Sunday, July 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहिंदुत्व को आतंकवाद से जोड़ता था जो पाकिस्तानी पत्रकार, वो केन्या में मारा गया:...

हिंदुत्व को आतंकवाद से जोड़ता था जो पाकिस्तानी पत्रकार, वो केन्या में मारा गया: PM मोदी को बताता था हिटलर, बीवी ने कहा – मार दी गोली

एक वीडियो जिसमें पीएम मोदी को गाली देने के साथ खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं, उस पर अरशद शरीफ ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने फासीवादी हिंदुत्व की कट्टर नीतियाँ लाकर और अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन करके पीएम मोदी ने भारतीय समाज को दो हिस्सों में बाँट दिया है। सिख भी अब आजादी चाहते हैं।

पाकिस्तान के पत्रकार व टीवी एंकर अरशद शरीफ की केन्या की राजधानी में मौत हो गई। मीडिया में जहाँ पहले अरशद की मौत के पीछे दुर्घटना को कारण कहा गया। वहीं दूसरी ओर उनकी पत्नी जावेरिया सिद्दीकी का कहना है कि उन्हें गोली मारी गई है।

जावेरिया ने लिखा, “मैंने दोस्त खोया, पति खोया और अपना पसंदीदा पत्रकार खोया। पुलिस के अनुसार उन्हें गोली मारी गई। हमारी निजता की इज्जत करें और कृपा करके ब्रेकिंग के नाम पर हमारे परिजनों की या पर्सनल डिटेल या अरशद की आखिरी तस्वीरें न साझा करें।”

बता दें कि अरशद शरीफ पूर्व में एआरवाई न्यूज से जुड़े हुए थे और बाद में वह दुबई चले गए थे। वह पाकिस्तान के बेहद मशहूर पत्रकारों में से एक थे। उनके ऊपर देशद्रोह का मुकदमा भी था। इसके अलावा भारत में वह हिंदूविरोधी और मोदी विरोधी होने के लिए जाने जाते थे।

नीचे देख सकते हैं कि कैसे अरशद दिल्ली हिंदू विरोधी दंगों के समय हिंदूघृणा फैलाने में लगे हुए थे।

उन्होंने अपने ट्वीट में खासकर आरएसएस भाजपा और हिंदुत्व जैसे शब्दों का प्रयोग किया हुआ है। इसके अलावा ये भी कह रखा है कि दिल्ली के दंगों में मुस्लिमों के मस्जिद जलाए जा रहे हैं और साथ में मुस्लिम औरतों का रेप हो रहा है।

एक वीडियो जिसमें पीएम मोदी को गाली देने के साथ खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं, उस पर अरशद शरीफ ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने फासीवादी हिंदुत्व की कट्टर नीतियाँ लाकर और अल्पसंख्यकों के अधिकारों का हनन करके पीएम मोदी ने भारतीय समाज को दो हिस्सों में बाँट दिया है। सिख भी अब आजादी चाहते हैं।

अगले ट्वीट में अरशद ने चेतावनी का साइन बनाते हुए कि मोदी अपनी हिंदुत्व की नीतियों के साथ दक्षिण एशिया के एक नए हिटलर के तौर पर उभर रहा है। ईसाइयों, पारसियों, यहूदियों, सिखों और मुस्लिमों के लिए भाजपा में कोई जगह नहीं है।

देख सकते हैं कि अरशद शरीफ ने भारत के खिलाफ समय-समय पर झूठ फैलाया। कभी कहा कि भारत में मुस्लिमों की नागरिकता खतरे में है। कभी कहा कि दक्षिणपंथी मोदी सरकार के वफादारा, कट्टरपंथी धार्मिक संगठन मुस्लिमों को धमका रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि शरीफ के ऊपर पाकिस्तान में एक विवादित इंटव्यू के बाद देशद्रोह का केस दर्ज हो रखे थे। इसके बाद शरीफ ने देश छोड़ दिया था। वहीं एआरआई न्यूज ने भी उनसे दूरी बना ली थीं। संस्थान ने कहा था कि वो अपने कर्मचारियों से सीमा में रहने की अपेक्षा करते हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -