पक्तिया, पक्तिका, कंधार, उरुजगन, हेरात, फराह, जोजजान, सर-ए पोल, फरयाब, हेलमंद, निमरुज, तखर, कुंदुज, बदख्शां और कपिसा प्रांत में पिछले 24 घंटों के दौरान में अफगानिस्तान राष्ट्रीय रक्षा एवं सुरक्षा बल एएनडीएसएफ के अभियानों में 572 आतंकवादी मारे गए और 309 अन्य घायल हो गए।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका के बी-52 बमवर्षक विमानों ने शनिवार (7 अगस्त) को अफगानिस्तान के जवज्जान प्रांत की राजधानी शेबरगन में आतंकवादी संगठन तालिबान के ठिकानों पर हवाई हमले किए थे। बताया जा रहा है कि इस हमले में 200 से अधिक तालिबानी आतंकी ढेर हो गए थे।

फवाद अमान ने शनिवार देर रात ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी। उन्होंने ट्वीट किया, ”अमेरिकी बमवर्षक विमानों ने आज शाम जवज्जान प्रांत की राजधानी शेबरगन में तालिबानी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की, जिसमें 200 से अधिक आतंकी मारे गए।” उन्होंने बताया कि हवाई हमले में बड़ी मात्रा में आतंकवादियों के हथियार, गोला-बारूद और 100 से अधिक वाहन नष्ट हो गए हैं।

अमान ने अफगानिस्तानी जवानों के आज कई वीडियो शेयर किए हैं। अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद से एएनडीएसएफ और तालिबानी आतंकवादियों के बीच संघर्ष बढ़ गया है।

गौरतलब है कि तालिबान ने शनिवार को घोषणा की थी कि उसने दक्षिण-पश्चिमी प्रांत निमरूज और उत्तरी प्रांत जवज्जान पर कब्जा कर लिया है। निमरूज की राजधानी जरंज वर्ष 2016 के बाद पहला ऐसा प्रांतीय केंद्र बन गई है, जिस पर तालिबान ने कब्जा किया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अरविंद केजरीवाल नं 1, दिल्ली CM की बीवी सुनीता नं 2… AAP की स्टार प्रचारकों की लिस्ट जिसने देखी वही हैरान, पूछ रहे- आत्मा...

आम आदमी पार्टी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट में तिहाड़ जेल में ही बंद मनीष सिसोदिया का भी नाम है, तो हर जगह से जमानत खारिज करवाकर बैठे सत्येंद्र जैन का भी।

‘कन्हैया लाल तेली का क्या?’: ‘मुस्लिमों की मॉब लिंचिंग’ पर याचिका लेकर पहुँचा वकील निजाम पाशा तो सुप्रीम कोर्ट ने दागा सवाल, कहा –...

इस याचिका में अल्पसंख्यकों के खिलाफ मॉब लिंचिंग के अपराध बढ़ने का दावा करते हुए गोरक्षकों पर निशाना साधा गया था और तथाकथित पीड़ितों के लिए त्वरित वित्तीय मदद की व्यवस्था की माँग की गई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe