Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय5 अगस्त के बाद अब 15 अगस्त को भी टाइम्स स्क्वायर पर दिखेगी भारत...

5 अगस्त के बाद अब 15 अगस्त को भी टाइम्स स्क्वायर पर दिखेगी भारत की छवि: स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार नजर आएगा तिरंगा

15 अगस्त के मौके पर पहली बार तिरंगा टाइम्स स्क्वायर पर नजर आने वाला है। इसकी पुष्टि स्वयं न्यूयॉर्क, न्यू जर्सी और कनेक्टिकट के फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन (FIA) की ओर से जारी बयान में की गई हैं।

राम मंदिर भूमिपूजन के बाद एक बार दोबारा वह अवसर आया है जब भारत की छवि फिर अमेरिका की प्रसिद्ध इमारत टाइम्स स्क्वायर पर नजर आएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 15 अगस्त के मौके पर पहली बार तिरंगा टाइम्स स्क्वायर पर नजर आने वाला है। इसकी पुष्टि स्वयं न्यूयॉर्क, न्यू जर्सी और कनेक्टिकट के फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन (FIA) की ओर से जारी बयान में की गई हैं।

इस बयान में कहा गया है कि इस बेहद खास मौके पर भारत के महावाणिज्य दूत रणधीर जायसवाल विश‍िष्‍ट अतिथि होंगे।

गौरतलब है कि यह पहली बार होगा जब भारत का राष्ट्रीय ध्वज इस इमारत पर लहराता दिखेगा। अमेरिका के मैनहट्टन में भी भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने के लिए विशेष कार्यक्रम रखा गया है।

ज्ञात हो कि इस वर्ष FIA के लिए स्वतंत्रता दिवस एक गौरवशाली पल है। दरअसल, FIA इस साल अपनी गोल्डन जुबली मना रहा है। इसकी स्थापना 1970 में हुई थी और आज यह भारतीय समुदाय की सबसे बड़ी संस्थाओं में से एक है।

1981 से लेकर अब तक FIA हर साल इंडियन डे परेड आयोजित करता आया है। इस परेड में भारत का गौरवशाली इतिहास दुनिया के सामने प्रदर्शित किया जाता है।

जानकारी के मुताबिक 15 अगस्त को होने जा रहे इस समारोह को डंकिन डोनट्स द्वारा स्पांसर किया जाएगा। इसके अलावा न्यूयॉर्क सिटी के मेयर बिल डे ब्लासियो और उनके पूरे स्टाफ के साथ-साथ न्यूयॉर्क पुलिस के द्वारा भी इस कार्यक्रम को सपोर्ट किया जा रहा है।

बता दें, इससे पहले 5 अगस्त को भूमिपूजन के अवसर पर राम मंदिर की तस्वीर और भगवान श्री राम की तस्वीर को टाइम्स स्क्वायर पर दिखाने का ऐलान हुआ था।

हालाँकि संप्रदाय विशेष के विरोध के बाद एक कंपनी ने ऐसा करने से मना कर दिया। जिससे आतिश तासिर समेत कई कट्टरपंथियों में खुशी की लहर दौड़ गई। लेकिन भूमिपूजन के बाद जब टाइम्स स्क्वायर पर राम मंदिर की तस्वीर नजर आई तो वहाँ का पूरा माहौल राममय हुआ दिखा।

इसी दिन वाशिंगटन डीसी में भारतीय समुदाय के लोग पारंपरिक कपड़ों में जश्न मनाते दिखे थे। यहाँ तक कि US कैपिटोल हिल से व्हाइट हाउस तक रथयात्रा भी निकाली गई थी। वहीं, कैलिफोर्निया, वॉशिंगटन, टेक्सस और फ्लोरिडा के मंदिरों में भी विशेष आयोजन किए गए थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,137FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe