Saturday, July 20, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'डोरोन' बन इजरायल के दुश्मनों का किया सफाया, अब हमास आतंकियों से लोगों को...

‘डोरोन’ बन इजरायल के दुश्मनों का किया सफाया, अब हमास आतंकियों से लोगों को बचाने के मिशन पर निकले: ‘फौदा’ एक्टर ने ज्वाइन किया ‘ब्रदर्स इन आर्म्स’

'फौदा' एक्टर लियोर रज को बमबारी में फँसे परिवारों को सुरक्षित निकालने के लिए इजरायल के दक्षिणी शहर सेडरॉट में भेजा गया है। इस दौरान रॉकेट हमले से बचने के लिए दीवार के पीछे शरण लेने का उन्होंने वीडियो भी शेयर किया है।

क्या नेता, क्या अभिनेता… इस्लामी आतंकी संगठन हमास के बर्बर हमलों के बाद इजरायल में हर कोई मोर्चे पर जुट गया है। देश के लिए लड़ने और देशवासियों को बचाने के मिशन में खुद को झोंक दिया है। इसी कड़ी में मशहूर टीवी सीरिज ‘फौदा’ के एक्टर लियोर रज (Fauda actor Lior Raz) ने वॉलंटियर ग्रुप ‘ब्रदर्स इन आर्म्स’ को ज्वाइन किया है।

इजरायल के दक्षिणी शहर सेडरॉट से एक्टर ने एक वीडियो शेयर किया है। इसमें वे इजरायल डेमोक्रेसी इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष योहानन प्लेस्नर और पत्रकार एवी यिस्सचारोव के साथ दिख रहे हैं।

वीडियो शेयर करते हुए लियोर रज ने लिखा है, “लोगों को बचाने के लिए मैं ‘ब्रदर्स इन आर्म्स’ वॉलंटियर ग्रुप में शामिल होकर दक्षिण की तरफ निकला हूँ। हमें दो परिवारों को निकालने के लिए बमबारी वाले शहर सेडरॉट भेजा गया है।” वीडियो में एक्टर को एक रॉकेट हमले से बचने के लिए दीवार के पीछे शरण लेते हुए भी देखा जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि ‘फौदा’ एक मशहूर वेबसीरिज है। यह इजरायली सेना के अंडरकवर कमांडो पर आधारित है। इसमें लियोर रज ने डेरोन का किरदार निभाया है। सीरिज में वे इजरायल के दुश्मनों का सफाया करते नजर आते हैं।

गौरतलब है कि इजरायल ने हमास के हमलों के बाद तीन लाख रिजर्व सैनिकों को मोर्चे पर लगाया है। रिजर्व ड्यूटी में ऐसे इजरायली नागरिकों को लगाया जाता है जो अपनी सैन्य सेवा पूरी कर चुके हैं। इजरायल में सैन्य सेवा सबके लिए अनिवार्य है। इससे पहले इजरायल के पूर्व प्रधानमंत्री नेफ्ताली बेनेट का एक वीडियो सामने आया था जिसमें उन्हें अपनी बटालियन के साथ देखा गया था।

हमास के आतंकियों ने 7 अक्टूबर 2023 को इजरायल पर अचानक हमला किया था। इन हमलों में 900 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 2600 से अधिक लोग घायल हैं। जवाबी कार्रवाई करते हुए इजरायली सुरक्षा बलों ने गाजा के भीतर 1200 से ज्यादा ठिकानों पर हवाई हमले किए हैं। इन हमलों में लगभग 600 फिलीस्तीनी आतंकी मारे जा चुके हैं।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने एक टीवी संबोधन में कहा है, “हम युद्ध नहीं चाहते थे। हम पर जबरदस्ती बर्बर तरीके से जंग लादी गई। इजरायल ने यह जंग शुरू नहीं की है, लेकिन हम इसे खत्म जरूर करेंगे। हमास ने इजरायल पर हमला करके ऐतिहासिक भूल की है।” उन्होंने कहा, “एक समय था जब यहूदी लोगों के पास कोई देश नहीं था, वो खुद को बचा नहीं सकते थे। अब ऐसा नहीं है। अब हम हमास और इजरायल के अन्य दुश्मनों को ऐसा सबक सिखाएँगे जो कि वह दशकों तक नहीं भूलेंगे।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -